mp mirror logo

हंगामा व वेल में नारेबाजी से दोनों सदन कल 11 बजे तक स्थगित

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की 17वीं विधानसभा के पहले सत्र का पहला दिन आज हंगामे की भेंट चढ़ गया। समाजवादी पार्टी के साथ ही बसपा व कांग्रेस के विधायकों के प्रदेश में खराब कानून-व्यवस्था को लेकर हंगामा किया। जिसके कारण राज्यपाल के संबोधन के बाद आज दोनों सदन को कल दिन में 11 बजे तक स्थगित कर दिया गया। 

विधान परिषद में भी विपक्ष ने काफी हंगामा किया। इस दौरान वेल में नारेबाजी भी की गई। जिसके कारण सदन की आगे की कार्यवाही कल तक 11 बजे तक स्थगित कर दी गई है। 

लखनऊ में आज विधानसभा की कार्यवाही शुरु होते ही हंगामा होने लगा। इस हंगामा के दौरान राज्यपाल राम नाईक के ऊपर विपक्ष ने कागज के टुकड़े फेंके। लॉ एंड आर्डर की स्थिति को लेकर समाजवादी पार्टी के विधायको ने हाथ में बैनर और तख्ती लेकर प्रदर्शन और हंगामा किया। विपक्षी विधायक सदन में प्लेकार्ड लेकर आए थे। राज्यपाल का अभिभाषण शुरू होते ही समाजवादी पार्टी के विधायकों ने उनकी ओर कागज के गोले फेंके। सभी सपा नेता लाल टोपी पहनकर आए हैं और हाथों में सीटी भी थी। कानून व्यवस्था को लेकर विपक्ष लामबंद है।
हंगामे के बीच राज्यपाल ने पूरा किया संबोधन

राज्यपाल राम नाइक ने हंगामे और नारेबाजी के दौरान ही अपना संबोधन पूरा किया। विपक्ष के हंगामे पर कैबिनेट के मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि हम आशा करते हैं कि विपक्ष अपनी सकारात्मक भूमिका निभाएगा। सिद्धार्थ नाथ ने कहा कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर विपक्ष को आत्मनिरीक्षण करना चाहिए। सिद्धार्थ नाथ सिंह ने समाजवादी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि सपा सरकार खुद राज्य की कानून-व्यवस्था बेहतर नहीं कर पाई और हमसे 50 दिनों की रिपोर्ट मांगी जा रही है। इससे पहले राज्यपाल राम नाईक के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी विधानभवन में पहुंचे। राष्ट्रगान के बाद विधानसभा की कार्यवाही शुरु की गई।

भाजपा ने नए विधायकों को प्रशिक्षित किया 

विपक्ष के विरोध को झेलने के लिए भाजपा ने पूरी तैयारी की है। नए विधायकों को सदन में व्यवहार के लिए प्रशिक्षित किया गया है। सरकार भी करीब 2 महीने के शासनकाल के दौरान अपने कामों का खाका पेश करेगी। सदन में विपक्ष का संख्या बल महज 74 विधायकों का है, लेकिन हाल ही में बुलंदशहर, सहारनपुर, संभल और गोंडा में जातीय और सांप्रदायिक हिंसा को मुद्दा बनाकर सरकार के पक्ष को कमजोर करने की कोशिश होगी।


उत्तर प्रदेश में योगी सरकार की हुकूमत कायम होने के बाद सोमवार 15 मई से पहले विधानसभा सत्र की शुरुआत हुई। 17वीं विधानसभा के गठन के बाद विधानमंडल का आज पहला सत्र है। विधानसभा अध्यक्ष की अगुआई में कार्य मंत्रणा समिति की बैठक में 15 से 22 मई तक के कार्यक्रम को मंजूरी दी गई। इस बीच सदन की छह बैठकें होंगी। सत्र के दौरान विधानसभा की कार्यवाही का लोकसभा की तरह दूरदर्शन पर सीधा प्रसारण होगा। 

विपक्ष कर सकती है इन मुद्दों पर हमला

विपक्ष ने विधानसभा के पहले सत्र में योगी सरकार पर जोरदार हमला करने की तैयारी कर ली है। ऐसे में सदन में कितनी मर्यादा का ख्याल रखा जाएगा और नेता चर्चा कितनी करेंगे यह देखना दिलचस्प होगा। विपक्ष की ओर से योगी सरकार पर पहला हमला कानून व्यवस्था को लेकर किया जाएगा। इसके अलावा ब्याज सहित गन्ना मूल्य भुगतान, समाजवादी पेंशन बंद करने और प्रदेश में विकास कार्य ठप रहने के मुद्दों पर भी सरकार को विपक्ष घेरने की कोशिश करेगा।

सदन संचालन के लिए कल बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी दलों के नेताओं से सहयोग की अपेक्षा की और सदन अधिकतम अवधि तक चलाए जाने का आश्वासन भी दिया। उन्होंने कहा कि सभी सदस्य शांतिपूर्वक राज्यपाल का अभिभाषण सुनें ताकि पता चले कि सरकार लोक कल्याण के कौन से काम कर रही है। 

विधानसभा अध्यक्ष हृदयनारायण दीक्षित का कहना था कि तार्किक व गुणात्मक बहस से ही जनता को लाभ पहुंचाया जा सकता है। संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि पक्ष व विपक्ष के सहयोग से ही सदन को सुचारू रूप से चलाया जा सकता है। बैठक में नेता विरोधी दल रामगोविंद चौधरी की गैरहाजिरी चर्चा का मुद्दा थी। चौधरी का कहना है अपरिहार्य कारणों से वह बैठक में नहीं पहुंच सके। इसे किसी तरह के विरोध से नहीं जोड़ा जाना चाहिए। बैठक में बसपा के लालजी वर्मा, सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के ओमप्रकाश राजभर, व कांग्रेस के अजय कुमार व अपना दल के नील रतन सिंह पटेल 'नीलू' ने अपने दलों की ओर से सहयोग प्रदान करने का आश्वासन दिया। 

जीएसटी पर हो सकती है बहस

वैसे तो योगी सरकार का विधानसभा में बहुमत है लेकिन विधानपरिषद में समाजवादी पार्टी बहुमत में है। विपक्ष जोरदार हमले में कोई कोर कसर नहीं छोडऩा चाहता। संसदीय कार्यमंत्री सुरेश खन्ना के अनुसार इसी सत्र में जीएसटी विधोयक भी पारित कराया जाना है। सरकार की कोशिश है इसे जल्द से जल्द पारित करा लिया जाए।

विधानसभा अध्यक्ष ने विधानभवन की सुरक्षा समिति की बैठक बुलाई। उन्होंने विधानभवन परिसर के भीतर और बाहर सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद रखने के निर्देश दिए।

"राजनीतिक खबरें" से अन्य खबरें

राहुल गांधी सहारनपुर के लिए निकले, यूपी प्रशासन ने नहीं दी है इजाजत

राहुल गांधी शनिवार (27 मई) को उत्तर प्रदेश के सहारनपुर के लिए निकल गए। कांग्रेस पार्टी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी को अथॉरिटी से इजाजत नहीं मिली है बावजूद इसके वह वहां जा रहे हैं।

Read More

शत्रुघ्न सिन्हा का रजनीकांत के प्रति 'प्यार' और बीजेपी पर 'वार', पढ़ें- क्या है पूरा मामला

नई दिल्ली: भाजपा के वरिष्ठ नेता शत्रुघ्न सिन्हा का सोशल मीडिया पर खुद की पार्टी के प्रति 'वार' और रजनीकांत के लिए उमड़ा 'प्यार' उन्हें राजनीति में लाने में कामयाब रहता है या नहीं यह तो समय ही बताएगा, लेकिन यह सच है कि उनका 'वार' बताता है कि बीजेपी से लगाव अब खत्म होने के कगार पर पहुंच चुका है.

अभिनेता और बिहार से बीजेपी के सांसद शत्रुघ्‍न सिन्‍हा ने रजनीकांत को राजनीति में आने की सलाह दी है. शत्रुघ्न सिन्हा ने कई ट्वीट के जरिए कहा, रजनीकांत कोई भी राजनीतिक पार्टी ज्‍वाइन करें और लोगों को खुद से जुड़ने का मौका दें. उन्‍होंने रजनीकांत को तमिलनाडु का टाइटैनिक हीरो और भारत का लाल बताया और कहा, 'लोग आपके साथ हैं और सुपरस्‍टार रजनी के साथ जुड़ने को तैयार हैं, किसी और के साथ जुड़ने से बेहतर है कि लोग आपके साथ जुड़ें.

Read More

सोनिया गांधी के लंच के लिए दिल्ली पहुंचीं ममता बनर्जी, पर नहीं आएंगे नीतीश कुमार, अरविंद केजरीवाल को न्योता ही नहीं

जुलाई में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के लिए विपक्षी दल साझा उम्मीदवार उतारने की तैयारी जोर-शोर से कर रहे हैं। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी शुक्रवार (26 मई) को गैर-एनडीए दलों से लंच पर मुलाकात करने वाली हैं। लेकिन खबर है कि बिहार के सीएम और जदयू प्रमुख नीतीश कुमार इस लंच में नहीं शामिल होंगे। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के प्रमुख अरविंद केजरीवाल को इसमें आमंत्रित ही नहीं किया गया है। वहीं तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी इस लंच के लिए दिल्ली पहुंच चुकी हैं।

Read More

स्मृति ईरानी डिग्री मामला पहुंचा दिल्ली हाईकोर्ट

नई दिल्ली: स्मृति ईरानी का डिग्री मामला दिल्ली हाईकोर्ट पहुंच गया है.  हाईकोर्ट ने ट्रायल कोर्ट का रिकॉर्ड तलब किया है. इस मामले की सुनवाई 13 सितंबर को होगी. इससे पहले पटियाला हाउस कोर्ट ने 11 साल की देरी की वजह से याचिका को खारिज कर दिया था. 18 अक्तूबर 2016 को दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने शैक्षणिक योग्यता के बारे में कथित तौर पर गलत सूचना देने को लेकर पूर्व केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी के खिलाफ दायर शिकायत को रद्द कर दिया था. ये स्मृति ईरानी के लिए बड़ी राहत थी क्योंकि उनकी शिक्षा को लेकर चुनाव आयोग को दिए गए हलफनामे पर कई बार सवाल उठाए गए थे.

Read More

योगी सरकार का फ़ैसला, अखिलेश राज में जारी अल्पसंख्यक कोटा होगा ख़त्म

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ सत्ता में आने के बाद लगातार अपनी पूर्ववर्ती सरकार के फैसलों को पलट रहे हैं. अब योगी सरकार पिछली अखिलेश सरकार की एक और योजना को खत्म करने जा रही है. योगी सरकार राज्य की सभी योजनाओं से अल्पसंख्यक कोटे को खत्म करने जा रही है.

Read More

बनारस के संत ने कहा- नरेंद्र मोदी में नहीं है दम, नीतीश को बनाओ पीएम

बिहार की नीतीश कुमार सरकार ने गंगा सफाई को लेकर दो दिन की सेमिनार का आयोजन किया था। इस सेमिनार में जो हुआ उसे देखकर कहा जा सकता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कड़ी टक्कर मिल सकती है। दिल्ली में बिहार सरकार की ओर से आयोजित कराए गए दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन का विषय था ‘गंगा की अविरलता में बाधक गाद, समस्या व समाधान’। सम्मेलन में बोलते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि गंगा नदी के निरंतर प्रवाह का मुद्दा राजनीतिक नहीं है और इस पर कदम उठाना ही होगा। नीतीश ने कहा कि आज गंगा की स्थिति देखकर रोना आता है।

Read More

पश्चिम बंगाल निकाय चुनाव नतीजे: ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस को मिली शानदार जीत, 7 में से 4 वार्ड पर पाई फतह

पश्चिम बंगाल के 7 नगर निगमों के नतीजे बुधवार को जारी कर दिए गए। इनमें से 4 पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की अगुआई वाली तृणमूल कांग्रेस ने जीत हासिल की है। पुजाली, मिरिक, रायगंज और दोमकल में टीएमसी को जीत मिली है। निकाय चुनाव दार्जिलिंग, कलिम्पोंग, मिरिक, दोमकल, रायगंज और पुजाली में हुए थे। एएनआई के मुताबिक तृणमूल कांग्रेस को मुर्शिदाबाद जिले के दोमकल में 21 में से 18 सीटें मिली हैं। बाकी तीन सीटों में एक कांग्रेस को और सीपीआई (एम) को 2 सीटें मिली हैं।

Read More

हंगामा व वेल में नारेबाजी से दोनों सदन कल 11 बजे तक स्थगित

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की 17वीं विधानसभा के पहले सत्र का पहला दिन आज हंगामे की भेंट चढ़ गया। समाजवादी पार्टी के साथ ही बसपा व कांग्रेस के विधायकों के प्रदेश में खराब कानून-व्यवस्था को लेकर हंगामा किया। जिसके कारण राज्यपाल के संबोधन के बाद आज दोनों सदन को कल दिन में 11 बजे तक स्थगित कर दिया गया। 

विधान परिषद में भी विपक्ष ने काफी हंगामा किया। इस दौरान वेल में नारेबाजी भी की गई। जिसके कारण सदन की आगे की कार्यवाही कल तक 11 बजे तक स्थगित कर दी गई है। 

Read More

अमित शाह ने गुजरात के लिए रखा 150 सीटों का टारगेट, सभी 182 सीटों पर एक-एक कर मंथन शुरू

गुजरात में आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर बीजेपी ने उम्मीद जताई है कि पार्टी 182 में से 150 सीटों पर जीत दर्ज करेगी। बीजेपी ने चुनाव से 6 महीने पहले ही चुनावी अभियान शुरु कर दिया है। इसके लिए बीजेपी ने अभी से एक-एक सीट के लिए मंथन करना शुरु कर दिया है। शुक्रवार को बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने राज्य के सीएम विजय रुपानी और अन्य नेता के साथ बैठक की। पार्टी सूत्रों के मुताबिक चुनावों पर चर्चा करने के अलावा अमित शाह ने कई राजनीतिक मुद्दों पर भी बातचीत की और राज्य सरकार और पार्टी द्वारा कई कार्यक्रमों का आयोजन करने की बात कही।

Read More

जान‍िए, क्‍यों राहुल गांधी ने एक्‍ट्रेस से नेता बनीं राम्‍या को सौंपी कांग्रेस सोशल मीड‍िया टीम की कमान

कांग्रेस ने अपने डिजिटल और सोशल मीडिया कैंपेन की कमान फिल्मों से राजनीति में आई अभिनेत्री राम्या को सौंप दी है। 34 साल की राम्या कन्नड़ फिल्मों की मशहूर अदाकारा रह चुकी हैं। राम्या ने साल 2012 में कांग्रेस ज्वॉइन किया और कर्नाटक से सांसद बन लोक सभा पहुंची। कांग्रेस पार्टी के आलाकमान ने दीपेंदर सिंह हुड्डा को हटा कर अब राम्या को अपनी सोशल मीडिया टीम का प्रमुख बनाया है।

Read More