mp mirror logo

हंगामा व वेल में नारेबाजी से दोनों सदन कल 11 बजे तक स्थगित

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की 17वीं विधानसभा के पहले सत्र का पहला दिन आज हंगामे की भेंट चढ़ गया। समाजवादी पार्टी के साथ ही बसपा व कांग्रेस के विधायकों के प्रदेश में खराब कानून-व्यवस्था को लेकर हंगामा किया। जिसके कारण राज्यपाल के संबोधन के बाद आज दोनों सदन को कल दिन में 11 बजे तक स्थगित कर दिया गया। 

विधान परिषद में भी विपक्ष ने काफी हंगामा किया। इस दौरान वेल में नारेबाजी भी की गई। जिसके कारण सदन की आगे की कार्यवाही कल तक 11 बजे तक स्थगित कर दी गई है। 

लखनऊ में आज विधानसभा की कार्यवाही शुरु होते ही हंगामा होने लगा। इस हंगामा के दौरान राज्यपाल राम नाईक के ऊपर विपक्ष ने कागज के टुकड़े फेंके। लॉ एंड आर्डर की स्थिति को लेकर समाजवादी पार्टी के विधायको ने हाथ में बैनर और तख्ती लेकर प्रदर्शन और हंगामा किया। विपक्षी विधायक सदन में प्लेकार्ड लेकर आए थे। राज्यपाल का अभिभाषण शुरू होते ही समाजवादी पार्टी के विधायकों ने उनकी ओर कागज के गोले फेंके। सभी सपा नेता लाल टोपी पहनकर आए हैं और हाथों में सीटी भी थी। कानून व्यवस्था को लेकर विपक्ष लामबंद है।
हंगामे के बीच राज्यपाल ने पूरा किया संबोधन

राज्यपाल राम नाइक ने हंगामे और नारेबाजी के दौरान ही अपना संबोधन पूरा किया। विपक्ष के हंगामे पर कैबिनेट के मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि हम आशा करते हैं कि विपक्ष अपनी सकारात्मक भूमिका निभाएगा। सिद्धार्थ नाथ ने कहा कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर विपक्ष को आत्मनिरीक्षण करना चाहिए। सिद्धार्थ नाथ सिंह ने समाजवादी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि सपा सरकार खुद राज्य की कानून-व्यवस्था बेहतर नहीं कर पाई और हमसे 50 दिनों की रिपोर्ट मांगी जा रही है। इससे पहले राज्यपाल राम नाईक के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी विधानभवन में पहुंचे। राष्ट्रगान के बाद विधानसभा की कार्यवाही शुरु की गई।

भाजपा ने नए विधायकों को प्रशिक्षित किया 

विपक्ष के विरोध को झेलने के लिए भाजपा ने पूरी तैयारी की है। नए विधायकों को सदन में व्यवहार के लिए प्रशिक्षित किया गया है। सरकार भी करीब 2 महीने के शासनकाल के दौरान अपने कामों का खाका पेश करेगी। सदन में विपक्ष का संख्या बल महज 74 विधायकों का है, लेकिन हाल ही में बुलंदशहर, सहारनपुर, संभल और गोंडा में जातीय और सांप्रदायिक हिंसा को मुद्दा बनाकर सरकार के पक्ष को कमजोर करने की कोशिश होगी।


उत्तर प्रदेश में योगी सरकार की हुकूमत कायम होने के बाद सोमवार 15 मई से पहले विधानसभा सत्र की शुरुआत हुई। 17वीं विधानसभा के गठन के बाद विधानमंडल का आज पहला सत्र है। विधानसभा अध्यक्ष की अगुआई में कार्य मंत्रणा समिति की बैठक में 15 से 22 मई तक के कार्यक्रम को मंजूरी दी गई। इस बीच सदन की छह बैठकें होंगी। सत्र के दौरान विधानसभा की कार्यवाही का लोकसभा की तरह दूरदर्शन पर सीधा प्रसारण होगा। 

विपक्ष कर सकती है इन मुद्दों पर हमला

विपक्ष ने विधानसभा के पहले सत्र में योगी सरकार पर जोरदार हमला करने की तैयारी कर ली है। ऐसे में सदन में कितनी मर्यादा का ख्याल रखा जाएगा और नेता चर्चा कितनी करेंगे यह देखना दिलचस्प होगा। विपक्ष की ओर से योगी सरकार पर पहला हमला कानून व्यवस्था को लेकर किया जाएगा। इसके अलावा ब्याज सहित गन्ना मूल्य भुगतान, समाजवादी पेंशन बंद करने और प्रदेश में विकास कार्य ठप रहने के मुद्दों पर भी सरकार को विपक्ष घेरने की कोशिश करेगा।

सदन संचालन के लिए कल बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी दलों के नेताओं से सहयोग की अपेक्षा की और सदन अधिकतम अवधि तक चलाए जाने का आश्वासन भी दिया। उन्होंने कहा कि सभी सदस्य शांतिपूर्वक राज्यपाल का अभिभाषण सुनें ताकि पता चले कि सरकार लोक कल्याण के कौन से काम कर रही है। 

विधानसभा अध्यक्ष हृदयनारायण दीक्षित का कहना था कि तार्किक व गुणात्मक बहस से ही जनता को लाभ पहुंचाया जा सकता है। संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि पक्ष व विपक्ष के सहयोग से ही सदन को सुचारू रूप से चलाया जा सकता है। बैठक में नेता विरोधी दल रामगोविंद चौधरी की गैरहाजिरी चर्चा का मुद्दा थी। चौधरी का कहना है अपरिहार्य कारणों से वह बैठक में नहीं पहुंच सके। इसे किसी तरह के विरोध से नहीं जोड़ा जाना चाहिए। बैठक में बसपा के लालजी वर्मा, सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के ओमप्रकाश राजभर, व कांग्रेस के अजय कुमार व अपना दल के नील रतन सिंह पटेल 'नीलू' ने अपने दलों की ओर से सहयोग प्रदान करने का आश्वासन दिया। 

जीएसटी पर हो सकती है बहस

वैसे तो योगी सरकार का विधानसभा में बहुमत है लेकिन विधानपरिषद में समाजवादी पार्टी बहुमत में है। विपक्ष जोरदार हमले में कोई कोर कसर नहीं छोडऩा चाहता। संसदीय कार्यमंत्री सुरेश खन्ना के अनुसार इसी सत्र में जीएसटी विधोयक भी पारित कराया जाना है। सरकार की कोशिश है इसे जल्द से जल्द पारित करा लिया जाए।

विधानसभा अध्यक्ष ने विधानभवन की सुरक्षा समिति की बैठक बुलाई। उन्होंने विधानभवन परिसर के भीतर और बाहर सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद रखने के निर्देश दिए।

"राजनीतिक खबरें" से अन्य खबरें

भड़कीं ममता बनर्जी, नरेंद्र मोदी को बताया तुगलक

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी शुक्रवार (24 नवंबर) को पीएम नरेंद्र मोदी से बेहद खफा नजर आईं। ममता बनर्जी ने पीएम मोदी को ‘तुलगक’ करार दिया। कोलकाता में इंडिया टुडे कॉन्क्लेव ईस्ट 2017 में अपना संबोधन देते वक्त ममता बनर्जी आक्रामक अंदाज में दिखीं। ममता बनर्जी ने पीएम मोदी को तुलगक तो कहा ही, साथ ही ये भी आरोप लगाया कि केन्द्र सरकार उद्योगपतियों को पश्चिम बंगाल में कल-कारखाने नहीं लगाने के लिए उकसा रही है।

Read More

अब बीजेपी नेता ने दिया बयान, 'तेजप्रताप यादव को थप्पड़ मारो, 1 करोड़ रुपये इनाम पाओ'

पटना: आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बेटे और बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव द्वारा सुशील मोदी पर दिए गए आपत्तिजनक बयान के बाद खुद लालू ने सुशील मोदी को विश्वास दिलाया था कि वे बेटे की शादी आराम से करें, तेजप्रताप कुछ नहीं करेगा. इसके बाद लगा था कि मामला शांत हो गया, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. पटना बीजेपी कार्यालय के प्रेस प्रभारी ने अपने बयान से एक बार फिर इस मुद्दे को ताजा कर दिया. इन्होंने घोषणा की कि तेजप्रताप को थप्पड़ मारने वाले को 1 करोड़ रुपये का इनाम दिया जाएगा. अपनी पार्टी के इस नेता के बयान से खुद सुशील मोदी काफी नाराज हैं. उन्होंने कहा कि इस नेता के खिलाफ कारण बताओ नोटिस जारी किया जाएगा.

Read More

संसद के शीत सत्र की तारीखों का एेलान: 15 दिसंबर से 5 जनवरी तक चलेगा संसद का शीतकालीन सत्र

संसद के शीत सत्र की तारीखों का एेलान कर दिया गया है। सीसीपीए के मुताबिक संसद का शीत सत्र 15 दिसंबर से 5 जनवरी तक चलेगा। तारीखों का एेलान नहीं करने को लेकर बीते दिनों कांग्रेस ने नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा था। वरिष्ठ कांग्रेसी नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने तल्ख लहजे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संसार के रचयिता ब्रह्मा तक बता दिया था। लोकसभा में कांग्रेस पार्टी के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा, “मोदी ब्रह्मा हैं… वह रचयिता हैं… सिर्फ वही जानते हैं कि संसद कब शुरू होगी। 

Read More

सोनिया की मीटिंग में पारित हुआ मोदी के खिलाफ निंदा प्रस्ताव

रायबरेली. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी गुरुवार को अपने संसदीय क्षेत्र का दौरा करने पहुंची. भूएमउ गेस्ट हाउस में लोगों से मुलाकात करने के बाद सोनिया ने निगरानी समिति की बैठक की अध्यक्षता की. इस दौरान स्थानीय सपा विधायक और कैबिनेट मंत्री मनोज पांडेय ने रायबरेली के लिए केंद्रीय निधि में कटौती का मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा कि केंद्रीय निधि में कटौती होने से रायबरेली का विकास नहीं हो पा रहा है. इस मामले को लेकर निगरानी समिति की बैठक में सदस्यों ने पीएम मोदी की निंदा की. विधायक ने केंद्र को रायबरेली के विकास को लेकर चिट्ठी लिखने की बात भी कही है.

Read More

बिहार बीजेपी अध्यक्ष का ऐलान- नरेंद्र मोदी की तरफ उठने वाली उंगली तोड़ देंगे, हाथ काट देंगे

बिहार बीजेपी के अध्यक्ष और उजियारपुर से लोकसभा सांसद नित्यानंद राय ने सोमवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश का नेतृत्व करने के लिए कई मुश्किलों का सामना किया था। यह हम सभी के लिए गर्व की बात है। उन्होंने कहा, ”अगर कोई भी उंगली या हाथ उनके खिलाफ उठा, तो उसे तोड़ या काट दिया जाएगा।” राय ने वैश्य और कनु (ओबीसी) समुदायों द्वारा आयोजित समारोह में यह बात कही। 

Read More

मुख्यालय में CWC की अहम बैठक, राहुल गांधी की ताजपोशी पर फैसला संभव

नई दिल्लीः  दिल्ली में आज (सोमवार) कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC) की बैठक होने जा रही है. गुजरात चुनाव में कांग्रेस पार्टी की कमान संभाल रहे पार्टी उपाध्यक्ष को लेकर इस बैठक में अहम निर्णय लिया जा सकता है. खबर है कि आज (सोमवार) होने वाली बैठक में कांग्रेस पार्टी की कमान राहुल गांधी को सौंपे जाने को लेकर फैसला हो सकता है.

Read More

यशवंत सिन्हा का PM मोदी पर निशाना- 700 साल पहले तुगलक ने भी की थी नोटबंदी

अहमदाबाद: बीजेपी के वरिष्‍ठ नेता और पूर्व केंद्रीय वित्‍त मंत्री यशवंत सिन्‍हा सरकार के नोटबंदी और जीएसटी केे फैसलों पर लगातार हमलावर रुख अपनाए हुए हैं. इसी कड़ी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर नोटबंदी को लेकर निशाना साधते हुए यशवंत सिन्हा ने कहा है कि 14वीं सदी के दिल्ली सुल्तान मोहम्मद बिन तुगलक ने भी 700 साल पहले नोटबंदी की थी. इस विवादित कदम के लिए मोदी की आलोचना करते हुए सिन्हा ने कहा कि नोटबंदी ने देश की अर्थव्यवस्था को 3.75 लाख करोड़ रुपये का नुकसान पहुंचाया है.

Read More

UP निकाय चुनाव प्रचार की शुरुआत अयोध्या से, योगी बोले- राम बिना कोई काम नहीं हो सकता

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने पहले टेस्ट के लिए तैयार हैं. यह चुनावी टेस्ट उत्तर प्रदेश के निकाय चुनाव का है जहां जनता उनके सात महीने के कामकाज को अपनी कसौटी पर कसेगी.

अयोध्या से निकाय चुनाव के लिए प्रचार शुरू करने पर CM योगी का कहना है कि राम के बगैर भारत में कोई काम नहीं हो सकता है, राम हमारी आस्था के प्रतीक हैं भारत की पूरी आस्था के केंद्र बिंदु हैं.

Read More

डोनाल्ड ट्रंप के साथ गोल्‍फ खेलते हुए गिरे जापानी पीएम शिंजो एबी, वीडियो वायरल

अमेरिका के राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के जापान दौरे के दौरान जापान के प्रधानमंत्री शिंजो एबी ने ट्रंप के साथ गोल्‍फ खेला लेकिन खेल के खत्‍म होने के बाद ऊपर चढ़ने के दौरान संतुलन बिगड़ जाने के कारण एबी गड्ढे में पीछे की ओर लुढ़क गए। हालांकि बिना किसी मदद के ही वे खुद को संभालते हुए तुरंत उठ खड़े हुए

Read More

गुजरात मिशन पर पहुंचे राहुल गांधी ने GST पर सरकार को फिर घेरा, कहा- हिन्दुस्तान को 5 अलग-अलग टैक्स नहीं चाहिए

गांधीनगर: गुजरात विधानसभा चुनाव के मद्देनजर राज्य में तीन दिवसीय दौरे पर पहुंचे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने जीएसटी को लेकर कल की गई सरकार की घोषणाओं की तारीफ की. उन्होंने अपने दौरे की शुरुआत अक्षरधाम मंदिर में जाकर की जहां वह सीधे एयरपोर्ट से पहुंचे थे.  इसके बाद उन्होंने गांधीनगर के ही  चिलोबा में लोगों से रुबरु होते हुए कहा, अच्छी बात है, कांग्रेस पार्टी और हिन्दुस्तान की जनता ने बीजेपी पर दबाव डाला और 20 फीसदी से काफी आइटम उन्होंने 18 फीसदी में ला दिए.

Read More