mp mirror logo

TATA-AMBANI भी चला सकेंगे खुद की ट्रेन, MP के इन शहरों में होगी शुरुआत

भोपाल। मध्यप्रदेश में जल्द ही प्राइवेट ट्रेन भी दौड़ती नजर आएगी। रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने इस बात के संकेत दिए हैं। रेलवे इसके लिए इंदौर, भोपाल और जबलपुर के बीच इसे चलाएगा। इसके लिए 450 किलोमीटर का नया रूट तैयार किया जाएगा। माना जा रहा है कि निजी क्षेत्र की कंपनियों टाटा, बिड़ला, रिलायंस और अडाणी जैसी कंपनियां भी इस क्षेत्र में कूद सकती है। यह मध्यप्रदेश की पहली निजी ट्रेन होगी।

सूत्रों के मुताबिक पश्चिम मध्य रेलवे और राज्य सरकार का एक ज्वाइंट वेंचर इस प्रोजेक्ट पर काम करेगा। प्रोजेक्ट एक कंपनी बनाकर रन किया जाएगा। इसका नाम स्पेशल परपज व्हीकल (SPV) होगा। गौरतलब है कि इससे पहले सितंबर 2016 में भी निजी क्षेत्र की कंपनियों से प्रस्ताव मांगे गए थे।

SPV ट्रेक बिछाने, निजी क्षेत्रों को ट्रेनें चलाने के लिए पैसा जुटाने समेत मेंटेनेंस आदि जिम्मेदारी भी निभाएगी। पहली ट्रेन इंदौर-जबलपुर चलाने की है। यह कंपनी इसके लिए दोनों शहरों को जोड़ने के लिए 450 किलोमीटर का ट्रेक भी बिछाएगी। इसके लिए चार हजार 600 करोड़ का खर्च भी आंका गया है।
हाल ही में जबलपुर आए रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने इस नए प्रोजेक्ट के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि रेलवे ज्ल दी मध्यप्रदेश सरकार के साथ एक समझौता करने वाली है।

फंड जुटाएगी भारतीय रेल
मध्यप्रदेश सरकार के साथ मिलकर रेलवे फंड जुटाने के लिए एक ज्वाइंट वेंचर बनाएगी। इसमें दोनों का शेयर होगा। इससे अलग ट्रेन के कोच उपलब्ध कराने, इसका संचालन करने और सुरक्षा की जिम्मेदारी भी रेलवे की ही होगी।

एमपी भी लगाएगा पूंजी
मध्यप्रदेश सरकार इस प्रोजेक्ट में रेलवे के साथ मिलकर पूंजी भी लगाएगी। सरकार पर रेलवे के साथ ज्वाइंट वेंचर में मिलकर नई परियोजना तय करने की पूरी जवाबदारी होगी।

ट्रेनों का किराया तय करेगी SPV
SPV पूरी परियोजना की लागत तय कर निजी क्षेत्र से पैसा जुटाने से लेकर ट्रेनों को होने वाले फायदे और नुकसान पर नियंत्रण रख सकेगी। यह ट्रेनों का किराया घटाना-बढ़ाना, उनके समय पर चलने और यात्री सुविधाओं पर भी अपना लक्ष्य फोकस करेगी।

विदेशी मदद की जगह राज्यों की मदद
रेलवे ने यह कदम फारेन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट (FDI) के विरोध को देखते हुए उठाया है। इसके लिए रेलवे बोर्ड अब विदेशी कंपनियों को प्रोत्साहन करने की जगह भारत के राज्यों से ही मदद लेगी। यह स्टेट डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट कहलाएगा।
यह भी है खास

-MP में बनने वाले रेल प्रोजेक्ट पर सिर्फ रेलवे निवेश नहीं करेगा। इसके लिए राज्य सरकार और रेलवे (जोन) के बीच MOU साइन होगा।
-साइन के बाद में ज्वाइंट वेंचर तैयार होगा। यह एक की तरह की कंपनी होगा,जिसका चेयरमैन,स्टॉफ और बजट सब कुछ रेलवे बोर्ड और जोन से अलग रहेगा।
-इंदौर और जबलपुर के बीच नया रूट बनाया जाएगा।
-कुछ पुराने रूट को भी इसमें शामिल किया जाएगा, जहां ट्रैफिक का लोड नहीं होगा।
- गाडरवारा और जबलपुर के बीच पुराना ही रूट रहेगा।
- इसके बाद इंदौर के बीच नया रूट तय होगा।
- रूट का सर्वे का काम पूरा हो गया है।

माल वाहक ट्रेनें भी चला सकेंगी कंपनियां
निजी क्षेत्र की कंपनियां अब मालवाहक ट्रेनें चला सकेंगी। रेलवे के एक अधिकारी के मुताबिक सीमेंट, स्टील, आटो, केमिकल्स और खाद्यान्न से जुड़ी कंपनियों ने स्पेशल माल वाहक ट्रेनें चलाने की योजना में दिलचस्पी दिखाई है। रेल डिवेलपमेंट अथॉरिटी के गठन को कैबिनेट से मंजूरी मिलने के बाद इसका रास्ता साफ हो गया है। कंपनियां निजी टर्मिनल्स बनाने पर निवेश करेंगी और ट्रेन भी चला सकेंगी।

तो पटरियां भी बिछा सकते हैं टाटा-अंबानी
अब वह दिन दूर नहीं जब अंबानी, टाटा और बिड़ला जैसे धनाढ्य अपने नाम से ट्रेन दौड़ा सकेंगे। वह अपनी मर्जी से तय स्टेशन के बीच अपनी स्वयं की पटरियां भी डाल सकेंगे। सरकारी पटरी का भी किराया देकर उपयोग कर सकेंगे।रेलवे ने इसके लिए पिछले साल निजी कंपनियों से प्रस्ताव मांगे थे। इसके लिए निजी कंपनी को ट्रेन, प्लेटफॉर्म, सिग्नल के साथ अन्य व्यय का किराया रेलवे को देना होगा। ट्रेन संचालन के लिए कंपनी को अपना स्टाफ रखना होगा, यदि उन्हें सरकारी स्टाफ की जरूरत है, तो वे इसकी राशि रेलवे को चुकाकर उन्हें साथ जोड़ सकेंगे। रेलवे ने निजीकरण के लिए विभिन्न संगठनों के विरोध के बाद अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रस्ताव मंगवाए हैं। रेलवे बोर्ड दिल्ली के मैकेनिकल इंजीनियर वीएन चौधरी ने इसे तैयार किया है। सितंबर 2016 तक निजी कंपनियों से यह प्रस्ताव मांगे गए थे।

"जिलों से" से अन्य खबरें

पलटते ही जिंदा 11 लोगों के लिए ताबूत बनी ट्रॉली, 10 चिताएं देख रो पड़ा गांव

इंदौर.अमावस्या पर राजस्थान के सांवलियाजी मंदिर में दर्शन के लिए जा रहे श्रद्धालुओं की ट्रैक्टर-ट्रॉली पलटकर 5 फीट नीचे खाई में जा गिरी। इसमें 11 लोगों की मौत हो गई और 27 लोग घायल हो गए। हादसे में घायल ने बताया, मदद नहीं मिलती तो दम घुटने से हो जाती सबकी मौत…
-नीमच से 10 किमी दूर नयागांव रोड पर ट्रॉली पलटने के बाद रास्ते से गुजर रहे लोग अपना सारा काम छोड़ मदद के लिए दौड़े।
-घायलों को अस्पताल पहुंचाने में उन्होंने मदद की लेकिन जिला अस्पताल के डॉक्टर सूचना के बाद भी परिसर में बने अपने क्वाटर्स से समय पर बाहर नहीं आ सके।

Read More

मत्स्य-पालन मंत्री श्री अंतर सिंह आर्य द्वारा हलाली डेम का औचक निरीक्षण

मछुआ कल्याण तथा मत्स्य विकास मंत्री श्री अंतर सिंह आर्य ने गत दिवस हलाली डेम में मछली-पालन का आकस्मिक निरीक्षण किया। श्री आर्य ने मौके पर ठेकेदार द्वारा टीकमगढ़ से मंगवाकर डलवायी जा रही मरणासन्न मत्स्य बीज पर गहरी अप्रसन्नता जाहिर की। श्री आर्य ने इतनी गर्मी के मौसम में बिना पूरी सुरक्षा के मत्स्य बीज लाने, रजिस्टर में गड़बड़ी पाये जाने, स्थानीय समितियों को मत्स्याखेट में हो रही परेशानी और अपने कार्यों में लापरवाही बरतने पर प्रबंधक श्री विकास श्रीवास्तव को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के निर्देश दिये।

Read More

जिले में ग्रीष्मकालीन फसलों का रकबा लगातार बढ़ रहा है

जिला अब खेती के मामले में लगातार आगे बढ़ता जा रहा है, पहले इस जिले में केवल दो फसलें ली जाती थीं, रबी और खरीफ। अब जिले में सब्जी भाजी के साथ ही घूईया तथा मूंग और उड़द की फसले भी ली जा रही हैं इनका रकबा भी लगातार बढ़ता जा रहा है। 
जिले के जबेरा और दमोह विकास खण्ड के ग्राम सिमरी जालम, पटना, पौड़ी, सिगौड़ीकला, बनवार, जबेरा, कंजई मानगढ़, सहित अन्य गांव में हरियाली देखते ही बनती है।

Read More

इंदिरा वार्ड में चला जन जागरूकता अभियान

नगर में जल संरक्षण एवं रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम के प्रति लोगों को जागरूक बनाने के लिए चलाए जा रहे जन जागरुकता अभियान के तहत गुरुवार को सुबह इंदिरा वार्ड में सतपाल आश्रम के पास कलेक्टर श्री शशांक मिश्र एवं नगरपालिका अध्यक्ष श्री अलकेश आर्य ने यहां के निवासियों से भेट कर उन्हें जल संरक्षण की सलाह दी। साथ ही कहा कि भूमिगत जल स्तर में वृद्धि लाने के लिए अपने घरों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम अवश्य तैयार करें। इस दौरान रेन वाटर हार्वेस्टिंग के लिए काम कर रही समाज सेवी संस्था प्रतिध्वनि के सदस्य भी मौजूद थे। वार्ड के निवासियों से अपने ट्यूबवेलों में सोख्ता गड्ढा निर्माण करवाने की भी इस दौरान अपेक्षा की गई। 

Read More

BJP सांसद प्रभात झा को जान से मारने की धमकी

भोपाल/गुना। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा को जान से मारने की धमकी मिली है। वे लगातार कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ बोल रहे थे। इसके बाद पास हरिपुर गांव में उनकी तबीयत बुधवार को अचानक बिगड़ गई है। वे कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए बेहोश हो गए थे। वहां मौजूद भाजपा के नेताओं ने उन्हें संभाला। बताया जा रहा है कि वे तेज गर्मी और कमजोरी के कारण बेहोश हो गए थे। बाद में उन्हें डाक्टरों ने भी देखा।

Read More

मुख्यमंत्री निःशक्त शिक्षा प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत लेपटॉप प्रदाय

मुख्यमंत्री निःशक्त शिक्षा प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत दृष्टिबाधित तथा श्रवणबाधित विद्यार्थियों के लिए कक्षा 10 में तथा स्नातक में प्रथम बार में प्रवेश लेने पर एक लेपटॉप एक बार प्रदाय करने का प्रावधान है। 
मुख्यमंत्री निःशक्त शिक्षा प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत निःशक्त विद्यार्थियों को पात्रता के आधार पर मध्यप्रदेश का मूल निवासी होना चाहिए। 

Read More

प्रभारी मंत्री श्रीमती चिटनीस द्वारा मनासा में 1.50 करोड़ रूपये की लागत के ऑडिटोरियम भवन का भूमि पूजन सम्पन्न

प्रभारी मंत्री द्वारा मनासा में डेढ़ करोड़ लागत के ऑडिटोरियम भवन का भूमि पूजन सम्पन्न। मनासा नगर में स्विमिंग पूल निर्माण के लिए प्रभारी मंत्री द्वारा विशेष निधि से 50 लाख रूपये स्वीकृति की घोषणा की। महिला एवं बाल विकास तथा नीमच जिले की प्रभारी मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनीस ने सोमवार को मनासा में नगर पंचायत द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में 1.50 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाले सर्वसुविधायुक्त ऑडिटोरियम भवन का भूमि पूजन कर, शिलान्यास किया।

Read More

व्यापमं की पिछले साल हुई परीक्षा में भी फर्जीवाड़ा

भोपाल। परीक्षा में धांधली रोकने के व्यावसायिक परीक्षा मंडल भले ही कितने ही दावे कर ले पर हकीकत यह है कि मुन्नाभाइयों ने एक बार फिर सारी व्यवस्थाओं को धता बताते हुए 11 उम्मीदवारों को पुलिस आरक्षक के लिए चयनित करवा दिया।

मामला पिछले साल हुई पुलिस कॉन्स्टेबल परीक्षा का है। आरक्षक पद पर ज्वाइन करने से पहले ऐसे 11 अभ्यर्थियों को चिन्हित कर लिया गया है। पुलिस की चयन एवं भर्ती शाखा ने सभी 11 फर्जी उम्मीदवारों के खिलाफ वैधानिक कार्रवाई के आदेश भी जारी कर दिए गए हंै। मालूम हो आरक्षक भर्ती परीक्षा देने के दौरान ही 70 मुन्नााभाई पकड़े गए थे।

Read More

डॉक्टरों और मेडीकल स्टाफ के दल ने जीता रोगियों एवं उनके परिजनों का दिल

तापोबाई की उम्र महज 48 साल है। गुना जिले के बरखेड़ी की रहने वाली तापोबाई मजदूरी करके अपना पेट पालती है। उसका पति राधेश्याम भी दिहाड़ी मजदूर है। उनके जिम्मे दो बेटों एवं एक बेटी को पालने का भार है। उन्नीस साल पहले गरीब तापोबाई को बच्चादानी खराब होने की बीमारी ने चपेट में ले लिया। डॉक्टर को दिखाया, तो पता चला कि ऑपरेशन कराना पड़ेगा और खर्च पच्चीस-तीस हजार के आसपास आएगा। तापोबाई तो सुनकर ही चक्कर खा गई।

Read More

दूरस्थ अंचलों में कुपोषण समाप्त करने तीन विभागों की संयुक्त कार्ययोजना शुरू

दूरस्थ अंचलों के तेंदूपत्ता संग्राहक परिवारों के पांच वर्ष तक के बच्चों में कुपोषण समाप्त करने के लिए कलेक्टर श्रीमती भावना वालिम्बे ने महिला बाल विकास विभाग, स्वास्थ्य विभाग तथा वन विभाग के संयुक्त प्रयासों से एक नई कार्ययोजना बनाई है। यह कार्ययोजना प्रदेश में अपनी तरह की एक नई पहल है। इस कार्ययोजना के तहत फड़ पर आने वाले तेंदूपत्ता संग्राहकों के पांच वर्ष तक के बच्चों के लिए विशेष रूप से स्थानीय स्तर पर तैयार किया गया पौष्टिक आहार (लड्डू) वितरित किया जा रहा है। 

Read More