mp mirror logo

पलटते ही जिंदा 11 लोगों के लिए ताबूत बनी ट्रॉली, 10 चिताएं देख रो पड़ा गांव

इंदौर.अमावस्या पर राजस्थान के सांवलियाजी मंदिर में दर्शन के लिए जा रहे श्रद्धालुओं की ट्रैक्टर-ट्रॉली पलटकर 5 फीट नीचे खाई में जा गिरी। इसमें 11 लोगों की मौत हो गई और 27 लोग घायल हो गए। हादसे में घायल ने बताया, मदद नहीं मिलती तो दम घुटने से हो जाती सबकी मौत…
-नीमच से 10 किमी दूर नयागांव रोड पर ट्रॉली पलटने के बाद रास्ते से गुजर रहे लोग अपना सारा काम छोड़ मदद के लिए दौड़े।
-घायलों को अस्पताल पहुंचाने में उन्होंने मदद की लेकिन जिला अस्पताल के डॉक्टर सूचना के बाद भी परिसर में बने अपने क्वाटर्स से समय पर बाहर नहीं आ सके।
-घायलों के अस्पताल पहुंचने के बाद ऐसे तीन डॉक्टरों को दोबारा कॉल किया गया उसके बाद वे उठकर मरीजों के पास आए।
-जिला अस्पताल में हादसे की सूचना के बाद भी घायलों को लेकर कोई तैयारी नजर नहीं आई।
-स्ट्रेचर की जगह मरीजों को बोरियों और चद्दरों की झोलियों में डालकर अस्पताल में दाखिल करवाया गया। मृतकों के शव बोरी में रखकर पुलिस के जवान मर्चुरी में ले जाकर रखे।
-मैं हर साल लोगों को अपने ट्रैक्टर से नि:शुल्क सांवलिया जी दर्शन कराने ले जाता हूं। ड्राइवर को कुछ काम था तो मैं ही तैयार हो गया।
-मैंने लोगों को बैठने में सुविधा हो और उन्हें गर्मी न लगे इसके लिए एक दिन पहले ही ट्रॉली में सुकला (गेहूं का भूसा) भर लिया था।
-गुरुवार सुबह 7 बजे गांव के सभी लोगों को लेकर रवाना हुआ। खाने का सामान हम अपने साथ ही ले जाते हैं। जब हम गांव से रवाना हुए तो लोगों में काफी उत्साह था। करीब 11 बजे नीमच पहुंचे।
-यहां देव दर्शन के बाद खाना खाया। दोपहर 12.30 बजे हम यहां से आगे के लिए रवाना हुए। ट्रैक्टर फोरलेन पर दौड़ रहा था।
-1 बजे हम कानका फंटे पर पहुंचे। फंटे पर मैंने एक साथ तीन स्पीड ब्रेकर देखे। ट्रॉली में 38 लोग बैठे थे। मुझे लगा जब गाड़ी इस पर चढ़ेगी तो लोगों को समस्या होगी।
-इसलिए मैंने रोड के किनारे से होते हुए ट्रैक्टर-ट्रॉली निकालने की कोशिश की लेकिन वह अनियंत्रित हो गई और अचानक सड़क से पांच फीट नीचे ट्रॉली पलट गई। सब बदहवास हो चुके थे।
-गड्‌ढे में सबसे पहले लोग गिरे, फिर उन पर ट्रॉली में भरा सुकला। जिंदा लोग ट्राॅली के नीचे ऐसे फंसे जैसे वे ताबूत में फंसे हों।
-चीख-पुकार के बीच 27 लोगों को तो हमने ताबड़-तोड़ निकाल लिया लेकिन ट्रॉली में नीचे दबे 11 लोगों को समय पर नहीं निकाल पाए।
-इस दौरान आसपास के ग्रामीण भी आ पहुंचे। उन्होंने भी काफी सहायता की। जो लोग नीचे दबे थे वे दम घुटने के कारण दमतोड़ चुके थे।
-बाद में एक-एक कर जैसे-तैसे हमने शवों को बाहर निकाला और अस्पताल पहुंचाया। ट्रॉली में कुल 38 लोग सवार थे।
दादी की अर्थी पर लेटाया पोते को, मां के साथ बेटी को ले गए मुक्तिधाम
-हादसे में मरने वालों में चार बच्चे भी हैं। इनकी अंतिम यात्रा भी अन्य परिजन के साथ ही निकली। हादसे में मृत 50 साल की दादी मथुराबाई की अर्थी पर ही 6 साल के लोकेश को लेटाया गया।
-इसी तरह 30 साल की मां कारीबाई की अर्थी पर 4 साल की बेटी वर्षा को मुक्तिधाम ले गए।
-ग्रामीणों के अनुसार बच्चे छोटे होने के कारण अर्थी अलग से नहीं निकाली।
-मथुराबाई के परिवार में तीन सदस्यों की मौत हुई है। इसमें दादी, पोते के अलावा मथुराबाई की ढाबला मोहन निवासी ननद रुक्मिणीबाई भी शामिल है।
-कारीबाई के परिवार में उसकी बेटी सहित दो लोग एक ही परिवार हैं।
10 लोगों का एक साथ अंतिम संस्कार
-उधर, सीतामऊ से 15 किलोमीटर दूर खंडेरिया काचर गांव में हादसे के बाद मातम पसर गया।
-ग्रामीणों को हादसे की खबर दोपहर 12.30 बजे ही लग गई थी। कई लोग नीमच अस्पताल पहुंचे। शवों को पोस्टमार्टम के बाद शाम को 6.15 बजे गांव लाया गया।
-गांव में ही 10 लोगों का एक साथ अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान हर शख्स की आंखों में पानी था। 6 महिलाओं और 4 बच्चों की मौत से परिजन ही नहीं पूरा गांव स्तब्ध रह गया।
-एक व्यक्ति का अंतिम संस्कार ढाबला गुर्जर गांव में किया गया।
-हादसे से पहले खंडेरिया के ग्रामीण सांवरियाजी की यात्रा को लेकर उत्साहित थे। महिलाओं ने रात में ही मेहंदी लगाकर बाकी तैयारियां कर ली थीं।
वाहन रोका और मदद की
– प्रत्यक्षदर्शी अर्जुन बुंदेला ने बताया कि हम कार से चित्तौडगढ़ जा रहे थे। कानका फंटे से 500 मीटर दूर छाया में कार खड़ी करके पानी पी रहे थे। इसी दौरान तेज गति से ट्रैक्टर-ट्रॉली निकली जिसमें लोग बैठे हुए थे।
-स्‍पीड ब्रेकर के यहां ट्रैक्टर-ट्रॉली सड़क से नीचे उतरकर पलट गई। आवाज सुनकर मौके पर पहुंचे। राह चलते लोग भी रूककर मदद के लिए आए। पुलिस को सूचना दी।
-इसके बाद आसपास के लोगों की मदद से रस्सी बांधकर ट्रॉली हटाने का प्रयास किया। कुछ देर में क्रेन भी आ गई। जिसके द्वारा ट्रॉली को हटाया।
दोस्त मोहन के साथ नहीं गया विनोद, दोपहर को आई उसकी मौत की खबर
-गांव के विनोद पिता परसराम ने बताया हादसे में मृत मोहन उसका दोस्त था। वह सांवरियाजी साथ चलने का बोल रहा था। हमारा प्लान भी बन गया था।
-सुबह जरूरी काम आने से मैं नहीं जा पाया। दोपहर को मोहन की मौत की सूचना मिली।

दिनभर घटना की चलती रहीं चर्चाएं
-दोपहर में घटना की सूचना पर लोग जगह-जगह समूह बनाकर चर्चा करते रहे। लोग घड़ी-घड़ी फोन लगाकर घायलों व मृतकों की जानकारी लेते रहे।
-जैसे-जैसे मृतकों की जानकारी मिलती रही ग्रामीण उनके घरों में पहुंचकर सांत्वना देते रहे।

सास व भतीजे का शव देख बहू बेहोश
-घटना में गांव की मथुराबाई पति शिवनारायण लोहार व उसके पोते लोकेश पिता जगदीश का शव जैसे ही घर पहुंचा तो बहू हेमा पति लक्ष्मीनारायण बेहाेश हो गई। उसे कयामपुर अस्पताल ले जाया गया।
-घटना में मथुराबाई की ननद ढाबला गुर्जर निवासी रुक्मिणी पति किशनलाल लोहार की भी मौत हुई है। उसका शव ढाबला गुर्जर पहुंचाया गया।
ट्रैक्टर-ट्रॉली में सवारी के उपयोग पर लगाएंगे रोक
ट्रैक्टर-ट्रॉली का उपयाेग खेती के काम में होना चाहिए। दो दिन में इस तरह की दूसरी घटना है। इनमें कुल 14 लोगों की मौत हुई है। जल्द ही कार्रवाई कर ट्रैक्टर-ट्रॉली का सवारियों के रूप में उपयोग करने पर रोक लगाई जाएगी।
रजनीश श्रीवास्तव, कलेक्टर नीमच

"जिलों से" से अन्य खबरें

अतिकुपोषण समाप्त करने मन लगाकर करें कार्य-कलेक्टर

कलेक्टर श्री कर्मवीर शर्मा ने कहा है कि जिला अतिकुपोषित जिलो में पारंपरिक कारणों से शामिल है। अतिकुपोषण को समाप्त करने के लिए मन लगाकर कार्य करना अनिवार्य है। महिला बाल विकास एवं महिला सशक्तिकरण विभाग को महिलाओं एवं बच्चों को संभालने का दायित्व है। अमला पूरी तत्परता और ईमानदारी से अपने दायित्वों का निर्वहन करें। कार्य परिणाममूलक रहे। यह सभी परियोजना अधिकारी एवं सुपरवाईजर सुनिश्चत करें एवं अपनी कमियां और त्रुटियां दूर करें अन्यथा अपना इस जिले से स्थानान्तरण करा लें। 

Read More

कलेक्टर व नगर निगम आयुक्त ने देखीं प्रस्तावित एवं निर्माणाधीन आवासीय योजनायें

ग्वालियर शहर को मलिन बस्ती व झुग्गी मुक्त बनाने के लिये प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत समेकित कार्ययोजना बनाकर झुग्गीवासियों को आवास मुहैया कराए जायेंगे। इस कार्ययोजना को नगर निगम, ग्वालियर विकास प्राधिकरण, हाउसिंग बोर्ड व साडा मिलकर मूर्त रूप देंगे। समेकित आवासीय कार्ययोजना पर अमल के सिलिसिले में कलेक्टर श्री राहुल जैन एवं नगर निगम आयुक्त श्री विनोद शर्मा ने बुधवार को शहर भ्रमण कर निर्माणाधीन और प्रस्तावित विभिन्न आवासीय परियोजनाओं का जायजा लिया। साथ ही शहर के अन्य विकास कार्य भी देखे। 

Read More

शिवराज के शासन में ‘चकरघिन्नी’ बनी बेचारी महिला तहसीलदार

राजगढ़। लगातार तबादले से परेशान राजगढ़ जिले की ब्यावरा तहसील में पदस्थ महिला तहसीलदार अमिता सिंह तोमर ने इस बार सीधे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को ट्वीट कर न्याय की गुहार लगाई है। तहसीलदार ने गुरुवार को किए ट्वीट में लिखा- 13 साल की नौकरी के दौरान यह मेरा 25 वां ट्रांसफर है। 

Read More

कार्य सम्पादन में गति लाए, ताकि लोगों को दफ्तरों के चक्कर न लगाना पड़ें- कलेक्टर

राजस्व संबंधी प्रकरणों और लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत लोगों के आवेदन पत्रों का त्वरित निराकरण किया जाए, ताकि आमजन को दफ्तरों के चक्कर न लगाना पड़े। आमजन की बहुत छोटी-छोटी मांग एवं शिकायतें होती हैं, जिनका अविलम्ब निराकरण किया जा सकता है। यह बात कलेक्टर श्रीमती भावना वालिम्बे ने राजस्व अधिकारियों की बैठक में कही। 

Read More

पोषण पुनर्वास केन्द्र खैरलांजी में किया गया सब्जी बीज का वितरण

परियोजना एकीकृत बाल विकास सेवा खैरलांजी अन्तर्गत परियोजना अधिकारी श्री पुष्पेन्द्र रानाडे के मार्गदर्शन में ईसीसीई समन्वयक श्री संदीप सिंह एवं पर्यवेक्षक श्रीमती रा‍धा सिंहा, श्रीमती तिजिया ताराम वरिष्ठ उद्यान विकास अधिकारी श्री एन.एम.चौधरी के सहयोग से एन.आर.सी. में भर्ती बच्चों की माताओं को सब्जियों के बीज वितरण किये गये।

Read More

शिवराज चौहान का ‘रीप्ले’ : अब ओडिशा के विधायक को गोद में उठाकर कीचड़ के पार ले गए समर्थक

ओडिशा में सत्तासीन बीजू जनता दल (बीजेडी) के विधायक मानस मडकामी उस समय विवादों में घिर गए, जब कीचड़ से भरे एक इलाके को पार करते वक्त उनके समर्थकों ने उनके सफेद रंग के जूतों को मैला होने से बचाने के लिए उन्हें गोद में उठा लिया, और यह पूरी घटना कैमरे की नज़रों में कैद हो गई.

Read More

वित्तमंत्री पहुंचे बांदकपुर भगवान जागेश्वरनाथ का किया पूजन

वित्त और वाणिज्यिक कर मंत्री जयंत कुमार मलैया ने आज सुबह 9 बजे बांदकपुर पहुंचकर यहां गृहस्थ संत पं. देवप्रभाकर शास्त्री के दर्शन किये, उनका आशीर्वाद लिया। इसके उपरांत आपने दद्दा जी से चर्चा भी की। ज्ञात हो बांदकपुर में आज सुबह से शिवलिंग निर्माण का कार्यक्रम चल रहा है, जहां बड़ी संख्या में भक्तगण शिवलिंग निर्माण करने में लगे हुये हैं।

Read More

किसानों को घर-घर जाकर दी जायेंगी खसरा-खतौनी की नकलें

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि राज्य सरकार जनता के लिये है। ऐसी व्यवस्था बनायें जिसमें जनता को कोई परेशानी नहीं हो। जनता की दिक्कतों को सहन नहीं किया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान मंत्रालय में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से राजस्व और ऊर्जा विभाग की समीक्षा कर रहे थे। कलेक्ट्रेट कार्यालय स्थित एनआईसी के वीसी कक्ष में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री अमनवीर सिंह बैंस, अपर कलेक्टर श्री एमके जैन, एसडीएम श्री वरूण अवस्थी सहित सभी संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

Read More

सावन सोमवार : महाकाल और ओंकारेश्वर में लगी भक्तों की भीड़

उज्जैन। सावन के पहले सोमवार पर उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर में अल सुबह से ही भक्तों की भीड़ लगी रही। ओंकारेश्वर और महेश्वर में भी भक्त भोलेनाथ के दर्शन करने पहुंचे। प्रदेशभर में शिव मंदिरों में भगवान शिव को जल अर्पित करने के लिए श्रद्धालुओं की कतार लगी रही।

Read More

पिपलियामंडी में रोकी किसान मुक्ति यात्रा, भारी पुलिस बल तैनात

मंदसौर। गुरुवार को ग्राम बूढ़ा से प्रारंभ हुई किसान मुक्ति यात्रा को पुलिस ने पिपलियामंडी पहुंचने से पहले ही रोक दिया। यहां लगभग 130 किसान संघटनों के पदाधिकारी और सैकड़ों किसान एकत्र हुए। इनमें योगेंद्र यादव, मेघा पाटकर, सांसद राजू शेट्टी सहित महाराष्ट्र, उड़ीसा, पंजाब, हरियाणा, तेलंगाना, मध्यप्रदेश, राजस्थान से आए किसान नेता भी शामिल थे।

Read More