mp mirror logo

रजिस्टर्ड ब्रोकर ही कर सकेंगे प्रॉपर्टी खरीदी-बिक्री का काम

भोपाल। अब कोई भी पान की दुकान पर खड़े होकर प्रॉपर्टी ब्रोकिंग या डीलिंग का धंधा नहीं कर पाएगा। इसके लिए अब बाकायदा लाइसेंस लेना होगा। रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉरटी (रेरा) के एक मई से लागू हो जाने के बाद प्रॉपर्टी ब्रोकर्स पर शिकंजा कसेगा। ब्रोकर्स को रेरा में रजिस्ट्रेशन कराना होगा। इससे पहले प्रॉपर्टी ब्रोकरों की भूमिका प्रॉपर्टी के खरीदार और बेचने वाले के बीच मीटिंग की व्यवस्था करने और सौदे को अंतिम रूप देकर अपनी सेवा के बदले कमीशन लेने तक रहती थी।

व्यक्तिगत 10हजार और फर्म की 50 हजार रुपए रजिस्टेशन फीस

रेरा के तहत प्रॉपर्टी ब्रोकर्स के लिए रजिस्ट्रेशन की फीस तय कर दी गई है। व्यक्तिगत तौर पर प्रॉपर्टी ब्रोकिंग का काम करने वाले को 10 हजार रुपए फीस देना होगी और प्रॉपर्टी ब्रोकिंग फर्म को 50 हजार रुपए फीस निर्धारित की गई है। ये फीस देकर रजिस्ट्रेशन के बाद ही ब्रोकर प्रॉपर्टी की खरीदी-बिक्री का बिजनेस कर पाएंगे।

अभी मंदा है धंधा

राजधानी में रियल एस्टेट में प्रॉपर्टी ब्रोकर के तौर पर काम करने वाले प्रॉपर्टी ब्रोकर्स का कहना है कि पांच साल पहले तक प्रॉपर्टी ब्रोकिंग का कारोबार अच्छा था लेकिन अब इसमें मंदी आ गई है। बड़े बिल्डर्स और बड़े ब्रोकर्स के आ जाने से छोटे प्रॉपर्टी ब्रोकर्स का काम लगभग खत्म सा हो चला है। हालत यह है कि पिछले पांच वर्षों में ब्रोकर्स के धंधे में 50 फीसदी कमी आ गई है। बड़ी प्रॉपर्टी के खरीदार कम हो गए हैं, इसलिए रिटर्न ऑन इन्वेस्टमेंट नहीं मिल पा रहा है।

फैक्ट फाइल-

-भोपाल में करीब 1000 से अधिक प्रॉपर्टी ब्रोकर्स

- 2 से 10 फीसद तक रहता कमीशन

यहां करें शिकायत

वेबसाइट- rera.mp.gov.in

रेरा हेल्प डेस्क- 0755-2556760

हर कोई नहीं कर पाएगा प्रॉपर्टी ब्रोकिंग

प्रॉपर्टी डीलिंग में लाइसेंस सिस्टम लागू होने से अब हर कोई इस बिजनेस में नहीं आ पाएगा। जो भी कमीशन मिलेगा, उसका उल्लेख करना होगा। रेरा के तहत इसके लिए फीस भी तय कर दी गई है ।

बिना रजिस्ट्रेशन किया काम तो होगी कार्रवाई

यदि किसी प्रॉपर्टी ब्रोकर ने रेरा में बिना रजिस्ट्रेशन कराए प्रॉपर्टी डीलिंग का काम किया और इसकी शिकायत रेरा में हुई तो उसके खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। प्रॉपर्टी ब्रोकर को व्यक्तिगत और फर्म के तौर पर रजिस्ट्रेशन कराना होगा।

इनसे बचें

- उन ब्रोकर्स से बचकर रहें, जिनमें प्रोफेशनलिज्म और ट्रांसपेरेंसी की कमी हो। इनमें किसी दुकान या अन्य काम के साथ-साथ प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करने वाले लोग हो सकते हैं।

- ऐसा ब्रोकर जो जगह की क्लीयर पिक्चर न बताए और उसके बारे में बढ़-चढ़ कर बोले।

- जो किसी एक ही बिल्डर की प्रॉपर्टी खरीदने पर जोर दे, तो सोच समझकर कदम रखें । खासकर तब, जब आपको कहीं और से पता चले कि उस बिल्डर का ट्रैक रिकॉर्ड अच्छा नहीं है।

- जो रियल एस्टेट के फील्ड में हो रही नई बातों, मार्केट में कीमतों के उतार-चढ़ाव आदि से परिचित न हो।

"जिलों से" से अन्य खबरें

बाल श्रम रोकने हेतु जागरूकता फैलायें - अपर कलेक्टर

बाल श्रमिकों एवं कुमार श्रमिकों की पहचान, विमुक्ति, पुनर्वास तथा अधिनियम के अंतर्गत प्रभावी कार्यवाही के उद्देश्य से गठित टास्क फोर्स समिति की बैठक अपर कलेक्टर श्री आशीष कुमार गुप्ता की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। जिसमें डिप्टी कलेक्टर श्री वीरेन्द्र कटारे सहित टास्क फोर्स के सदस्यगण उपस्थित रहे। बैठक को संबोधित करते हुए अपर कलेक्टर ने कहा कि बाल श्रम रोकने के लिए श्रम और रोजगार मंत्रालय द्वारा विभिन्न प्रावधान किए गए है। 

Read More

मुख्यमंत्री अल्प प्रवास पर ग्वालियर आए

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान गुरुवार को अल्प प्रवास पर ग्वालियर पहुँचे। इस दौरान वे विभिन्न वैवाहिक समारोह में शामिल हुए और वर-वधुओं को आशीर्वाद देकर उनके सुखद दांपत्य जीवन के लिए कामना की। उच्च शिक्षा एवं लोकसेवा प्रबंधन मंत्री श्री जयभान सिंह पवैया तथा राज्यसभा सांसद श्री प्रभात झा भोपाल से विमान द्वारा मुख्यमंत्री के साथ आए थे।

Read More

वीरांगना झलकारी बाई जयंती के अवसर पर कार्यशाला आयोजित

वीरांगना झलकारी बाई जयंती के अवसर पर 22 नवम्बर को शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय वनगवां में महिला सशक्तिकरण विभाग द्वारा कार्यशाला आयोजित की गई। कार्यशाला में महिला सशक्तिकरण अधिकारी श्री संजय गहरवाल ने बताया कि वीरंगना झलकारी बाई प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में रानी लक्ष्मी बाई की महिला सेना की सेनापति थी और क्रांति के दौरान रानी लक्ष्मी बाई को महत्तवपूर्ण सहयोग प्रदान किया।

Read More

भोपाल को स्मार्ट सिटी बनाने के अभियान में तेजी

भोपाल को सुन्दर और स्वच्छ बनाने के लिए चलाये जा रहे अभियान के तहत शहर के 14 चौराहे चिन्हित किये गये हैं, जिन पर 51 कैमरे लगाये जाएंगे।स्मार्ट सिटी के अंतर्गत नगर में चलने वाले वाहनों की सघन चैकिंग की जाएगी। अनियमितता पाये जाने पर चालान संबंधित व्यक्ति के घर पहुँचाये जाएंगे। 

Read More

हमारी नीयत बेहतर काम करने की है और मंशा शहर को बेहतर तरीके से बसाना- वित्त मंत्री जयंत मलैया

हमारी नीयत बेहतर काम करने की है और मंशा शहर को बेहतर तरीके से बसाना है। शहर में सड़को का विकास, ड्रेनेज सिस्टम पानी की सुगम व्यवस्थाएं सहित विकास के अन्य कार्य व्यवस्थित रूप से कराये और सतत् जारी है। इस आशय के उद्गार आज वित्त और वाणिज्यिक कर मंत्री जयंत कुमार मलैया ने व्यापारीगण द्वारा बस स्टेण्ड के समीप आयोजित नागरिक अभिनंदन कार्यक्रम के दौरान व्यक्त किये। इस अवसर पर संसाद प्रहलाद पटेल विशेष रूप से मौजूद थे।

Read More

कलेक्ट्रेट बुरहानपुर में ''''नेकी की दीवार'''' का हुआ शुभारंभ

जिला प्रशासन द्वारा कलेक्ट्रेट बुरहानपुर में आनंदम कार्यक्रम के तहत ‘‘नेकी की दीवार‘‘ स्थापित की गई है। आज नेकी की दीवार का विधिवत् शुभारंभ किया गया। इस कार्यक्रम में शहर के समाजसेवी नागरिकों ने विभिन्न उपयोगी सामग्री उपलब्ध कराई। 

Read More

भावांतर भुगतान योजना पर पूरे देश की निगाहें - मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि भावांतर भुगतान योजना किसानों के हित संरक्षण की अद्भुत योजना है। इस पर पूरे देश की निगाहें हैं। उन्होंने अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिये हैं कि किसानों की उपज के भावांतर की सही राशि किसानों के खातों में पहुंचाना सुनिश्चित करें। इस योजना के अंतर्गत पहला भुगतान एक लाख 35 हजार से ज्यादा किसानों को 22 नवम्बर को एक साथ होगा। 

Read More

रबी सीजन के लिए पर्याप्त खाद-बीज की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के कलेक्टर ने दिए निर्देश

कृषि आदान संबंधी समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित की गई। बैठक में कलेक्टर श्रीमती भावना वालिम्बे ने आगामी सीजन के खाद तथा बीज की उपलब्धता के साथ ही भावांतर योजना के अंतर्गत चल रहे पंजीयन की समीक्षा की। इसके साथ ही उन्होंने धान उपार्जन के संबंध में सभी मंडियों की विस्तृत जानकारी ली।

Read More

महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा के लिए ओर उठाये जाये कदम-मुख्यमंत्री

प्रत्येक जिले में कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ऐसे स्थानो, क्षेत्रो का संयुक्त दौरा करेंगे, जहां पर बालिका-महिला पढ़ने, रहने या अन्य रूप में एकत्रित होती है। इस दौरान यदि किसी असामाजिक तत्वो की उपस्थिति की शिकायत मिलती है, यह ज्ञात होता है तो उनके विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जायें। शिक्षण संस्थानो में भी महिलाओ-बालिकाओ से संबंधित कानूनी प्रावधानो, सूचना तंत्र हेतु बनाये गये एप, निर्धारित टेलीफोन नम्बरो की जानकारी दी जाये। जिससे आवश्यकता पड़ने पर माताएं-बहने, बालिका इनका उपयोग कर सके। 

Read More

प्रभारी मंत्री श्री रामपाल सिंह 20 नवम्बर को जिले के प्रवास पर

 लोक निर्माण, विधि एवं विधायी कार्य मंत्री और नरसिंहपुर जिले के प्रभारी मंत्री श्री रामपाल सिंह सोमवार 20 नवम्बर को जिले के प्रवास पर रहेंगे। वे सांईखेड़ा में जिला योजना समिति की बैठक की अध्यक्षता करेंगे और अन्य कार्यक्रमों में शामिल होंगे।

Read More