mp mirror logo

TATA-AMBANI भी चला सकेंगे खुद की ट्रेन, MP के इन शहरों में होगी शुरुआत

भोपाल। मध्यप्रदेश में जल्द ही प्राइवेट ट्रेन भी दौड़ती नजर आएगी। रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने इस बात के संकेत दिए हैं। रेलवे इसके लिए इंदौर, भोपाल और जबलपुर के बीच इसे चलाएगा। इसके लिए 450 किलोमीटर का नया रूट तैयार किया जाएगा। माना जा रहा है कि निजी क्षेत्र की कंपनियों टाटा, बिड़ला, रिलायंस और अडाणी जैसी कंपनियां भी इस क्षेत्र में कूद सकती है। यह मध्यप्रदेश की पहली निजी ट्रेन होगी।

सूत्रों के मुताबिक पश्चिम मध्य रेलवे और राज्य सरकार का एक ज्वाइंट वेंचर इस प्रोजेक्ट पर काम करेगा। प्रोजेक्ट एक कंपनी बनाकर रन किया जाएगा। इसका नाम स्पेशल परपज व्हीकल (SPV) होगा। गौरतलब है कि इससे पहले सितंबर 2016 में भी निजी क्षेत्र की कंपनियों से प्रस्ताव मांगे गए थे।

SPV ट्रेक बिछाने, निजी क्षेत्रों को ट्रेनें चलाने के लिए पैसा जुटाने समेत मेंटेनेंस आदि जिम्मेदारी भी निभाएगी। पहली ट्रेन इंदौर-जबलपुर चलाने की है। यह कंपनी इसके लिए दोनों शहरों को जोड़ने के लिए 450 किलोमीटर का ट्रेक भी बिछाएगी। इसके लिए चार हजार 600 करोड़ का खर्च भी आंका गया है।
हाल ही में जबलपुर आए रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने इस नए प्रोजेक्ट के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि रेलवे ज्ल दी मध्यप्रदेश सरकार के साथ एक समझौता करने वाली है।

फंड जुटाएगी भारतीय रेल
मध्यप्रदेश सरकार के साथ मिलकर रेलवे फंड जुटाने के लिए एक ज्वाइंट वेंचर बनाएगी। इसमें दोनों का शेयर होगा। इससे अलग ट्रेन के कोच उपलब्ध कराने, इसका संचालन करने और सुरक्षा की जिम्मेदारी भी रेलवे की ही होगी।

एमपी भी लगाएगा पूंजी
मध्यप्रदेश सरकार इस प्रोजेक्ट में रेलवे के साथ मिलकर पूंजी भी लगाएगी। सरकार पर रेलवे के साथ ज्वाइंट वेंचर में मिलकर नई परियोजना तय करने की पूरी जवाबदारी होगी।

ट्रेनों का किराया तय करेगी SPV
SPV पूरी परियोजना की लागत तय कर निजी क्षेत्र से पैसा जुटाने से लेकर ट्रेनों को होने वाले फायदे और नुकसान पर नियंत्रण रख सकेगी। यह ट्रेनों का किराया घटाना-बढ़ाना, उनके समय पर चलने और यात्री सुविधाओं पर भी अपना लक्ष्य फोकस करेगी।

विदेशी मदद की जगह राज्यों की मदद
रेलवे ने यह कदम फारेन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट (FDI) के विरोध को देखते हुए उठाया है। इसके लिए रेलवे बोर्ड अब विदेशी कंपनियों को प्रोत्साहन करने की जगह भारत के राज्यों से ही मदद लेगी। यह स्टेट डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट कहलाएगा।
यह भी है खास

-MP में बनने वाले रेल प्रोजेक्ट पर सिर्फ रेलवे निवेश नहीं करेगा। इसके लिए राज्य सरकार और रेलवे (जोन) के बीच MOU साइन होगा।
-साइन के बाद में ज्वाइंट वेंचर तैयार होगा। यह एक की तरह की कंपनी होगा,जिसका चेयरमैन,स्टॉफ और बजट सब कुछ रेलवे बोर्ड और जोन से अलग रहेगा।
-इंदौर और जबलपुर के बीच नया रूट बनाया जाएगा।
-कुछ पुराने रूट को भी इसमें शामिल किया जाएगा, जहां ट्रैफिक का लोड नहीं होगा।
- गाडरवारा और जबलपुर के बीच पुराना ही रूट रहेगा।
- इसके बाद इंदौर के बीच नया रूट तय होगा।
- रूट का सर्वे का काम पूरा हो गया है।

माल वाहक ट्रेनें भी चला सकेंगी कंपनियां
निजी क्षेत्र की कंपनियां अब मालवाहक ट्रेनें चला सकेंगी। रेलवे के एक अधिकारी के मुताबिक सीमेंट, स्टील, आटो, केमिकल्स और खाद्यान्न से जुड़ी कंपनियों ने स्पेशल माल वाहक ट्रेनें चलाने की योजना में दिलचस्पी दिखाई है। रेल डिवेलपमेंट अथॉरिटी के गठन को कैबिनेट से मंजूरी मिलने के बाद इसका रास्ता साफ हो गया है। कंपनियां निजी टर्मिनल्स बनाने पर निवेश करेंगी और ट्रेन भी चला सकेंगी।

तो पटरियां भी बिछा सकते हैं टाटा-अंबानी
अब वह दिन दूर नहीं जब अंबानी, टाटा और बिड़ला जैसे धनाढ्य अपने नाम से ट्रेन दौड़ा सकेंगे। वह अपनी मर्जी से तय स्टेशन के बीच अपनी स्वयं की पटरियां भी डाल सकेंगे। सरकारी पटरी का भी किराया देकर उपयोग कर सकेंगे।रेलवे ने इसके लिए पिछले साल निजी कंपनियों से प्रस्ताव मांगे थे। इसके लिए निजी कंपनी को ट्रेन, प्लेटफॉर्म, सिग्नल के साथ अन्य व्यय का किराया रेलवे को देना होगा। ट्रेन संचालन के लिए कंपनी को अपना स्टाफ रखना होगा, यदि उन्हें सरकारी स्टाफ की जरूरत है, तो वे इसकी राशि रेलवे को चुकाकर उन्हें साथ जोड़ सकेंगे। रेलवे ने निजीकरण के लिए विभिन्न संगठनों के विरोध के बाद अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रस्ताव मंगवाए हैं। रेलवे बोर्ड दिल्ली के मैकेनिकल इंजीनियर वीएन चौधरी ने इसे तैयार किया है। सितंबर 2016 तक निजी कंपनियों से यह प्रस्ताव मांगे गए थे।

"जिलों से" से अन्य खबरें

सीएम हैल्पलाईन की शेष पेडेंसी का निराकरण करें-कलेक्टर

कलेक्टर डॉ. इलैया राजा टी ने सीएम हैल्पलाईन, लोकसेवा गारंटी एवं वृक्षारोपण जैसी सर्वोच्च प्राथमिकता वाली कार्यक्रमों की जिला पंचायत भिण्ड के सभागार में आयोजित बैठक में गत दिवस समीक्षा की। इस बैठक में विभागीय अधिकारियों ने अवगत कराया कि सीएम हैल्पलाईन में दर्ज करीबन एक हजार प्रकरणों का निराकरण तीन दिवस में कराया गया है। जिस पर से कलेक्टर ने संबंधित विभागीय अधिकारियों के कार्य के प्रति संतोष व्यक्त किया। 

Read More

तुवर दाल नहीं खरीदने पर बिफरे किसान, नेशनल हाइवे पर चक्काजाम

बरेली। रायसेन जिले में सबसे बेहतर कृषि क्षेत्र माने जाने वाले बरेली में अंचल के किसानों ने गुरुवार दोपहर तुवर की खरीदी नहीं होने पर एनएच 12 पर चक्काजाम कर दिया। जाम की वजह से जयपुर-जबलपुर मार्ग पर दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई।

Read More

मंदसौर जिले के पूर्व कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक सस्पेंड

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश सरकार ने बुधवार को देर शाम को मंदसौर जिले के पूर्व जिलाधीश आईएएस अधिकारी स्वतंत्र कुमार सिंह और पुलिस अधीक्षक आईपीएस ओपी त्रिपाठी को निलंबित कर दिया है।

Read More

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का मुख्य आयोजन पुलिस परेड ग्राउण्ड में संपन्न

21 जून 2016 को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का मुख्य कार्यक्रम सीहोर जिला मुख्यालय स्थित पुलिस परेड ग्राउण्ड में संपन्न हुआ। प्रदेश के लोक निर्माण, विधि, विधायी कार्य एवं सीहोर जिला प्रभारी मंत्री श्री रामपाल सिंह के मुख्य आतिथ्य में योग का कार्यक्रम लखनऊ में आयोजित मुख्य कार्यक्रम के सीधे प्रसारण के अनुरूप आयोजित हुआ।

Read More

तीसरे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर बच्चे, जवान एवं वृद्धजनों ने किया सामूहिक योग

अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर जिला मुख्यालय स्थित स्टेडियम ग्राउण्ड में क्षेत्रीय विधायक बाधवगढ श्री शिवनारायण की उपस्थिति में योग दिवस का कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। 

Read More

क्रिकेट में हार के बाद बुरहानपुर में लगे पाक जिंदाबाद के नारे, 15 पर केस

बुरहानपुर। आईसीसी चैंपियन ट्रॉफी के फाइनल मैच में पाकिस्तान की जीत पर आतिशबाजी और नारेबाजी से रविवार रात ग्राम मोहद में तनाव की स्थिति बन गई। 

Read More

व्यापमं घोटाले के व्हिसिल ब्लोअर आशीष ने सार्वजनिक किया CBI का लिखा पत्र

भोपाल।व्यापमं घोटाले के व्हिसिल ब्लोअर आशीष चतुर्वेदी ने सीबीआई पर व्यापमं घोटाले की जांच में जानबूझकर उपेक्षा बरतने के आरोप लगाते हुए अफसरों की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े किए हैं। आशीष ने 18 जून को ट्विटर पर सीबीआई के ज्वाइंट डायरेक्टर आरपी अग्रवाल के नाम लिखे पत्र के सार्वजनिक किया है। 

Read More

विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस का जेल भरो आंदोलन, खलघाट में लगा जमावड़ा

धार । करीब डेढ़ साल बाद होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने कमर कस ली है। किसान आंदोलन के जरिए हित साधने में लगी कांग्रेस धार जिले के खलघाट में जेल भरो आंदोलन कर रही है। इसके लिए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव सहित बड़ी तादाद में कांग्रेसी कार्यकर्ता व किसान पहुंचते हैं।

Read More

किसान आंदोलनः एमपी में एक और किसान ने की आत्महत्या, धार में 'जेल भरो आंदोलन' शुरू

मध्य प्रदेश में कर्ज से परेशान किसानों की मौत का सिलसिला थम नहीं रहा है। शुक्रवार को जहां दो किसानों ने आत्महत्या कर ली वहीं शनिवार को एक और किसान ने खुद की जिंदगी खत्म कर ली। पिछले एक सप्ताह में करीब दस किसान अपनी जान दे चुके हैं। वहीं दूसरी ओर धार में आज से भारत कृषक समाज के किसान जेल भरो आंदोलन शुरू करेंगे।

Read More

ग्वालियर के चायवाले, आनंद ने भी भरा राष्ट्रपति के लिए नामांकन

भोपाल | जब एक चायवाला देश का प्रधानमंत्री बन सकता है तो क्या एक चायवाला देश का राष्ट्रपति बनने का सपना नहीं देख सकता? ऐसा मानना है कि मध्य प्रदेश के रहने वाले आनंद सिंह कुशवाहा का। वह पेशे से चायवाले हैं और देश के राष्ट्रपति की कुर्सी तक पहुंचने की इच्छा रखते हैं। अपनी इसी इच्छा को पूरा करने के लिए उन्होंने चौथी बार देश के राष्ट्रपति बनने के लिए नामांकन भरा है। आनंद अब तक 20 बार चुनाव हार चुके हैं। 

Read More