mp mirror logo

सेंसेक्स 130 अंक ऊपर, एसीसी और अल्ट्रा सीमेंट टॉप गेनर

यूरोपीय बाजार खुलने से पहले भारतीय शेयर बाजार में तेजी जारी है। करीब 12.45 प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 130 अंक की बढ़त के साथ 30451 केस्तर पर और निफ्टी 31 अंक की बढ़त के साथ 9476 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। नैशनल स्टॉक एक्सचेंज पर मिडकैप 0.21 फीसद और स्मॉलकैप में 0.34 फीसद की बढ़त देखने को मिल रही है। दिग्गज शेयर्स में सबसे ज्यादा तेजी एसीसी, भारती एयरटेल, अल्ट्रासेमको, डॉ रेड्डी और टीसीएस के शेयर्स में है। वहीं, गिरावट जील, इंडिया बुल्स हाउसिंग फाइनेंस, एशियनपेंट, ओएनजीसी और कोल इंडिया के शेयर्स में है। सबसे ज्यादा खरीदारी आईटी (0.68 फीसद) सेक्टर में देखने को मिल रही है।

करीब 9.30 बजे
अंतरराष्ट्रीय बाजार से मिल रहे मिले जुले संकेतों के बीच मंगलवार के कारोबारी सत्र में भारतीय शेयर बाजार बढ़त के साथ खुले है। शेयर बाजार खुलने के चंद मिनटों के बाद की सेंसेक्स-निफ्टी ने छुआ ऑल टाइम हाई। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 180 अंक की तेजी के साथ 30,503 के स्तर पर और निफ्टी 40 अंक की बढ़त के साथ 9484 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। नैशनल स्टॉक एक्सचेंज पर मिडकैप में चौथाई फीसद और स्मॉलकैप में 0.11 फीसद की बढ़त देखने को मिल रही है।

वैश्विक बाजार में मिले जुले संकेत
अंतरराष्ट्रीय बाजार से मिल रहे मिले जुले संकेतों के बीच एशियाई बाजारों में कमजोरी देखने को मिल रही है। जापान का निक्केई 0.03 फीसद की बढ़त के साथ 19876 के स्तर पर और कोरिया का कोस्पी 0.04 फीसद की बढ़त के साथ 2291 के स्तर पर कारोबार कर रहे हैं। वहीं, चीन का शांघाई 0.39 फीसद की कमजोरी के साथ 3078 के स्तर पर और हैंगसैंग 0.24 फीसद की कमजोरी की साथ 25309 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। सोमवार को अमेरिकी बाजार बढ़त के साथ बंद हुए है। प्रमुख सूचकांक डाओ जोंस 0.41 फीसद की बढ़त के साथ 20981 के स्तर पर, एसएंडपी500 0.48 फीसद की बढ़त के साथ 2402 के स्तर पर और नैस्डैक 0.46 फीसद की बढ़त के साथ 6149 के स्तर पर कारोबार कर बंद हुआ है।

मेटल सेक्टर में खरीदारी
सेक्टोरियल इंडेक्स की बात करें तो सभी सूचकांक हरे निशान में कारोबार कर रहे हैं। सभी ज्यादा तेजी मेटल सेक्टर में देखने को मिल रही है। बैंक (0.05 फीसद), ऑटो (0.22 फीसद), फाइनेंशियल सर्विस (0.06 फीसद), एफएमसीजी (0.05 फीसद), आईटी (0.30 फीसद), फार्मा (0.08 फीसद) और रियल्टी (0.26 फीसद) की तेजी देखने को मिल रही है।

टाटा स्टील और टीसीएस टॉप गेनर
दिग्गज शेयर्स की बात करें तो 36 हरे निशान में और 15 गिरावट के साथ कारोबार कर रहे हैं। सबसे ज्यादा तेजी भारतीएयरटेल, आईओसी, टाटा स्टील, टीसीएस और आईसीआईसीआई बैंक के शेयर्स में देखने को मिल रही है। वहीं, गिरावट एशियनपेंट, सिप्ला, अदानीपोर्ट्स, कोटक बैंक और हिंडाल्को को शेयर्स में है।
 

"बिजनेस" से अन्य खबरें

इंडियन ऑयल को बेचने की तैयारी, इन 5 बैंकों की होगी हिस्सेदारी

केन्द्र सरकार ने अपनी सबसे बड़ी तेल कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन के शेयर्स को बेचने के लिए 5 बैंकों को हिस्सेदारी देने का फैसला किया है. न्यूज एजेंसी रॉयटर के हवाले से आई खबर के मुताबिक केन्द्र सरकार सभी बैंकों को 3 फीसदी हिस्सेदारी देकर सरकार अपने लिए फंड जुटाएगी.

Read More

अब आपके PF खाते में सेंध लगा सकती है नरेंद्र मोदी सरकार, न्‍यूनतम अंशदान बेसिक सैलरी का 10 फीसदी करने पर व‍िचार

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) का न्यासी बोर्ड अपनी सामाजिक सुरक्षा योजनाओं में अनिवार्य अंशदान को घटाकर 10 प्रतिशत करने के प्रस्ताव को कल मंजूरी दे सकता है। मौजूदा व्यवस्था के तहत कर्मचारी व नियोक्ता कर्मचारी भविष्य निधि योजना (ईपीएफ), कर्मचारी पेंशन योजना (ईपीएस) तथा कर्मचारी जमा सम्बद्ध बीमा योजना (ईडीएलआई) में कुल मिला कर मूल वेतन की 12-12 प्रतिशत राशि का योगदान (प्रत्येक) करते हैं।

Read More

चाय बेचने वालों को बड़ा फायदा, GST से चीनी और चाय सस्ते

वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू होने पर चीनी, चाय एवं कॉफी (इंस्टेंट कॉफी को छोड़कर) और दूध पाउडर पर कर का बोझ कम होगा क्योंकि चीनी पर वर्तमान कर की दर 8 फीसदी है जबकि जीएसटी कर की दर 5 फीसदी होगी।
इसी प्रकार से दूध पाउडर, चाय एवं कॉफी (इंस्टेंट कॉफी को छोड़कर) पर वर्तमान कर की दर 7 फीसदी है, जबकि प्रस्तावित जीएसटी में इसके लिए 5 फीसदी कर की दर तय की गई है।

Read More

BSNLने लॉन्च की सैटेलाइट फोन सर्विस, बिना नेटवर्क वाले क्षेत्रों में मिलेगी सेवा

नई दिल्ली। सार्वजनिक क्षेत्र की टेलिकॉम कंपनी बीएसएनएल ने इनमारसैट के जरिये सैटेलाइट फोन सर्विस शुरू की है। अभी कंपनी सरकारी एजेंसियों को यह सर्विस देगी। बाद में चरणबद्ध तरीके से यह सेवा दूसरे नागरिकों के लिए खोली जाएगी। फिलहाल टाटा कम्युनिकेशंस सरकारी एजेंसियों को सैटेलाइट फोन सर्विस प्रदान कर रही है।

Read More

मकानों के लिये कर्ज पर 'ब्याज सब्सिडी योजना' से घर के सपने को लग सकते हैं

लखनऊ: केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार द्वारा सस्ते मकान उपलब्ध कराने के लिये शुरू की गई कर्ज से जुड़ी ब्याज सब्सिडी योजना (सीएलएसएस) से आम गरीबों के साथ-साथ मध्यम आय वर्ग के लोगों के भी घर के सपने को पंख लग सकते हैं. प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत इस महत्वपूर्ण पहल के तहत निजी बिल्डरों को भी काम करने की छूट से यह काम और आसान हो गया है.

Read More

GST लागू होने से घट सकते हैं विदेशी टूरिस्‍ट,'जीएसटी से राज्य की आर्थिक स्थिति होगी मजबूत'

नई दिल्ली: जीएसटी काउंसिल ने कई वस्तुओं और सेवाओं पर जीएसटी टैक्स की दरें पिछले हफ्ते तय कर दी हैं. अब सरकार की ओर से कहा गया है कि वे स्मार्टफोन खरीदने वालों, विभिन्न प्रकार के चिकित्सकीय उपकरणों और सीमेंट की कीमतें टैक्स के लागू होने के चलते कम हो जाएंगी. यानी, 1 जुलाई को जीएसटी पूरे देश में लागू होने के बाद आपको ये चीजें अपेक्षाकृत सस्ती पड़ेंगी. इसके अलावा पूजा सामग्री को जीएसटी की 'nil' कैटिगरी में रखा गया है. 

Read More

जीएसटी में घर बनाना हुआ महंगा कई चीजों पर बढ़ी टैक्स दरे

नई दिल्ली. जीएसटी में कई चीजों पर बढ़ी टैक्स दरों से आने वाले समय में घर बनाना महंगा हो जाएगा। घर बनाने में इस्तेमाल सामान पर 8.75% तक टैक्स बढ़ रहा है। प्लाईबोर्ड, पार्टिकल बोर्ड पर 19.25% की जगह जीएसटी में 28% यानी 8.75% ज्यादा टैक्स लगेगा। टाइल्स पर भी 28% टैक्स लगेगा, जो कि मौजूदा दरों से 8.25% ज्यादा बनता है। हालांकि घर सजाने के सामान पर 12.5% तक कम टैक्स लगेगा। एक्सपर्ट्स से जानें जीएसटी का आप पर असर...

Read More

GST से सैनिटरी पै : दूध, अनाज, सब्जियां सस्ती, तेल-घी होगा महंगा

जीएसटी परिषद की श्रीनगर में गुरुवार को हुई बैठक में दूध और अनाज को इसके दायरे में नहीं लाने का फैसला लिया गया। इसके साथ ही तेल और साबुन की कर दरों में कटौती को मंजूरी दी गई है। केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता वाली परिषद ने बैठक के पहले सत्र में नए नियमों को मंजूरी दी।
तेल-साबुन पर दर घटी : जीएसटी के तहत बालों के तेल, साबुन, टूथपेस्ट पर 18 प्रतिशत की दर से जीएसटी लगेगा। जबकि अभी इस पर कर की दर 22 से 24 फीसदी है।

Read More

ईपीएफअो ने अब पीएफ निकालने की समयसीमा को किया कम

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ने पीएफ निकासी, पेंशन और बीमा जैसे विभिन्न दावों के निपटान के लिए निर्धारित समयसीमा को मौजूदा 20 दिन से घटाकर 10 दिन कर दिया है। जुलाई 2015 में, कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन (EPFO) ने विभिन्‍न दावों को निपटाने की समयावधि को घटाकर 20 दिन किया था। अपने 4 करोड़ से अधिक सदस्‍यों को बेहतर सर्विस उपलब्‍ध कराने के लिए संगठन ने 1 मई 2017 को ऑनलाइन क्‍लेम सेटलमेंट सुविधा भी शुरू की थी। संगठन की योजना है कि आधार और बैंक एकाउंट से जुड़े सभी ईपीएफ खातों के दावों का निराकरण आवेदन मिलने के तीन घंटे के भीतर ही कर दिया जाए। 

Read More

2018 में भारत की विकास दर 8% मुमकिन, बैंकों का फंसा कर्ज मोदी सरकार के लिए बड़ी चिंता: संयुक्त राष्ट्र

संयुक्त राष्ट्र: संयुक्त राष्ट्र ने 2017 में भारत के लिए अपने आर्थिक वृद्धि दर अनुमान में कमी की है हालांकि उसको उम्मीद है कि अगले साल यह बढ़कर 7.9 प्रतिशत हो जाएगी. संयुक्त राष्ट्र ने आगाह किया है कि देश के बैंकिंग क्षेत्र के खराब प्रदर्शन के चलते निकट भविष्य में निवेश में शायद ज्यादा मजबूती नहीं आए. यहां मंगलवार (16 मई) को जारी ‘संयुक्त राष्ट्र विश्व आर्थिक परिस्थिति व परिदृश्य’ रपट (मध्य 2017)में यह निष्कर्ष निकाला गया है. इसके अनुसार 2017 में भारत की जीडीपी वृद्धि दर 7.3 प्रतिशत रहना अनुमानित है. संयुक्त राष्ट्र ने अपने अनुमान में कमी की है क्योंकि जनवरी 2017 में उसने वृद्धि दर 7.7 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया था.

Read More