mp mirror logo

चंबल गौरव पदयात्रा से होगा जिले का इतिहास उजागर-सांसद

भिण्ड-दतिया संसदीय क्षेत्र के सांसद डॉ. भागीरथ प्रसाद ने कहा है कि चंबल की धरा पर चंबल गौरव पदयात्रा का आयोजन 26 मई से 1 जून 2017 तक किया जा रहा है। जिसमें प्रत्येक दिन यात्रा का पडाव होगा। पडाव के दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रमो का भी आयोजन किया जावेगा। चंबल गौरव पदयात्रा से भिण्ड जिले का इतिहास उजागर करने में मदद मिलेगी। इसलिए इस यात्रा में सभी की भागीदारी आवश्यक है। वे आज कलेक्टर कार्यालय के एनआईसी सभागार में आयोजित विभागीय अधिकारियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। 
    बैठक में कलेक्टर डॉ. इलैया राजा टी, पुलिस अधीक्षक श्री अनिल सिंह कुशवाह, महाप्रबंधक विद्युत वितरण कंपनी श्री एसपी शर्मा, एसडीएम लहार श्री एमके शर्मा,उप संचालक कृषि श्री डीएस कुशवाह, महिला बाल विकास अधिकारी श्री एमएस अम्ब, जिला शिक्षा अधिकारी श्री एसएन तिवारी, कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण श्री पीके जैन एवं विभिन्न विभागो के जिला अधिकारियों के अलावा लहार अनुभाग क्षेत्र के तहसीलदार, मुख्य नगर पालिका अधिकारी उपस्थित थे। 
    क्षेत्रीय सांसद डॉ. भागीरथ प्रसाद ने कहा कि सन् 1857 की क्रांति का स्वर्णिम इतिहास भिण्ड जिले से गुजरा था। इस पर पूरे विश्व की निगाह थी। कालपी में अंग्रेजो से संघर्ष के बाद झांसी की रानी 26 मई 1858 को भिण्ड के समीप गोपालपुरा पहुंची। जहां पर ग्वालियर को क्रांति केन्द्र बनाने का निर्णय किया था। 22 वर्षीय रानी ने भिण्ड के लगभग एक लाख लोगों के समर्थन के साथ मिहोना, अमायन, देहगांव, सुपावली, बडागांव (मुरार) में पडाव करते हुए 1 जून 1958 को ग्वालियर पर विजय प्राप्त की। इसके बाद अंग्रेजो से भीषण संग्राम में 18 जून को वे शहीद हो गई। उन्होंने कहा कि चंबल क्षेत्र के लोग बीर एवं बलिदानी है। झांसी की रानी के साथ साधारण व्यक्तियों ने असाधारण वीरता दिखाते हुए बलिदान दिया था। नरसंहार झेलते हुए भी कई वर्षो तक भिण्ड-ग्वालियर के लोग अंग्रेजो के विरूद्व लडते रहे। शहीदो को गौरव के बजाय अपमान मिला था। 
    चंबल के शहीदो का स्वर्णिम इतिहास गुमनामी के अंधेरे में विलुप्त हो गया। भारत के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के इन गुम नायको एवं भिण्ड के लोगो को बलिदान को उजागर करने के लिए रानी झांसी के संघर्ष मार्ग पर 26 मई से 1 जून 2017 तक पदयात्रा का कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। जिसमें हजारो युवा भाग लेकर इस यात्रा को सफल बनाएंगे। यात्रा में विभागीय अधिकारी/कर्मचारी भी हिस्सा लेकर शासन की गतिविधियों को आम लोगो तक पहुंचाने में मददगार साबित होंगे। इस यात्रा में स्वयं सेवी संस्थाओं के द्वारा भी अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए अपेक्षा की गई है। स्वतंत्रता संग्राम के 160वें वर्ष में लगभग 100 किमी इस पदयात्रा से भिण्ड-ग्वालियर का गौरवशाली इतिहास उजागर होगा। 
    कलेक्टर डॉ. इलैया राजा टी ने कहा कि चंबल गौरव पदयात्रा का आयोजन 26 मई से 1 जून 2017 तक किया जा रहा है। इस यात्रा के दौरान पडाव क्षेत्र के गांव में शासन की जनहितेषी एवं कल्याणकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने के लिए कार्यक्रम आयोजित किए जावेंगे। जिसमें स्वच्छता पर कार्यक्रमों के अलावा बेटी पढाओं एवं बेटी बचाओ की दिशा में कार्यक्रमो के अलावा रंगोली प्रतियोगिता आयोजित करने के लिए विभागीय अधिकारियों के माध्यम से पहल की जावेगी। साथ ही कृषि विभाग के माध्यम से जिला स्तरीय कृषि विज्ञान मेला का आयोजन 27 मई को मिहोना में आयोजित किया जावेगा। साथ ही उद्यानिकी और विभिन्न विभागों की प्रदर्शनी इस मेला में लगाई जावेगी। साथ ही किसानों को प्रगतिशील बनाने एवं उनका मनोवल बढाने के लिए संास्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किए जावेंगे। उन्हांने कहा कि एनएसएस, एनसीसी, जन अभियान परिषद के अलावा स्वयंसंवी संस्थाओं की भागीदारी सुनिश्चित की जावेगी। उन्होंने कहा कि ग्राम उदय से भारत उदय अभियान के अन्तर्गत भी कार्यक्रम आयोजित होगा। जिसमें नागरिको के विभिन्न प्रकार के आवेदनों की समीक्षा की जाकर उनके निदान की पहल की जावेगी। इस यात्रा के दौरान जगह-जगह पीने के पानी की सुविधा के प्रबंध किए जावेंगे। उन्होंने कहा कि विभिन्न विभागो के जिन अधिकारियों को कृषि विज्ञान मेला के लिए जिम्मेदारियां सौंपी गई है। उनका समय सीमा में निर्वहन किया जावेगा। 
    पुलिस अधीक्षक श्री अनिल सिंह कुशवाह ने बैठक में बताया कि चंबल गौरव पदयात्रा के प्रारंभ से अंत तक जिले के विभिन्न ग्रामों में तथा पडाव स्थलो पर सुरक्षा के प्रबंध किए जावेंगे। उन्होंने कहा कि यात्रा के दौरान हर डेढ किमी पर पीने के पानी के लिए टेंकरो की व्यवस्था पीएचई विभाग एवं अन्य ग्राम पंचायत के माध्यम से कराई जावे। जिससे यात्रियों एवं नागरिको को ग्रीष्मकालीन मौसम में पीने का पानी मिलता रहे। 
    एसडीएम लहार श्री एमके शर्मा ने बताया कि लहार अनुभाग के क्षेत्र में चंबल गौरव पदयात्रा का आयोजन किया जा रहा है। इस आयोजन के लिए सभी प्रकार की व्यवस्थाऐं विभागीय अधिकारियों के माध्यम से सुनिश्चित कराई जावेगी। जिससे पदयात्रा में आने वाले यात्रियों को समुचित सुविधाऐं प्राप्त होगी। 
    उप संचालक कृषि श्री डीएस कुशवाह ने बताया कि जिला स्तरीय कृषि विज्ञान मेला का आयोजन मिहोना में 27 मई 2017 को किया जावेगा। इस मेला में विभिन्न विभागो के माध्यम से स्टाल लगाई जाकर किसानों की हर प्रकार की कठिनाई एवं समस्याओं का निदान किया जावेगा। साथ ही सभी प्रकार की व्यवस्थाऐं प्रभावी तरीके से समय सीमा में सुनिश्चित की जावेगी। उन्होंने किसानों को मेला के माध्यम से दी जाने वाली सुविधाओं से अवगत कराया। 

पदयात्रा का आयोजन 26 से 1 जून तक  

    क्षेत्रीय सांसद डॉ. भागीरथ प्रसाद ने बैठक में बताया कि चंबल गौरव पदयात्रा का आयोजन का आयोजन 26 मई से 1 जून 2017 तक किया जावेगा। यह यात्रा गोपालपुरा से ग्वालियर तक आयोजित होगी। इस यात्रा में प्रतिदिन आयोजित होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम/पडाव 26 मई 2017 को यूपी के जालौन एवं म.प्र. के भिण्ड जिले की सीमा पर बसे गोपालपुरा में रहेगा। इसीप्रकार 27 मई 2017 को जिले के अनुभाग लहार के मिहोना में, 28 मई को मेहगांव अनुभाग के अमायन में, 29 मई को गोहद अनुभाग के देहगांव में, 30 मई को मुरार ग्वालियर के सुपावली में एवं 31 मई को मुरार ग्वालियर के बडागांव में होगा। इसके उपरांत यह यात्रा 1 जून 2017 को ग्वालियर में आयोजित विजय उत्सव कार्यक्रम में शामिल होगी।

"जिलों की ख़बरें" से अन्य खबरें

सीएम चौहान स्कूली बच्चों के कार्यक्रम में बोले- पिता को डैड कहना है ‘अजीब विकृति’

देश में पिता को ‘डैड’ कहे जाने को अंग्रेजी के मोह से जुड़ी अजीब-सी विकृति करार देते हुए मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को इस चलन की निंदा की। मुख्यमंत्री ने इंदौर में हजारों स्कूली बच्चों के एक साथ राष्ट्रगीत ‘वंदे मातरम’ गाने के कार्यक्रम में कहा, “आजकल माता-पिता की जगह मम्मी-पापा का चलन कुछ ज्यादा हो गया है। अंग्रेजी के मोह में हम कई बार पिता को डैड भी कह देते हैं।” उन्होंने अपने बचपन का किस्सा सुनाते हुए कहा, “मेरे एक मित्र के पिताजी का स्वर्गवास हो गया था। मित्र अंग्रेजी प्रेमी थे। मित्र ने मुझसे कहा कि उनके पिता डेड हो गए।”

Read More

एमपी के सियासी रण में 'हाथी' की दस्तक

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में आज बहुजन समाज पार्टी (बसपा) का राज्यस्तरीय सम्मेलन होने जा रहा है. इस सम्मेलन को बसपा सुप्रीमो मायावती संबोधित करेंगी. सम्मेलन को विधानसभा चुनाव की तैयारी के तौर पर देखा जा रहा है.

उत्तर प्रदेश में सियासी जमीन खिसकने के बाद अब बसपा प्रमुख मायवाती भोपाल में चुनावी शंखनाद का आगाज करने जा रही है. लाल परेड ग्राउंड में राज्य स्तरीय महासम्मेलन होने जा रहा है, जिसके लिए बड़ी संख्या में कार्यकर्ता जुट गए है.

Read More

MP की विद्युत वितरण कंपनी ने निकाली रिकॉर्ड भर्तियां

भोपाल: मध्य प्रदेश पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी लिमिटेड (एमपीपीकेवीवीसीएल) ने टेस्टिंग अटेंडेंट (परीक्षण सहायक) के पद पर भर्तियां निकाली हैं. इन पदों के लिए इच्छुक उम्मीदवार ऑनलाइन माध्यम से आवेदन कर सकते हैं. कंपनी में कुल 41 पद अभी खाली हैं. इन पदों के लिए आवेदन करने वाले मध्य प्रदेश के मूल निवासियों को ही हर तरह का आरक्षण दिया जाएगा. अन्य राज्यों के अभ्यर्थी अनारक्षित श्रेणी में माने जाएंगे.

Read More

अगले साल से एमपी के स्कूलों में पढ़ाई जाएगी 'पद्मावती' की गाथा सीएम शिवराज का ऐलान

भोपाल: मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को घोषणा की है कि चित्तौड़ की रानी पद्मावती के पाठ को अगले शैक्षणिक सत्र से राज्य में स्कूल के पाठ्यक्रम में शामिल किया जाएगा. चौहान ने यह घोषणा समग्र राजपूत समाज द्वारा उज्जैन में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए की. राजपूत समाज के नेताओं ने यह कार्यक्रम फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली की विवादास्पद फिल्म 'पद्मावती' को मध्यप्रदेश में प्रतिबंध लगाने के लिए मुख्यमंत्री चौहान को सम्मानित करने के लिए आयोजित किया था.

Read More

पटवारी भर्ती परीक्षा:होने वाली 9500 पटवारियों की भर्ती परीक्षा करीब छह महीने टल सकती है।

भोपाल। प्रदेश में होने वाली 9500 पटवारियों की भर्ती परीक्षा करीब छह महीने टल सकती है। दरअसल, राजस्व विभाग पटवारी भर्ती नियमों में संशोधन कर रहा है। वहीं, पटवारियों की पात्रता परीक्षा के बाद उन्हें दी जाने वाली ट्रेनिंग कोर्स में भी बदलाव हो रहा है। ट्रेनिंग मॉड्यूल पुराना हो चुका है, इसमें नई टेक्नोलॉजी को भी जोड़ा जाएगा। साथ ही अब पटवारियों को स्टेट कैडर दिया जाएगा, ताकि प्रदेश में कहीं भी उनका तबादला हो सके। इन नियमों को बदलने के बाद भर्ती परीक्षा आयोजित होगी।

Read More

मुख्यमंत्री: अपराध रोकना आईजी-एसपी की ही जिम्मेदारी नहीं, कलेक्टर की भी है

भोपाल। अपराध रोकना आईजी (पुलिस महानिरीक्षक), एसपी (पुलिस अधीक्षक) की ही नहीं, कलेक्टर की भी जिम्मेदारी है। कलेक्टर जिले में हर माह कम से कम एक बार सभी विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक करें। यह बात मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को मंत्रालय में वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से कमिश्नर, आईजी, कलेक्टर और पुलिस अधीक्षकों के साथ महिला अपराधों की समीक्षा करते हुए कही।

Read More

विवादों में घिरी फिल्म पद्मावती MP में प्रतिबंधित करने चलाया हस्ताक्षर अभियान

भोपाल। विवादों में घिरी फिल्म पद्मावती 1 दिसंबर को रिलीज नहीं होगी। फिल्म निर्माताओं ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि रिलीज की नई तारीख जल्द घोषित की जाएगी। फिल्म पद्मावती को लेकर दाखिल याचिका पर सोमवार को सुप्रीम कोर्ट सुनवाई करेगा। सुनवाई से पहले फिल्म के विरोध में उतरे कई सामाजिक संगठनों ने संजयलीला भंसाली के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया। वहीं, संस्कृति बचाओ मंच के सदस्यों ने फिल्म को मप्र में प्रतिंबधित करने के लिए हस्ताक्षर अभियान चलाया है।

Read More

मानहानि: मध्य प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता मिश्रा को दो साल की सजा

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान व उनके परिजन पर लगाए गए आरोपों के खिलाफ दायर मानहानि के मामले में स्थानीय अदालत ने प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता केके मिश्रा को शुक्रवार को दो साल की साधारण कारावास की सजा सुनाई। मिश्रा के वकील अजय गुप्ता ने कहा कि हम इस फैसले के खिलाफ मध्य प्रदेश हाई कोर्ट में अपील करेंगे। प्रथम अपर जिला व सत्र न्यायाधीश काशीनाथ सिंह ने मुख्यमंत्री व उनके परिजन पर लगाए गए मिश्रा के आरोपों को निराधार पाया और झूठे आरोप लगाने के लिए मिश्रा को दो वर्ष की सजा सुनाई।

Read More

दुल्हन की मां ने मोदी को लिखा लेटर, PM ने कपल को दी शादी की बधाई

भोपाल. कोलार निवासी सरकारी स्कूल की टीचर औरंग बानो ने 27 साल पहले पति एजाज अहमद के कश्मीर में शहीद होने के बाद न केवल अपनी बेटी की अकेले ही परवरिश की, उसे पढ़ाया लिखाया और उसकी शादी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को निमंत्रण भेजा था। मुख्यमंत्री ने तो निमंत्रण पत्र का कोई जवाब नहीं दिया, लेकिन प्रधानमंत्री ने पत्र पढ़कर उन्हें बेटी की शादी की बधाई दी, साथ ही उनके त्याग और धैर्य को सलाम करते हुए उन पर गर्व जताया है। दुल्हन की मां ने मोदी को भेजा था शादी का न्यौता...

Read More

विधानसभा के शीतकालीन सत्र में साढ़े तीन हजार सवालों से घिरेगी राज्य सरकार

चौदहवीं विधानसभा के शीतकालीन सत्र में करीब साढ़े तीन हजार से ज्यादा सवालों से विधायकों ने सरकार को घेरने की तैयारी की है। विपक्ष इस सत्र में भांवातर योजना, किसानों, महिला अपराध और कानून व्यवस्था के मुद्दे पर सरकार पर तीखे हमले करने वाला है। इन्हीं मुद्दों से जुड़े सवालों की संख्या ज्यादा बताई जा रही है।

Read More