mp mirror logo

डॉक्टरों और मेडीकल स्टाफ के दल ने जीता रोगियों एवं उनके परिजनों का दिल

तापोबाई की उम्र महज 48 साल है। गुना जिले के बरखेड़ी की रहने वाली तापोबाई मजदूरी करके अपना पेट पालती है। उसका पति राधेश्याम भी दिहाड़ी मजदूर है। उनके जिम्मे दो बेटों एवं एक बेटी को पालने का भार है। उन्नीस साल पहले गरीब तापोबाई को बच्चादानी खराब होने की बीमारी ने चपेट में ले लिया। डॉक्टर को दिखाया, तो पता चला कि ऑपरेशन कराना पड़ेगा और खर्च पच्चीस-तीस हजार के आसपास आएगा। तापोबाई तो सुनकर ही चक्कर खा गई।
    साठ साल की दयाबाई की कहानी भी तापोबाई जैसी ही है। रामपुर गांव की दयाबाई का पति भरोसा दिहाड़ी मजदूर है। दयाबाई बच्चादानी की समस्या से अठारह वर्ष से परेशान है। उसने अपनी परेशानी पति को बताई। पति ने रामपुर के डॉक्टर से उसका इलाज कराया। परन्तु इलाज से फायदा नहीं हुआ। उसने ऑपरेशन कराने की सलाह दी। ऑपरेशन कराने की सार्म्थ्य नहीं थी। मीराबाई तो महज 35 साल की है। बारह साल पहले उसकी बच्चादानी खराब हो गई थी। इतनी छोटी-सी उम्र में ही बच्चादानी तकलीफ दे गयी। इसी तरह पीपिया गांव की ममता अभी 38 साल की है और उसका पति ट्रेक्टर चलाता है। वह इस बीमारी को दस साल से पाले हुए थी।
    इन महिलाओं की तरह इमलिया की रहने वाली पचास साल की मेगधे बाई भी छः साल से इस बीमारी को पाले हुए थी। किसी के कहने पर उसने अपनी तकलीफ के बारे में पता किया, तो पता चला कि इस समस्या का हल ऑपरेशन है, जिस पर करीब चालीस हजार से ऊपर खर्च आएगा। मेगधेबाई का पति जगराम भी एक दिहाड़ी मजदूर है। वह सुनकर सन्न रह गया। ये सभी महिलाएं गरीब वर्ग की हैं और इतना खर्च कर ऑपरेशन करवाना तो दूर ये किसी शल्य विशेषज्ञ को एक बार दिखाने की फीस-चुकाने और जांचें कराने तक की हैसियत में नहीं हैं।
    लेकिन सबको इलाज सुलभ कराने की राज्य शासन की मंशा को ध्यान में रखते हुए बच्चादानी ऑपरेशन शिविर के माध्यम से मुफ्त ऑपरेशन कराने का बीड़ा कलेक्टर श्री राजेश जैन एवं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. रामवीर सिंह रघुवंशी ने दो माह पहले उठाया था। फिर पिछले दिनों भारतीय रेडक्रॉस सोसायटी, भारतीय शल्य चिकित्सक संघ एवं लोक स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से यहां जिला अस्पताल में निःशुल्क बच्चादानी ऑपरेशन शिविर लगाया गया। जिसमें उपर्युक्त महिलाओं सहित कुल 127 गरीब महिलाओं के मुफ्त ऑपरेश्न किए गए। इसमें इन्दौर के डॉक्टर एन.के. जैन एवं डॉ. (श्रीमती) सी.पी. जैन उनके मददगार हैं। ऑपरेशन करने के बाद भी लोक स्वास्थ्य विभाग की टीम इन रोगियों की पूरी तीमारदारी करती है। इन महिलाओं को जिला अस्पताल में भर्ती रखा हुआ है। इन महिला रोगियों के आने-जाने रहने, खाने-पीने, दवा, साबुन और तेल का खर्च भी लोक स्वास्थ्य विभाग ही उठा रहा है। राज्य शासन ने इन महिलाओं के मुफ्त ऑपरेशन, जांचों एवं दवाइयों का इंतजाम कर नया जीवन दिया है। अब ये महिलाएं अपनी दिनचर्या को सामान्य रूप से कर सकेंगी।
    इन महिलाओं की देखभाल हेतु नियुक्त डॉ. (श्रीमती) सोनू रघुवंशी के मुताबिक मुख्य रूप से घर पर प्रसव कराने, माहवारी के समय वजन उठाने तथा क्षमता से अधिक वजन उठाने की वजह से बच्चादानी की समस्या होती है। देर से इलाज शुरू कराने वाली ऐसी महिलाओं की बच्चादानी भी समय के साथ खराब होती रहती है। समय गुजरने के साथ-साथ महिलाओं की तकलीफें भी बढ़ती जाती हैं। ऑपरेशन उन रोगियों का किया जाता है, जिनकी बच्चादानी खराब हो जाती है और जिनकी दिनचर्या सामान्य नहीं रह पाती। डॉ. (श्रीमती) रघुवंशी कहती हैं कि ऑपरेशन कराने वाली महिलाओं में ग्रामीण क्षेत्र की 80 फीसद और शहरी क्षेत्र की 20 फीसद महिलाएं हैं। इनमें 90 फीसद महिलाओं की बच्चादानी बाहर निकल आई थी और दस फीसद महिलाओं की बच्चादानी में गांठ पड़ गई थी। इनमें से अपनी यह समस्या पति को बताने वाली महिलाएं 70 फीसद हैं और सास को समस्या बताने वाली महिलाएं 20 फीसद हैं। जबकि 10 फीसद महिलाओं ने किसी को अपनी समस्या बताई ही नहीं थी। ममता के पति राजाराम, मीरा के पति भारत, मेगधेबाई के पति जगराम का कहना है, "आर्थिक तंगी के कारण हम ऑपरेशन नहीं करवा पा रहे थे। लेकिन सरकार ने हमारी पत्नियों को नई जिंदगी दी है।" वे कहते हैं, "डॉक्टरों एवं मेडीकल स्टाफ का दल रोगियों की सेवा में जुटा हुआ है।" जीवन की उम्मीद छोड़ चुके पत्नियों के सफल इलाज की खुशी उनके चेहरों से साफ झलक रही थी।
    कलेक्टर श्री राजेश जैन कहते हैं, "गरीब महिलाओं के निःशुल्क बच्चादानी ऑपरेशन के लिए शीघ्र एक और शिविर लगवाया जाएगा।" मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. रघुवंशी बताते हैं, "निःशुल्क बच्चादानी ऑपरेशन शिविर के लिए महिलाओं का पंजीयन किया जा रहा है। उन्हें सारी सुविधाएं मुफ्त उपलब्ध कराई जाएंगी।"

"जिलों से" से अन्य खबरें

जनसुनवाई में आये 65 आवेदन

कार्यालय अधीक्षक श्री रमेशचन्द्र जोशी ने मंगलवार को आयोजित जनसुनवाई के दौरान 65 आवेदकों को व्यक्तिगत रूप से सुना तथा मौके पर ही हो सकने वाली समस्याओं का निराकरण कराया। जबकि मांगो से संबंधित आवेदनों को संबंधित विभागों को भेजकर परीक्षण कराने एवं उपयुक्त पाये जाने पर उसे अगामी कार्य योजना में सम्मलित करने के भी निर्देश निर्माण एजेंसियो के पदाधिकारियो को दिये। इस दौरान समस्त विभागो के जिला अधिकारी भी उपस्थित थे।
महाविद्यालय का कुआं सूख गया है, पीने के पानी की उठ खड़ी हुई है समस्या

Read More

बेटियों को उच्च शिक्षा देना हमारी प्राथमिकता-विधायक श्री दांगी

कस्तुरबा गांधी बालिका छात्रावास जीरापुर में सर्वशिक्षा अभियान द्वारा आयोजित मां-बेटी मेले के शुभांरभ अवसर पर बालिकाओं द्वारा सांस्कृतिक प्रस्तुतियों में समाज में व्याप्त कुरीतियों पर आधारित लोक गीत बोर बंधन नख रालो, राजस्थानी परंपरा पर आधारित घुमर नृत्य एवं लघु नाटिका के माध्यम से स्वच्छता, वृक्षों और वनो को बचाने तथा समाज में जन-जागरूकता लाने के लिये प्रस्तुत किये। कार्यक्रम का शुभारंभ गणेश वंदना से किया गया।

Read More

बेटियों को उच्च शिक्षा देना हमारी प्राथमिकता-विधायक श्री दांगी

कस्तुरबा गांधी बालिका छात्रावास जीरापुर में सर्वशिक्षा अभियान द्वारा आयोजित मां-बेटी मेले के शुभांरभ अवसर पर बालिकाओं द्वारा सांस्कृतिक प्रस्तुतियों में समाज में व्याप्त कुरीतियों पर आधारित लोक गीत बोर बंधन नख रालो, राजस्थानी परंपरा पर आधारित घुमर नृत्य एवं लघु नाटिका के माध्यम से स्वच्छता, वृक्षों और वनो को बचाने तथा समाज में जन-जागरूकता लाने के लिये प्रस्तुत किये। कार्यक्रम का शुभारंभ गणेश वंदना से किया गया।

Read More

प्रधानमंत्री ने परीक्षा के समय तनाव प्रबंधन के लिए विद्यार्थियों को दिये टिप्स

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आज कक्षा 6 से 12 वी तक के विद्यार्थियों को परीक्षा के समय होने वाले तनाव के प्रबंधन के संबंध में टिप्स दिये उन्होने परीक्षा के समय तनाव प्रबंधन पर लिखी गई पुस्तक "Exam Warriors" में उल्लेखित कुछ बिंदुओ पर चर्चा करते हुए विद्यार्थियों को विस्तार पूर्वक बताते हुए परीक्षा का डर दिमाग से निकाल देने और शांत मन से परीक्षा की तैयारी करने के लिए समझाईश दी।

Read More

भारत तिब्बत सीमा पुलिस के जवानों ने दिया नर्मदा संरक्षण का संदेश

भारत-तिब्बत सीमा पुलिस के 42 सदस्यों ने शुक्रवार को दो रबर की पतवार वोट से राजघाट पहुंचकर उपस्थित श्रद्धालुओं, विद्यार्थियों को नर्मदा संरक्षण का संदेश दिया। इस दौरान जवानों एवं उनके पदाधिकारियों ने जहां विद्यार्थियों के साथ मिलकर घाट पर फैली पूजन सामग्री एकत्रित कर स्वच्छता का संदेश दिया। वही नर्मदा का संरक्षण क्यों जरूरी है, इसके बारे में उपस्थितो  को बताकर जागरुक किया।

Read More

वृहद विधिक सेवा शिविर 24 फरवरी को ग्राम असीरगढ़ में होगा आयोजित

राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण एवं राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बुरहानपुर द्वारा ग्राम असीरगढ़ स्थित हॉयर सेकेण्डरी स्कूल परिसर में आगामी 24 फरवरी 2018 (शनिवार) को प्रातः 11 बजे से वृहद विधिक सेवा शिविर का आयोजन किया जा रहा हैं। वृहद विधिक सेवा शिविर का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जायें। 

Read More

पशुपालन विभाग द्वारा कड़कनाथ चुजे का वितरण किया गया

उपसंचालक पशु चिकित्सा सेवायें से प्राप्त जानकारी के अनुसार पशुपालन विभाग मण्डला द्वारा आज 7 फरवरी 2018 को विभाग की 80 प्रतिशत अनुदान पर कड़कनाथ कुक्कुट ईकाईयों का वितरण मण्डला जिले के हितग्राहियों को किया गया। उक्त योजना की कुल ईकाई लागत वर्तमान में 4400 रूपये है जिसमें हितग्राही द्वारा 20 प्रतिशत अंशदान राशि 880 रूपये जमा की जाती है। 

Read More

लक्ष्य बनायें, एकाग्रचित् होकर करें तैयारी - राज्यमंत्री श्री जोशी

पौराणिक इतिहास में भी हमने सीखा है कि अर्जुन ने अपने लक्ष्य को तभी पाया, जब एकाग्रचित् होकर लक्ष्य अर्जित करने का प्रयास उन्होने किया। इसलिये आप सभी भी एकाग्रचित् होकर तैयारियों में जुटें और अपना लक्ष्य अर्जित करें। यह प्रेरणा देती हुई बातें शुक्रवार को प्रदेश के तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास (स्वतंत्र प्रभार), श्रम, स्कूल शिक्षा राज्यमंत्री श्री दीपक जोशी ने डीपीसी स्कूल में विद्यार्थियों से कहीं। उन्होने कहा कि आप लोग अपने प्रोफेशन में उच्चतम मुकाम तक पहुंचें। लेकिन जरुरी है कि अच्छे प्रोफेशनलिस्ट बनने के साथ ही आप एक अच्छे भारतीय नागरिक भी बनें। मोबाईल और कम्प्यूटर का इस्तेमाल उतना ही करने का सुझाव राज्यमंत्री श्री जोशी ने विद्यार्थियों को दिया, जितना की ज्ञान अर्जित करने के लिये जरुरी हो।

Read More

फिर सरकार पर हमलावर यशंवत सिन्हा, शिव’राज’ में किसानों के लिए धरने पर बैठे

नरसिंहपुर पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा भाजपा सरकार को निशाने पर लेने का कोई भी मौका नहीं छोड़ना चाहते हैं। इस बार वे शिवराज सरकार की नींदें उड़ाने मध्यप्रदेश जा पहुंचे हैं। जसवंत सिन्हा मध्यप्रदेश में आंदोलनकारी किसानों पर दर्ज मामलों को वापस लेने की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए। एक फरवरी को उन्होंने किसान के लिए अपने पहले आंदोलन की शुरुआत नरसिंहपुर से की। एनटीपीसी से जुड़े भू-विस्थापित किसानों को राहत देने व उन पर दर्ज किए एससीएसटी एक्ट के मामले की निष्पक्ष पड़ताल करने की मांग को लेकर उन्होंने कलेक्टोरेट के मुख्य गेट पर गुरुवार को करीब एक बजे से धरना शुरू कर दिया। प्रशासन ने उनसे बातचीत भी करने की कोशिश की, लेकिन वार्ता विफल रही।

Read More

मानव समाज के पथ प्रदर्शक संत रविदास - लाल सिंह आर्य

मनुष्य कर्म से महान बनता है। अपनी सोच से वह समाज को दिशा देता है। जब मैं भारतीय संस्कृति एवं परम्परा को पढ़ता हूँ और समझने की कोशिश करता हूँ तो अभिभूत हो जाता हूँ। जन्म जननी भारत ने हर वर्ग को इतना ऊँचा स्थान दिया कि उसके आगे सब कुछ गौण हो जाता है। आज मैं संत कवि रविदास जी का स्मरण करते हुए यह कल्पना कर रोमांचित हो जाता हूँ कि वह कैसा समय रहा होगा जब एक बहुत मामूली से व्यक्ति ने अपने सकारात्मक विचारों से समूचे समाज की सोच को बदल दिया। समाज की दशा सुधारने में संत रविदास जैसी पुण्यात्माओं का अमिट योगदान रहा है। 

Read More