mp mirror logo

66 वस्तुओं पर जीएसटी घटाई गई, क्या हुआ सस्ता

नई दिल्ली:  माल एवं सेवा कर (जीएसटी) पर केंद्र तथा राज्यों के अधिकार प्राप्त मंच ने विभिन्न उद्योगों की मांग पर 66 तरह की वस्तुओं और मदों पर पहले निर्धारित कर की दरों में संशोधन कर उन्हें कम रखने का निर्णय किया. इन मदों में अचार, मुरब्बा और मस्टर्ड सॉस जैसे खाने के उत्पाद तथा 100 रुपये मूल्य तक के सिनेमा टिकट शामिल हैं. इसके साथ ही परिषद ने छोटे उत्पादकों, व्यापारियों और रेस्तरां परिचालकों को राहत देते हुए 75 लाख रपये सालाना तक कारोबार करने वाले कारोबारियों को कंपोजिशन (एकमुश्त कर) योजना की सुविधा प्रदान की है. जीएसटी पहली जुलाई से लागू करने का लक्ष्य है.

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) परिषद की यहां रविवार को हुई 16वीं बैठक में 133 वस्तुओं में से उन 66 पर जीएसटी दरें घटा दी गईं, जिनके लिए अप्रत्यक्ष कर संचरना के चार स्लैब में मूल रूप से निर्धारित ढाचे में बदलाव के लिए सिफारिशें प्राप्त हुई थीं. उद्योग जगत ने जीएसटी परिषद के नवीनतम फैसले का स्वागत किया, क्योंकि यह खास तौर से सूक्ष्म एवं मध्यम उद्यमों के लिए फायदेमंद है. 

सिफारिशों पर रविवार को परिषद में चर्चा हुई

इस महीने की शुरुआत में परिषद की 15वीं बैठक में श्रीनगर में 1,211 वस्तुओं पर फैसला किया गया था. इसके बाद सोना व बीड़ी सहित छह बाकी बची वस्तुओं पर फैसला लेने के लिए इसे आयोजित किया गया था. परिषद के प्रमुख, केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा कि अधिकारियों की समिति जरूरत पड़ने पर विभन्न व्यापार और उद्योग संघों से प्राप्त सिफारिशों के आधार पर दर समायोजन की जांच करेगी. उनकी सिफारिशों पर रविवार को परिषद में चर्चा हुई है.

जेटली ने बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा, "प्राप्त 133 सिफारिशों पर विचार किया गया और अधिकारियों की समिति ने अपनी सिफारिशें दी. परिषद ने 133 वस्तुओं में से 66 पर कर घटा दिया है." मंत्री ने स्पष्ट किया कि दो उद्देश्यों को ध्यान में रखकर दर घटाने पर विचार किया गया. उन्होंने कहा, "मौजूदा करों को एक समान बनाए रखना था और कुछ दूसरे मामलों में इस निर्धारण ने समानता के सिद्धांत का उल्लंघन किया था. अन्य में इस कमी की जरूरत अर्थव्यवस्था की बदलती प्रकृति और उपभोक्ता की बदलती वरीयता के कारण पैदा बदलावों के कारण पड़ी."
क्या होगा सस्ता

कुछ कटौती की व्याख्या करते हुए जेटली ने कहा कि काजू पर कर घटाकर उसे 12 से पांच फीसदी कर दिया गया है. भोजन एवं सब्जी उत्पाद जैसे पैकिंग वाले खाद्य पदार्थो यानी अचार, चटनी, केचप और इंस्टैंट भोजन मिश्रणों पर ऐतिहासिक रूप से रहे 18 फीसदी कर को घटाकर 12 फीसदी कर दिया गया, क्योंकि इन वस्तुओं का आम आदमी उपयोग करता है. कटलरी पर कर 18 से घटकर 12 फीसदी हो जाएगा, जबकि कंप्यूटर प्रिंटर्स पर भी कर 28 से कम होकर 18 फीसदी हो जाएगा. इंसुलीन और अगरबत्ती पर कर घटकर 12 से पांच फीसदी होगा. जेटली ने कहा कि दूसरी वस्तुओं में स्कूल बैग पर कर 28 से घटकर 18 फीसदी हो जाएगा, जबकि अभ्यास पुस्तिका पर 18 फीसदी से कम होकर 12 फीसदी होगा.

जीएसटी के तहत सभी वस्तुओं एवं सेवाओं को चार कर स्लैब की श्रेणी में रखा गया 

जीएसटी व्यवस्था के तहत सभी वस्तुओं एवं सेवाओं को चार कर स्लैब 5,12,18 और 28 फीसदी की श्रेणी में रखा गया है. इसमें कर विहीन वस्तुओं को शामिल नहीं किया गया है. जेटली ने कहा कि मनोरंजन कर पर फिल्म उद्योग के आग्रह के बाद जीएसटी परिषद ने दो स्लैब संरचना वाले सिनेमा टिकट का फैसला किया है. 100 रुपये से कम कीमत वाले टिकट पर 18 फीसदी कर होगा, जबकि इससे अधिक कीमत वाले टिकट पर 28 फीसदी कर लगेगा. हीरा, चमड़ा, वस्त्र, आभूषण और छपाई जैसे सेक्टर में आउटसोर्सिग के रोजगार को प्रोत्साहित करने के लिए जीसटी दर घटा कर पांच फीसदी किया गया है. जेटली ने कहा कि इसके अलावा 75 लाख रुपये तक के कारोबार वाले व्यापारी, विनिर्माता और रेस्तरॉ कंपोजीशन योजना का लाभ उठा सकते हैं, जबकि पहले यह योजना 50 लाख रुपये तक के कारोबार के लिए थी.

उन्होंने कहा कि लॉटरी और ई-वे बिल दो विशिष्ट मुद्दे हैं, जिन्हें परिषद की 18 जून को होने वाली अगली बैठक में उठाया जाएगा. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) शासित राज्य एक जुलाई से जीएसटी लागू करने के लिए तैयार हैं, जबकि पश्चिम बंगाल के वित्त मंत्री अमित मित्रा ने नई अप्रत्यक्ष कर व्यवस्था की व्यवहार्यता पर गंभीर संदेह जताया है और इसे एक महीने टालने का प्रस्ताव दिया है.

मित्रा ने परिषद की 16वीं बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा, "मैंने एक चेतावनी भी (जीएसटी परिषद की बैठक में) जोड़ी है कि एक जुलाई को काफी मुश्किल दिखता है. लेकिन आप दुनिया की सबसे बड़े वित्तीय सुधार जीएसटी के लिए किफायती नवाचार नहीं कर सकते. आप एक जुलाई से जीएसटी शुरू करने जा रहे हैं. इसलिए मेरा कहना है कि हम ऐसा कुछ करने के लिए किफायती नवाचार न करें, जो विश्व का सबसे बड़ा वित्तीय सुधार है."
जीएसटी के एक महीने या उसके बाद टालने में कोई नुकसान नहीं है

उन्होंने कहा कि जीएसटी के एक महीने या उसके बाद टालने में कोई नुकसान नहीं है. उन्होंने कहा, "यह एक बिंदु है, जिसे मैंने रिकॉर्ड में कहा है. जब भी हम पूरी तरह से तैयार हो व संतुष्ट हो, जब सभी सहज हो तो हम आगे बढ़ सके हैं." केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने दोहराया है कि व्यापारी और उद्योग के पास एक जुलाई तक तैयार रहने के सिवा कोई विकल्प नहीं है, क्योंकि कोई प्रक्रिया अधूरी नहीं है. यह पूछे जाने पर कि कुछ उद्योग के प्रतिनिधि इसे लागू करने के ज्यादा समय मांग रहे उन्होंने संवाददाताओं से कहा, "इसे लागू करने के तारीख के बावजूद कुछ लोग कहेंगे कि हम तैयार नहीं है. उनके पास तैयार होने के सिवाय कोई विकल्प नहीं है. आप को इसके लिए ईमानदारी की मंशा की जरूरत है." उद्योग एवं हितधारकों ने रविवार को जीएसटी परिषद के व्यापरियों, विनिर्माण व रेस्तरां के 75 लाख से नीचे के कारोबार को कंपोजिशन स्कीम के तहत लाने का स्वागत किया और कहा कि इससे देश में छोटे और मध्यम उद्यमों को बढ़ावा मिलेगा.

"मुख्य ख़बरें" से अन्य खबरें

सोमालिया में अब तक का सबसे बड़ा बम धमाका, 276 की मौत और 300 घायल

सोमालिया की राजधानी में हुए अभी तक के सबसे शक्तिशाली विस्फोट में 276 लोग मारे गए हैं और करीब 300 अन्य लोग घायल हो गए हैं। देश के सूचना मंत्री ने सोमवार को यह जानकारी दी। मृतकों की संख्या में अभी और बढ़ोतरी हो सकती है। एक ट्वीट में सोमालियाई नेता अब्दीरहमान उस्­मान ने हमले को बर्बर करार दिया है। उन्होंने बताया कि तुर्की और केन्या सहित कई देशों ने चिकित्सा सहायता की पेशकेश की है। विदेश मंत्रालय सहित महत्वपूर्ण मंत्रालयों के निकट व्यस्त चौराहे को निशाना बनाकर किए गए ट्रक बम विस्फोट के बाद अस्पतालों में भारी भीड़ लग गई है।

Read More

डोकलाम पर 'हार' से बौखलाया चीन, भारत के हाई स्पीड ट्रेन के सपनों पर लगाया अड़ंगा

नई दिल्ली: दक्षिण भारत में एक महत्वाकांक्षी उच्च गति ट्रेन परियोजना चीनी रेलवे की ओर से प्रतिक्रिया नहीं आने की वजह से अटकी पड़ी है. रेलवे अधिकारियों का कहना है कि "प्रतिक्रिया में कमी" का कारण डोकलाम विवाद हो सकता है. रेलवे की नौ उच्च गति परियोजनाओं की स्थिति पर मोबिलिटी निदेशालय की एक आंतरिक जानकारी मिली है. इससे पता चलता है कि 492 किलोमीटर लंबा चेन्नई-बेंगलुरु-मैसूर गलियारा अधर में लटका है, क्योंकि चीनी रेलवे ने मंत्रालय की ओर से भेजी गई शासकीय सूचना पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है. 

Read More

धनतेरस 2017: इस दिन जरूर खरीदें ये चीजें

नई दिल्ली: धनतेरस और दिवाली को लेकर लोगों ने तैयारियां शुरू कर दी है. इस बार धनतेरस 17 अक्टूबर को है तो वहीं दिवाली 19 अक्टूबर को मनाई जाएगी. धनतेरस पर खरीदारी करना शुभ माना जाता है. लेकिन इस दिन क्या खरीदना सबसे ज्यादा शुभ होता है, इसके बारे में शायद ही आपने पहले कभी सोचा होगा. तो चलिए आपकी मदद करते हुए हम आपको बताते हैं वो वस्तुएं जिन्हें खरीदकर आपके घर में धन और संपन्नता आएगा.

Read More

तीनों सेनाओं के कमान में दिवाली मनाएंगी रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण

नई दिल्ली: रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण अंडमान निकोबार द्वीप में स्थित सामरिक रूप से महत्वपूर्ण तीनों सेनाओं (थल, वायु एवं नौसेना) के कमान में सैन्यकर्मियों के साथ दिवाली मनाएंगी.

आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि निर्मला 24 और 25 अक्तूबर को फिलीपीन की यात्रा पर होंगी और खासकर समुद्री क्षेत्र में सैन्य सहयोग मजबूत करने के तरीके तलाशने के लिए इस दौरान वहां के वरिष्ठ नेताओं के साथ बातचीत करेंगी.

Read More

श्रीलंका: भारतीय महावाणिज्य दूतावास के सामने प्रदर्शन करने पर पूर्व राष्ट्रपति का बेटा गिरफ्तार

कोलंबो: श्रीलंका के पूर्व राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे के बड़े बेटे समेत दो सांसदों को हंबनटोटा में भारतीय महावाणिज्य दूतावास के बाहर प्रदर्शन करने पर गिरफ्तार किया गया है. वे एक हवाईअड्डे का प्रस्तावित पट्टा भारतीय कंपनी को दिए जाने के विरोध में प्रदर्शन कर रहे थे. संयुक्त विपक्ष के सदस्यों ने हंबनटोटा के मत्ताला महिंदा राजपक्षे अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे (एमआरआईए) को श्रीलंका सरकार द्वारा भारत को सौंपे जाने वाले समझौते के खिलाफ प्रदर्शन किया.

Read More

18 साल से कम उम्र की पत्‍नी के साथ शारीरिक संबंध बनाना ‘बलात्‍कार’ : सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने व्‍यवस्‍था दी है कि 18 वर्ष से कम उम्र की पत्‍नी के साथ शारीरिक संबंध बनाना बलात्‍कार की श्रेणी में आएगा। शीर्ष अदालत ने कहा कि 15-18 वर्ष की आयु की पत्‍नी से अगर पति सेक्‍स करता है तो इसे ‘बलात्‍कार’ माना जाएगा। अदालत ने यह भी कहा कि यौन संबंधों के लिए सहमति की न्‍यूनतम उम्र कम नहीं की जा सकती। बलात्‍कार की शिकायत एक साल के भीतर दर्ज करानी होगी। 

Read More

पटाखों पर बैन: नाराज त्रिपुरा गवर्नर का ट्वीट- अवॉर्ड वापसी गैंग चिता जलाने पर भी याचिका डाल दे

अगरतला: दिवाली पर होने वाली आतिशबाजी पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा रोक लगाए जाने के बाद त्रिपुरा के राज्यपाल तथागत रॉय ने अपनी नाराजगी जाहिर की है. उन्होंने ट्विटर के जरिए ‘मोमबत्ती और पुरस्कार वापसी गिरोह’ पर निशाना साधा और कहा कि वायुप्रदूषण के डर से हिंदूओं के दाह संस्कार पर भी अर्जी आ सकती है. मीडिया सूत्रों की मानें तो एक न्यूज चैनल से बातचीत के दौरान भी त्रिपुरा राज्यपाल ने इस मुद्दे पर अपनी नाराजगी जाहिर की थी. उन्होंने कहा था, वे एक हिंदू होने के नाते सुप्रीम कोर्ट के आदेश से खफा हैं.

Read More

चुनाव से पहले गुजरात की जनता को सरकार से मिला एक हफ्ते में दूसरा बड़ा तोहफा

कोई कह सकता है कि देश के जिस राज्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी का आना-जाना बढ़ जाए तो समझिए वहाँ चुनाव आने वाला है। कोई कह सकता है कि जब एक हफ्ते के अंदर एक राज्य पर केंद्र सरकार और राज्य सरकार खास मेहरबान नज़र आए तो समझिए वहाँ चुनाव आने वाला है। 

Read More

गोधरा ट्रेन आगजनी: 11 दोषियों की मौत की सजा उम्रकैद में बदली, अदालत ने कहा- थी राज्‍य सरकार की लापरवाही

गुजरात उच्च न्यायालय ने 2002 में हुए गोधरा ट्रेन आगजनी मामले में फांसी की सजा पाए 11 दोषियों की सजा को सोमवार को उम्रकैद में बदल दिया। गोधरा कांड में 59 कार सेवक मारे गए थे। मृत्युदंड की सजा पाने वाले 11 दोषियों ने फैसले को चुनौती देते हुए अपील दायर की थी। एसआईटी की एक विशेष अदालत ने एक मार्च 2011 को इस मामले में 31 लोगों को दोषी करार दिया था और 63 को बरी कर दिया था।

Read More

भारतीय सरकार ने यमन जाने पर प्रतिबंध लगाया, बताया- अपहरण, हत्‍या का खतरा

भारत सरकार ने नागरिकों के लिए यमन की यात्रा पर रोक लगा दी है। केरल के अपहृत कैथोलिक पादरी टॉम के सकुशल भारत वापस लौटने के बाद सरकार ने यह कदम उठाया है। टॉम केा 4 मार्च, 2016 को एक आतंकी हमले में अगवा कर लिया गया था। उन्हें 12 सितंबर, 2017 को आईएस के चंगुल से छुड़ाकर ओमान लाया गया था। 

Read More