mp mirror logo

एक महीने से छात्रावास में चावल से पेट भर विद्यार्थी

  • मांगने पर भी छात्रावास में नहीं मिल रही रोटी
  • केंद्र के गेहूं आवंटन पर रोक लगाए जाने से बिगड़े हालात
गुना (एमपी मिरर)। छात्रावासों में रहने वाले छात्र-छात्राओं को केंद्र सरकार के फरमान से खाने के लाले पड़ गए हैं। गेहूं के आवंटन रोक लगाए जाने से जिले के तमाम छात्रावासों में रहने वाले छात्र-छात्राओं को चावल से पेट भरना पड़ रहा है। हालत यह है कि चावल खाते-खाते वह उकता चुके हैं।
यह स्थिति शहर ही नहीं बल्कि पूरे जिले के छात्रावासों की हैं। जहां गेहूं मांगने पर भी छात्रों को पेट भरने के लिए रोटी नहीं मिल रही। केंद्र सरकार के गेहूं के आवंटन पर रोक लगाए जाने के बाद राज्य सरकार ने भी पूरी तरह से हाथ खड़े कर दिए हैं। राज्य सरकार का यह तुगलकी फरमान है कि छात्रावास प्रबंधन चावल की रोटी छात्रों को परोसे। लेकिन चावल की रोटी छात्रों के हलक से नीचे नहीं उतर रही। पहले तक छात्रावास में रहने वाले छात्रों को प्रति छात्र के मान से 10 किलो गेहूं और दो किलो चावल दिए जा रहे थे। सभी छात्रावास में तीन महीने का आवंटन भेजा जाता है। इस बार जो आवंटन केंद्र सरकार की तरफ से भेजा गया है। वह सिर्फ चावल का है। खाद्य आपूर्ति विभाग को  जिले के छात्रावासों के लिए 456 क्विंटल चावल का आवंटन भेजा गया है। जिसे छात्रावासों को जारी भी कर दिया गया है। इस बार जब छात्रावास प्रबंधन को सिर्फ चावल का आवंटन भेजा गया तो न सिर्फ प्रबंधन बल्कि छात्र भी भौचक्के रह गए। इसकी उन्होंने खाद्य आपूर्ति अधिकारी से शिकायत भी की। लेकिन केंद्र का फरमान होने की बात कहकर खाद्य विभाग ने भी हाथ खड़े कर दिए हैं। आदिम जाति कल्याण विभाग के सभी छात्रावासों में भी चावल का आवंटन भेजा गया है। लेकिन यह चावल छात्रों को रास नहीं आ रहे।

एक महीने से भात पर आश्रित छात्र
एक महीने से छात्रावास में छात्र भात के भरोसे हैं। रोटियां उन्हें मांगने पर भी नहीं मिल रही। रोजाना भात खा खाकर वह उगता चुके हैं। इसकी शिकायत जब खाद्य विभाग से की गई थी। जिस पर विभाग ने चावल को बाजार में बेचकर गेहूं खरीदने पर विचार किया था। इस पर वरिष्ठ अधिकारियों का मार्गदर्शन भी मांगा गया था। लेकिन अधिकारियों से दिशा निर्देशन नहीं मिलने से बाद में छात्रावास को चावल का आंवटन जारी  कर दिया गया।

कलेक्टर ने कमिश्नर को लिखा पत्र
छात्रों की समस्या को मद्देनजर रखते हुए कलेक्टर राजेश जैन ने कमिश्नर को पत्र लिखकर जिले में छात्रावासों में गेहूं का आवंटन जारी करने की मांग की है। पत्र में उन्होंने जिक्र किया है कि, जिले में भोजन में सर्वाधिक गेहूं का उपयोग किया जाता है। गेहूं नहीं मिलने से छात्रों की सेहत पर भी असर पड़ रहा है। लिहाजा राज्य सरकार इस मामले में दखल देने के साथ ही गेहूं के आवंटन को जारी करे। पूर्व में छात्रावासों के लिए जिस तरह से खाद्यान का आवंटन जारी होता था। उसे यथावत रखा जाए।

दक्षिण भारत में भेजी जाती है खेप
भारत सरकार दक्षिण भारत के छात्रावासों में चावल की बड़ी खेप भेजती हैं। क्योंकि वहां प्रतिदिन दिनचर्या  के भोजन में चावल का इस्तेमाल उसी तरह से होता है, जिस तरह से मध्य भारत में गेहूं का। लेकिन इस बार केंद्र सरकार ने इन सभी तथ्यों पर बिना कोई गौर करे, थोक में चावल का आवंटन यह कहते हुए जारी कर दिया  कि जब दक्षिण भारत में चावल से रोटियां पकाई जा सकती हैं, तो मध्यभारत में इसका सेवन करने से भला किस तरह का परहेज। मजेदार बात यह है कि राज्य सरकार ने भी केंद्र के इस फैसले पर कोई आवाज नहीं उठाई, बल्कि स्थिति साफ करने की जगह केंद्र सरकार के इस फैसले का उसने भी समर्थन कर दिया।
 

"मुख्य ख़बरें" से अन्य खबरें

सोमालिया में अब तक का सबसे बड़ा बम धमाका, 276 की मौत और 300 घायल

सोमालिया की राजधानी में हुए अभी तक के सबसे शक्तिशाली विस्फोट में 276 लोग मारे गए हैं और करीब 300 अन्य लोग घायल हो गए हैं। देश के सूचना मंत्री ने सोमवार को यह जानकारी दी। मृतकों की संख्या में अभी और बढ़ोतरी हो सकती है। एक ट्वीट में सोमालियाई नेता अब्दीरहमान उस्­मान ने हमले को बर्बर करार दिया है। उन्होंने बताया कि तुर्की और केन्या सहित कई देशों ने चिकित्सा सहायता की पेशकेश की है। विदेश मंत्रालय सहित महत्वपूर्ण मंत्रालयों के निकट व्यस्त चौराहे को निशाना बनाकर किए गए ट्रक बम विस्फोट के बाद अस्पतालों में भारी भीड़ लग गई है।

Read More

डोकलाम पर 'हार' से बौखलाया चीन, भारत के हाई स्पीड ट्रेन के सपनों पर लगाया अड़ंगा

नई दिल्ली: दक्षिण भारत में एक महत्वाकांक्षी उच्च गति ट्रेन परियोजना चीनी रेलवे की ओर से प्रतिक्रिया नहीं आने की वजह से अटकी पड़ी है. रेलवे अधिकारियों का कहना है कि "प्रतिक्रिया में कमी" का कारण डोकलाम विवाद हो सकता है. रेलवे की नौ उच्च गति परियोजनाओं की स्थिति पर मोबिलिटी निदेशालय की एक आंतरिक जानकारी मिली है. इससे पता चलता है कि 492 किलोमीटर लंबा चेन्नई-बेंगलुरु-मैसूर गलियारा अधर में लटका है, क्योंकि चीनी रेलवे ने मंत्रालय की ओर से भेजी गई शासकीय सूचना पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है. 

Read More

धनतेरस 2017: इस दिन जरूर खरीदें ये चीजें

नई दिल्ली: धनतेरस और दिवाली को लेकर लोगों ने तैयारियां शुरू कर दी है. इस बार धनतेरस 17 अक्टूबर को है तो वहीं दिवाली 19 अक्टूबर को मनाई जाएगी. धनतेरस पर खरीदारी करना शुभ माना जाता है. लेकिन इस दिन क्या खरीदना सबसे ज्यादा शुभ होता है, इसके बारे में शायद ही आपने पहले कभी सोचा होगा. तो चलिए आपकी मदद करते हुए हम आपको बताते हैं वो वस्तुएं जिन्हें खरीदकर आपके घर में धन और संपन्नता आएगा.

Read More

तीनों सेनाओं के कमान में दिवाली मनाएंगी रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण

नई दिल्ली: रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण अंडमान निकोबार द्वीप में स्थित सामरिक रूप से महत्वपूर्ण तीनों सेनाओं (थल, वायु एवं नौसेना) के कमान में सैन्यकर्मियों के साथ दिवाली मनाएंगी.

आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि निर्मला 24 और 25 अक्तूबर को फिलीपीन की यात्रा पर होंगी और खासकर समुद्री क्षेत्र में सैन्य सहयोग मजबूत करने के तरीके तलाशने के लिए इस दौरान वहां के वरिष्ठ नेताओं के साथ बातचीत करेंगी.

Read More

श्रीलंका: भारतीय महावाणिज्य दूतावास के सामने प्रदर्शन करने पर पूर्व राष्ट्रपति का बेटा गिरफ्तार

कोलंबो: श्रीलंका के पूर्व राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे के बड़े बेटे समेत दो सांसदों को हंबनटोटा में भारतीय महावाणिज्य दूतावास के बाहर प्रदर्शन करने पर गिरफ्तार किया गया है. वे एक हवाईअड्डे का प्रस्तावित पट्टा भारतीय कंपनी को दिए जाने के विरोध में प्रदर्शन कर रहे थे. संयुक्त विपक्ष के सदस्यों ने हंबनटोटा के मत्ताला महिंदा राजपक्षे अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे (एमआरआईए) को श्रीलंका सरकार द्वारा भारत को सौंपे जाने वाले समझौते के खिलाफ प्रदर्शन किया.

Read More

18 साल से कम उम्र की पत्‍नी के साथ शारीरिक संबंध बनाना ‘बलात्‍कार’ : सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने व्‍यवस्‍था दी है कि 18 वर्ष से कम उम्र की पत्‍नी के साथ शारीरिक संबंध बनाना बलात्‍कार की श्रेणी में आएगा। शीर्ष अदालत ने कहा कि 15-18 वर्ष की आयु की पत्‍नी से अगर पति सेक्‍स करता है तो इसे ‘बलात्‍कार’ माना जाएगा। अदालत ने यह भी कहा कि यौन संबंधों के लिए सहमति की न्‍यूनतम उम्र कम नहीं की जा सकती। बलात्‍कार की शिकायत एक साल के भीतर दर्ज करानी होगी। 

Read More

पटाखों पर बैन: नाराज त्रिपुरा गवर्नर का ट्वीट- अवॉर्ड वापसी गैंग चिता जलाने पर भी याचिका डाल दे

अगरतला: दिवाली पर होने वाली आतिशबाजी पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा रोक लगाए जाने के बाद त्रिपुरा के राज्यपाल तथागत रॉय ने अपनी नाराजगी जाहिर की है. उन्होंने ट्विटर के जरिए ‘मोमबत्ती और पुरस्कार वापसी गिरोह’ पर निशाना साधा और कहा कि वायुप्रदूषण के डर से हिंदूओं के दाह संस्कार पर भी अर्जी आ सकती है. मीडिया सूत्रों की मानें तो एक न्यूज चैनल से बातचीत के दौरान भी त्रिपुरा राज्यपाल ने इस मुद्दे पर अपनी नाराजगी जाहिर की थी. उन्होंने कहा था, वे एक हिंदू होने के नाते सुप्रीम कोर्ट के आदेश से खफा हैं.

Read More

चुनाव से पहले गुजरात की जनता को सरकार से मिला एक हफ्ते में दूसरा बड़ा तोहफा

कोई कह सकता है कि देश के जिस राज्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी का आना-जाना बढ़ जाए तो समझिए वहाँ चुनाव आने वाला है। कोई कह सकता है कि जब एक हफ्ते के अंदर एक राज्य पर केंद्र सरकार और राज्य सरकार खास मेहरबान नज़र आए तो समझिए वहाँ चुनाव आने वाला है। 

Read More

गोधरा ट्रेन आगजनी: 11 दोषियों की मौत की सजा उम्रकैद में बदली, अदालत ने कहा- थी राज्‍य सरकार की लापरवाही

गुजरात उच्च न्यायालय ने 2002 में हुए गोधरा ट्रेन आगजनी मामले में फांसी की सजा पाए 11 दोषियों की सजा को सोमवार को उम्रकैद में बदल दिया। गोधरा कांड में 59 कार सेवक मारे गए थे। मृत्युदंड की सजा पाने वाले 11 दोषियों ने फैसले को चुनौती देते हुए अपील दायर की थी। एसआईटी की एक विशेष अदालत ने एक मार्च 2011 को इस मामले में 31 लोगों को दोषी करार दिया था और 63 को बरी कर दिया था।

Read More

भारतीय सरकार ने यमन जाने पर प्रतिबंध लगाया, बताया- अपहरण, हत्‍या का खतरा

भारत सरकार ने नागरिकों के लिए यमन की यात्रा पर रोक लगा दी है। केरल के अपहृत कैथोलिक पादरी टॉम के सकुशल भारत वापस लौटने के बाद सरकार ने यह कदम उठाया है। टॉम केा 4 मार्च, 2016 को एक आतंकी हमले में अगवा कर लिया गया था। उन्हें 12 सितंबर, 2017 को आईएस के चंगुल से छुड़ाकर ओमान लाया गया था। 

Read More