mp mirror logo

चंबल से 61 लाख लोगों की प्यास बुझा रहा राजस्थान,फिसड्‌डी MP नहीं ले पा रहा एक बूंद पानी भी

ग्वालियर.चंबल के नाम से पहचाने जाने वाले अंचल के शहर और गांव चंबल नदी के किनारे बसे होने के बाद भी प्यासे हैं। जबकि राजस्थान के 11 बड़े शहरों सहित सैकड़ों गांव चंबल नदी से लगभग 827 मिलियन लीटर (82.70 करोड़ लीटर यानी राष्ट्रीय मानक 135 लीटर प्रति व्यक्ति प्रतिदिन के हिसाब से लगभग 61 लाख लोगों के लिए रोज का पानी) पानी ले रहे हैं।
नर्मदा के महत्व को एक बार फिर से जागृत करने में लगी मप्र सरकार चंबल से एक बूंद पानी भी प्रदेश के शहरों के लिए नहीं ले पाई है। ये स्थिति तब है जब चंबल 346 किमी मप्र के हिस्से में बहती है। इंदौर में महू क्षेत्र से भिंड के पास पचनदा तक आने वाली चंबल पर प्रदेश का एकमात्र बांध मंदसौर में गांधी सागर है, लेकिन यहां भी चंबल से पानी की सप्लाई अभी तक शुरू नहीं हो पाई है। इस क्षेत्र में गरोठ तहसील तक जरूर पानी की लाइन पहुंच गई है।
फॉरेस्ट की एनओसी मिली पर मुरैना में आसान नहीं है राह
मुरैना के लिए अभी हाल ही में प्रोजेक्ट को केंद्रीय वन मंत्रालय की मंजूरी मिल गई है, लेकिन 160 करोड़ की योजना काफी पुरानी होने की वजह से डीपीआर नए सिरे से बनाई जाएगी। भिंड कलेक्टर टी इलैया राजा ने चंबल से पानी लाने के लिए 150 करोड़ का प्रोजेक्ट राज्य शासन को भेजा था। केंद्र की एनओसी का हवाला देते हुए इसे राज्य सरकार ने ही खारिज कर दिया।
भोपाल-इंदौर में तो पहाड़ चढ़ाकर ला रहे नर्मदा का पानी
प्रदेश की राजधानी भोपाल और आर्थिक राजधानी इंदौर में तमाम बाधाओं के बाद नर्मदा का पानी पहुंच गया है। भोपाल में 306 करोड़ की लागत से तैयार परियोजना के जरिये 75 किमी दूर सीहोर जिले के शाहगंज हीरानी से नर्मदा का पानी लिफ्ट कर सप्लाई किया जा रहा है। दूसरी ओर इंदौर में 1000 करोड़ रुपए खर्च कर तीन चरणों में 180 एमएलडी नर्मदा का पानी पहुंचाने का काम किया गया। इसके अलावा महू, राऊ और आसपास की तहसीलों में भी 50 एमएलडी पानी की सप्लाई हो रही है।
हम विचार कर रहे हैं, पांच साल में 5 प्रोजेक्ट पूरे कर लिए राजस्थान ने
वर्ष 2010 में मुरैना-ग्वालियर का प्रस्ताव बनाकर हम उस पर एक कदम भी आगे नहीं बढ़ पाए। उधर राजस्थान ने इस बीच में भीलवाड़ा और कोटा की दूसरी परियोजना पूरी कर ली। बूंदी में दो माह के अंदर पानी की सप्लाई शुरू हो जाएगी। करौली, सवाई माधौपुर और गंगापुर परियोजना मार्च 2018 तक पूरी हो जाएंगी। बोराबासा-मंडाना परियोजना पर काम चल रहा है।
नगर विकास मंत्री माया सिंह से सीधी बात…
मुरैना के लिए प्रोजेक्ट शुरू, ग्वालियर में 2050 तक पर्याप्त पानी
चंबल नदी से राजस्थान 827 एमएलडी पानी लेने की तैयारी में है, लेकिन हमारी सरकार योजनाएं तक नहीं बना पाई?
-मुरैना की योजना मंजूर हो गई है, इस पर काम भी शुरू हो गया है।
मुरैना तक पानी लाने की राशि केंद्र सरकार ने मंजूर कर दी थीं। वर्ल्ड बैंक से लोन लेने के निर्णय के बाद नए सिरे से डीपीआर बनाने के निर्देश दिए गए हैं?
-नहीं-नहीं ऐसा नहीं है। मुरैना में चंबल से पानी लाने वाली योजना का काफी कुछ काम हो गया है। रही बात ग्वालियर की तो यहां हमारे पास वर्ष 2050 तक के लिए पर्याप्त पानी है।
राजस्थान के कई जिलों में चंबल का पानी जा रहा है या इंदौर और भोपाल में नर्मदा से पानी लिफ्ट कर लाया गया है, लेकिन वहां के बिलों में बढ़ोतरी नहीं हुई? ऐसा ग्वालियर के लिए ही क्यों?
यह सवाल सुनकर फोन कट गया। दोबारा बात करने का प्रयास किया तो व्यस्तता की बात कही।

"जिलों की ख़बरें" से अन्य खबरें

भोपाल से दुबई और सिंगापुर तक उड़ान शुरू करने के लिए केंद्र से बात करेंगे : सीएम

भोपाल। अंतरराष्ट्रीय स्तर का एयरपोर्ट होने के बावजूद भोपाल से इंटरनेशनल उड़ानें शुरू न होने से एयरपोर्ट अथॉरिटी के साथ ही मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान भी चिंतित हैं।

सोलर एनर्जी प्लांट का शिलान्यास करते हुए सीएम ने कहा कि कम से कम दुबई एवं सिंगापुर के लिए उड़ानें शुरू होनी चाहिए। मैं इस संबंध में केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री से चर्चा करूंगा। मुख्यमंत्री एवं एयरपोर्ट अथॉरिटी के चेयरमेन डॉ. गुरु प्रसाद महामात्र ने संयुक्त रूप से 100 फीट ऊंंचे पोल पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया।

Read More

प्राइवेट मेडिकल कॉलेजों ने 25 से 80 लाख में बेच दीं 94 सीट

जबलपुर। मध्यप्रदेश हाईकोर्ट ने प्राईवेट मेडिकल कॉलेजों द्वारा 94 मेडिकल सीट 25 से 80 लाख रुपए में बेचे जाने के आरोप पर सरकार से जवाब मांग लिया है। इस सिलसिले में प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा और डीएमई के अलावा इंडैक्स इंदौर, एनएल भोपाल, अमलतास देवास, चिरायु भोपाल और आरकेडीएफ भोपाल को नोटिस जारी किए हैं।

Read More

यूपी : स्कूल की तीसरी मंजिल पर टॉयलेट गई थी 15 साल की लड़की, फर्श पर पड़ी मिली लहूलुहान

 देवरिया: उत्तर प्रदेश के देवरिया से एक दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है. सोमवार को यहां एक स्कूल की तीसरी मंजिल से 15 साल की छात्रा को किसी ने नीचे फेंक दिया, जिससे उसकी मौत हो गई. यह घटना शहर के मॉडर्न मॉन्टेसरी इंटर कॉलेज में 11वीं कक्षा में पढ़ने वाली यह छात्रा सोमवार सुबह करीब 11 बजे स्कूल की तीसरी मंजिल पर टॉयलेट के लिए गई थी. 

Read More

60 हजार अभ्यर्थी फिर दे सकेंगे आरक्षक भर्ती परीक्षा

भोपाल। मध्यप्रदेश के करीब 60 हजार अभ्यर्थी व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापमं) द्वारा आयोजित की जा रही आरक्षक भर्ती परीक्षा में शामिल नहीं हो पाए। विभिन्न् तकनीकी कारणों के चलते उन्हें यह खामियाजा भुगताना पड़ा। अब व्यापमं इन्हें फिर से प्रवेश पत्र जारी कर परीक्षा में शामिल करेगा। इधर, व्यापमं की दलील है कि यह सर्वर की दिक्कत की वजह से हुआ।

Read More

मुख्यमंत्री करेंगे अभियंताओं का सम्मान, सीधा संवाद भी होगा

भोपाल। विधानसभा के मानसरोवर सभागार में शुक्रवार को अभियंता दिवस मनाया जाएगा। यहां प्रदेश के पांच वरिष्ठ अभियंताओं का सम्मान किया जाएगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीतासरन शर्मा उन्हें सम्मानित करेंगे। इस दौरान मुख्यमंत्री सभी इंजीनियरों से सीधा संवाद भी करेंगे।

Read More

विधवा और दिव्यांग से शादी करने पर सरकार देगी दो लाख रुपए

भोपाल। मध्यप्रदेश में विधवा और दिव्यांग महिला व पुरुष से शादी करने पर सरकार ऐसे दंपती को दो लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि देगी। इसी तरह अनाथ बच्चों के भरण-पोषण के लिए पांच सौ रुपए प्रतिमाह देने की योजना भी जल्द ही लागू की जाएगी। सामाजिक न्याय मंत्री गोपाल भार्गव ने बुधवार को बैठक में इन तीन बड़ी योजनाओं को लागू करने की सैद्धांतिक सहमति दी।

Read More

43 हजार शिक्षकों को मिलेगी तीसरी क्रमोन्नति, खजाने पर 110 करोड़ का भार

भोपाल। प्रदेश सरकार ने मंगलवार को शिक्षक और किसान के हित में बड़े फैसले किए। अब 30 साल की नौकरी पूरी करने वाले शिक्षकों को तृतीय क्रमोन्नति मिलेगी। इसका सीधा फायदा 43 हजार शिक्षकों को मिलेगा। वहीं, 35 हजार अन्य शिक्षक भी अगले साल इससे लाभांवित होंगे।

Read More

केन-बेतवा लिंक विवाद : केंद्र ने कहा-मुख्यमंत्री बैठक के लिए तारीख तय करें

भोपाल। उत्तरप्रदेश और मध्यप्रदेश के बीच केन-बेतवा लिंक परियोजना में पानी के बंटवारे को लेकर चल रहे विवाद में एक बार फिर केंद्र ने दखल दिया है। नितिन गडकरी को जल संसाधन मंत्रालय मिलने के बाद केंद्र सरकार ने दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों को एक साथ बैठक के लिए तारीख तय करने के निर्देश दिए हैं। हालांकि अधिकारियों का कहना है कि मुख्यमंत्रियों की बैठक से पहले एक बार दोनों राज्यों के अधिकारी फिर से चर्चा करेंगे।

Read More

8 अक्टूबर को कॉलेजों में प्रत्यक्ष प्रणाली से होंगे छात्र संघ चुनाव

भोपाल। मध्यप्रदेश में आठ साल बाद अक्टूबर में होने जा रहे छात्र संघ चुनाव प्रत्यक्ष प्रणाली पर होंगे। यानी हर छात्र सीआर (कक्षा प्रतिनिधि) के लिए वोट डाल सकेगा। छात्र पर अपनी कक्षा से सीआर का चुनाव करेंगे और यह सीआर कॉलेज में विभिन्न पदों पर खड़े होने वाले प्रतिनिधियों को वोट देंगे।

Read More

सीएम की चेतावनी अफसरों पर बेअसर, दागियों के खिलाफ नहीं होती कार्रवाई

भोपाल। मप्र में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निशाने पर भले ही दागी अफसर हों, लेकिन हकीकत ये है कि उनकी चेतावनी का अफसरों पर कोई असर नहीं हो रहा है। जांच में दोषी पाए जाने के बाद भी अफसरों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो पाती है। ऑडियो टेप के जरिए कई अधिकारियों की कारगुजारियां सामने आईं पर किसी के खिलाफ कठोर कार्रवाई नहीं की गई।

Read More