mp mirror logo

चंबल गौरव पदयात्रा से होगा जिले का इतिहास उजागर-सांसद

भिण्ड-दतिया संसदीय क्षेत्र के सांसद डॉ. भागीरथ प्रसाद ने कहा है कि चंबल की धरा पर चंबल गौरव पदयात्रा का आयोजन 26 मई से 1 जून 2017 तक किया जा रहा है। जिसमें प्रत्येक दिन यात्रा का पडाव होगा। पडाव के दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रमो का भी आयोजन किया जावेगा। चंबल गौरव पदयात्रा से भिण्ड जिले का इतिहास उजागर करने में मदद मिलेगी। इसलिए इस यात्रा में सभी की भागीदारी आवश्यक है। वे आज कलेक्टर कार्यालय के एनआईसी सभागार में आयोजित विभागीय अधिकारियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। 
    बैठक में कलेक्टर डॉ. इलैया राजा टी, पुलिस अधीक्षक श्री अनिल सिंह कुशवाह, महाप्रबंधक विद्युत वितरण कंपनी श्री एसपी शर्मा, एसडीएम लहार श्री एमके शर्मा,उप संचालक कृषि श्री डीएस कुशवाह, महिला बाल विकास अधिकारी श्री एमएस अम्ब, जिला शिक्षा अधिकारी श्री एसएन तिवारी, कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण श्री पीके जैन एवं विभिन्न विभागो के जिला अधिकारियों के अलावा लहार अनुभाग क्षेत्र के तहसीलदार, मुख्य नगर पालिका अधिकारी उपस्थित थे। 
    क्षेत्रीय सांसद डॉ. भागीरथ प्रसाद ने कहा कि सन् 1857 की क्रांति का स्वर्णिम इतिहास भिण्ड जिले से गुजरा था। इस पर पूरे विश्व की निगाह थी। कालपी में अंग्रेजो से संघर्ष के बाद झांसी की रानी 26 मई 1858 को भिण्ड के समीप गोपालपुरा पहुंची। जहां पर ग्वालियर को क्रांति केन्द्र बनाने का निर्णय किया था। 22 वर्षीय रानी ने भिण्ड के लगभग एक लाख लोगों के समर्थन के साथ मिहोना, अमायन, देहगांव, सुपावली, बडागांव (मुरार) में पडाव करते हुए 1 जून 1958 को ग्वालियर पर विजय प्राप्त की। इसके बाद अंग्रेजो से भीषण संग्राम में 18 जून को वे शहीद हो गई। उन्होंने कहा कि चंबल क्षेत्र के लोग बीर एवं बलिदानी है। झांसी की रानी के साथ साधारण व्यक्तियों ने असाधारण वीरता दिखाते हुए बलिदान दिया था। नरसंहार झेलते हुए भी कई वर्षो तक भिण्ड-ग्वालियर के लोग अंग्रेजो के विरूद्व लडते रहे। शहीदो को गौरव के बजाय अपमान मिला था। 
    चंबल के शहीदो का स्वर्णिम इतिहास गुमनामी के अंधेरे में विलुप्त हो गया। भारत के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के इन गुम नायको एवं भिण्ड के लोगो को बलिदान को उजागर करने के लिए रानी झांसी के संघर्ष मार्ग पर 26 मई से 1 जून 2017 तक पदयात्रा का कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। जिसमें हजारो युवा भाग लेकर इस यात्रा को सफल बनाएंगे। यात्रा में विभागीय अधिकारी/कर्मचारी भी हिस्सा लेकर शासन की गतिविधियों को आम लोगो तक पहुंचाने में मददगार साबित होंगे। इस यात्रा में स्वयं सेवी संस्थाओं के द्वारा भी अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए अपेक्षा की गई है। स्वतंत्रता संग्राम के 160वें वर्ष में लगभग 100 किमी इस पदयात्रा से भिण्ड-ग्वालियर का गौरवशाली इतिहास उजागर होगा। 
    कलेक्टर डॉ. इलैया राजा टी ने कहा कि चंबल गौरव पदयात्रा का आयोजन 26 मई से 1 जून 2017 तक किया जा रहा है। इस यात्रा के दौरान पडाव क्षेत्र के गांव में शासन की जनहितेषी एवं कल्याणकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने के लिए कार्यक्रम आयोजित किए जावेंगे। जिसमें स्वच्छता पर कार्यक्रमों के अलावा बेटी पढाओं एवं बेटी बचाओ की दिशा में कार्यक्रमो के अलावा रंगोली प्रतियोगिता आयोजित करने के लिए विभागीय अधिकारियों के माध्यम से पहल की जावेगी। साथ ही कृषि विभाग के माध्यम से जिला स्तरीय कृषि विज्ञान मेला का आयोजन 27 मई को मिहोना में आयोजित किया जावेगा। साथ ही उद्यानिकी और विभिन्न विभागों की प्रदर्शनी इस मेला में लगाई जावेगी। साथ ही किसानों को प्रगतिशील बनाने एवं उनका मनोवल बढाने के लिए संास्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किए जावेंगे। उन्हांने कहा कि एनएसएस, एनसीसी, जन अभियान परिषद के अलावा स्वयंसंवी संस्थाओं की भागीदारी सुनिश्चित की जावेगी। उन्होंने कहा कि ग्राम उदय से भारत उदय अभियान के अन्तर्गत भी कार्यक्रम आयोजित होगा। जिसमें नागरिको के विभिन्न प्रकार के आवेदनों की समीक्षा की जाकर उनके निदान की पहल की जावेगी। इस यात्रा के दौरान जगह-जगह पीने के पानी की सुविधा के प्रबंध किए जावेंगे। उन्होंने कहा कि विभिन्न विभागो के जिन अधिकारियों को कृषि विज्ञान मेला के लिए जिम्मेदारियां सौंपी गई है। उनका समय सीमा में निर्वहन किया जावेगा। 
    पुलिस अधीक्षक श्री अनिल सिंह कुशवाह ने बैठक में बताया कि चंबल गौरव पदयात्रा के प्रारंभ से अंत तक जिले के विभिन्न ग्रामों में तथा पडाव स्थलो पर सुरक्षा के प्रबंध किए जावेंगे। उन्होंने कहा कि यात्रा के दौरान हर डेढ किमी पर पीने के पानी के लिए टेंकरो की व्यवस्था पीएचई विभाग एवं अन्य ग्राम पंचायत के माध्यम से कराई जावे। जिससे यात्रियों एवं नागरिको को ग्रीष्मकालीन मौसम में पीने का पानी मिलता रहे। 
    एसडीएम लहार श्री एमके शर्मा ने बताया कि लहार अनुभाग के क्षेत्र में चंबल गौरव पदयात्रा का आयोजन किया जा रहा है। इस आयोजन के लिए सभी प्रकार की व्यवस्थाऐं विभागीय अधिकारियों के माध्यम से सुनिश्चित कराई जावेगी। जिससे पदयात्रा में आने वाले यात्रियों को समुचित सुविधाऐं प्राप्त होगी। 
    उप संचालक कृषि श्री डीएस कुशवाह ने बताया कि जिला स्तरीय कृषि विज्ञान मेला का आयोजन मिहोना में 27 मई 2017 को किया जावेगा। इस मेला में विभिन्न विभागो के माध्यम से स्टाल लगाई जाकर किसानों की हर प्रकार की कठिनाई एवं समस्याओं का निदान किया जावेगा। साथ ही सभी प्रकार की व्यवस्थाऐं प्रभावी तरीके से समय सीमा में सुनिश्चित की जावेगी। उन्होंने किसानों को मेला के माध्यम से दी जाने वाली सुविधाओं से अवगत कराया। 

पदयात्रा का आयोजन 26 से 1 जून तक  

    क्षेत्रीय सांसद डॉ. भागीरथ प्रसाद ने बैठक में बताया कि चंबल गौरव पदयात्रा का आयोजन का आयोजन 26 मई से 1 जून 2017 तक किया जावेगा। यह यात्रा गोपालपुरा से ग्वालियर तक आयोजित होगी। इस यात्रा में प्रतिदिन आयोजित होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम/पडाव 26 मई 2017 को यूपी के जालौन एवं म.प्र. के भिण्ड जिले की सीमा पर बसे गोपालपुरा में रहेगा। इसीप्रकार 27 मई 2017 को जिले के अनुभाग लहार के मिहोना में, 28 मई को मेहगांव अनुभाग के अमायन में, 29 मई को गोहद अनुभाग के देहगांव में, 30 मई को मुरार ग्वालियर के सुपावली में एवं 31 मई को मुरार ग्वालियर के बडागांव में होगा। इसके उपरांत यह यात्रा 1 जून 2017 को ग्वालियर में आयोजित विजय उत्सव कार्यक्रम में शामिल होगी।

"जिलों की ख़बरें" से अन्य खबरें

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान: पांच साल का विकास पांच माह में करने का वादा

भोपाल: मध्य प्रदेश के दो विधानसभा सीटों पर हो रहे उपचुनाव में प्रचार अंतिम दौर में है. सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस के नेता एक-दूसरे पर हमले कर रहे. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पांच साल का विकास पांच माह में करने का वादा कर रहे हैं, तो दूसरी ओर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मुख्यमंत्री चौहान को घोषणावीर बताया. राज्य के शिवपुरी जिले के कोलारस और अशोकनगर के मुंगावली विधानसभा सीटों के लिए उपचुनाव का प्रचार जोरों पर है. दोनों स्थानों पर भाजपा व कांग्रेस के नेता डेरा डाले हुए हैं. आलम यह है कि हर दूसरे गांव में 100 से 500 मतदाताओं के बीच नेता सभाएं कर रहे हैं.

Read More

आज की सबसे बड़ी खबर : 500 के नए नोट को लेकर के RBI ने लिया ये बड़ा फैसला

देवास। हाल ही में मार्केट में 200 रुपए का नया नोट आया है। इस नोट की छपाई के लिए देवास बैंक नोट प्रेस को ऑर्डर मिला था, जिसे तय समय में तैयार किया गया। आपको याद दिला दें कि देवास बैंक नोट प्रेस वही जगह है, जहां नोटबंदी बाद आई नोटों की किल्लत के चलते दिन रात 500 के नए नोटों की छपाई हुई थी। बैंक नोट प्रेस के कर्मचारियों की मेहनत की बदौलत मार्केट में आई नोटों की किल्लत ज्यादा दिन तक नहीं रही। आरबीआई के बड़े फैसलों का केन्द्र रही देवास बैंक नोट प्रेस हाल ही में एक बार फिर बड़ी जिम्मेदारी दी गई थी। इस जिम्मेदारी का असर अब जल्द ही आपको देखना पड़ सकता है।

Read More

चार हजार सवालों से विधानसभा के बजट सत्र में घिरेगी सरकार

भोपाल। मप्र विधानसभा के बजट सत्र में इस बार सरकार को चार हजार से ज्यादा सवालों से घेरा जाएगा। अभी सत्र में प्रश्न करने के लिए विधायकों को दो सप्ताह का समय और है। सत्र में इस बार लोकलेखा समिति के सभापति का चुनाव भी होना है।

Read More

एसिड अटैक पीड़िता से छेड़छाड़ के मामले में मध्य प्रदेश के 'मंत्री' बर्खास्त

मध्य प्रदेश में राज्यमंत्री का दर्जा प्राप्त राजेंद्र नामदेव को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पद से हटा दिया है. नामदेव पर एसिड अटैक पीड़िता से होटल में अश्लील हरकत और छेड़छाड़ करने का आरोप है. उनके खिलाफ रविवार दोपहर हनुमानगंज थाने पहुंचकर पीड़िता ने लिखित शिकायत दी थी.

Read More

पीएनबी घोटाला: भोपाल में गीतांजलि के ठिकानों पर बड़ी कार्रवाई, करोड़ों के हीरे जब्त

भोपाल। पीएनबी घोटाला सामने आने के बाद से देश भर में गीतांजलि के ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशालय की कार्रवाई जारी है। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में भी ईडी ने गीतांजलि समूह के कई ठिकानों पर छापामार कार्रवाई की।

Read More

शिवराज सिंह की मुश्किलें बढ़ी, चुनाव से पहले सेन समाज ने की आरक्षण की मांग

मध्य प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव में आरक्षण की मांग को लेकर सेन समाज ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. सेन समाज के सैकड़ों लोग शनिवार को राजधानी भोपाल में जुट रहे हैं. जहां वे सेन समाज को अनुसूचित जाति में शामिल किए जाने की मांग कर रहे हैं. प्रदर्शन कर रहे आंदोलनकारियों को मुताबिक सेन समाज को मिल रहे आरक्षण का दायरा बढ़ाते हुए अनुसूचित जाति में शामिल करने के लिए राज्य सरकार ने विधानसभा में अशासकीय संकल्प पारित  किया था, लेकिन उसके सालों बाद भी अमल नहीं हो सका.

Read More

MP: कर्ज और फसल बीमा क्लेम न मिलने से परेशान किसान ने लगाई फांसी

मध्य प्रदेश के सागर जिले के गढ़ाकोटा में कर्ज में डूबे किसान ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. किसान पर करीब तीन लाख रुपए का कर्ज था और हाल ही में ओलावृष्टि से चने की फसल भी तबाह हो गई थी.

जानकारी के अनुसार, गढ़ाकोटा थाना क्षेत्र के सिंगपुर कला में रहने वाले किसान गुलाब पटेल ने शुक्रवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. किसान की पत्नी सियारानी पटेल ने बताया कि वह कर्ज की वजह से काफी परेशान थे. उन पर तीन लाख रुपए का कर्ज था.

Read More

ओलावृष्टि पर बोले सीएम- अभी चुनाव है, कुछ नहीं कहूंगा, जो लागू, वही मिलेगा

अशोकनगर.प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शुक्रवार को पिपरई क्षेत्र के ढ़ोढ़िया गांव पहुंचे। जहां उन्होंने चार दिन पहले ओलावृष्टि से नष्ट हुई फसलों का निरीक्षण कर किसानों ने बातचीत की। मुख्यमंत्री श्री सिंह ने ग्रामीणों से कहा कि अभी कुछ घोषणा करूंगा तो कांग्रेस वाले चिल्लाने लगेंगे कि आचार संहिता का उल्लंघन हो रहा है। उन्होंने किसानों ने कहा कि टीवी देखते हो या अखबार पढ़ते हो। उसमें देख लेना। जो भी नुकसान की भरपाई होगी वहीं अशोकनगर जिले को भी मिलेगा।

Read More

कांग्रेस का सवाल, शिवराज जी! अवैध कब्जेदारों पर इतनी मेहरबानी?

भोपाल। मध्यप्रदेश में भारी बारिश और ओलावृष्टि से करीब 1000 गांवों में फसलें पूरी तरह चौपट हो गयी हैं, जिससे किसान परेशान हैं, बस इसी परेशानी को राजनीतिक पार्टियां भुनाने में लगी हैं, सत्ताधारी पार्टी जहां किसानों को उनके नुकसान की भरपाई करने का आश्वासन दे रही है, वहीं विपक्ष किसानों की उपेक्षा का आरोप लगा रही है।

Read More

उपचुनाव: बढ़ती जा रही भाजपा की मुश्किल, अब गैस पीड़ित भी सीधी जंग को तैयार

भोपाल। मध्यप्रदेश के दो विधानसभा क्षेत्रों में हो रहे उपचुनाव में भोपाल के यूनियन कार्बाइड पीड़ितों के लिए संघर्ष करने वाले पांच संगठनों ने सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवारों का विरोध करने का ऐलान किया है। इन उपचुनाव में इन संगठनों के नेता भाजपा के खिलाफ प्रचार अभियान चलाएंगे।

Read More