mp mirror logo

रुपये में मजबूती के चलते विदेशियों के बीच कॉरपोरेट बॉन्ड्स की मांग बढ़ी

मुंबई विदेशी निवेशकों के लिए भारत पसंदीदा ठिकाना बना हुआ है, लेकिन वे सिर्फ यहां के शेयर बाजार पर ही फिदा नहीं हैं। भारतीय कंपनियों के बॉन्ड्स में भी वे काफी रकम लगा रहे हैं क्योंकि इससे उन्हें अच्छा रिटर्न मिल रहा है। भारतीय करंसी मजबूत हो रही है। इससे उन्हें कॉरपोरेट बॉन्ड्स से आगे चलकर अच्छा रिटर्न मिलने की उम्मीद है। इस साल बॉन्ड और शेयर बाजार दोनों का ही प्रदर्शन अच्छा रहा है क्योंकि डॉलर के मुकाबले रुपये में 5 पर्सेंट की मजबूती आई है। इससे पता चलता है कि दुनिया के बड़े देशों में सबसे तेजी से बढ़ रही इकनॉमी के फाइनेंशियल एसेट्स में विदेशी निवेशकों की कितनी दिलचस्पी है।

विदेशी फंड्स ने पिछले कुछ हफ्तों में 17,654 करोड़ रुपये भारतीय बॉन्ड्स में लगाए हैं। इनमें एचडीएफसी, टाटा ग्रुप की कंपनियों, बजाज ग्रुप की कंपनियों और कई सरकारी बैंक और वित्तीय संस्थान के बॉन्ड्स शामिल हैं। विदेशी निवेशकों को कॉरपोरेट बॉन्ड्स में जितना निवेश करने की इजाजत है, वे उसकी 80 पर्सेंट लिमिट का इस्तेमाल कर चुके हैं। महीना भर पहले यह 72 पर्सेंट थी। 18 अप्रैल तक के नेशनल सिक्योरिटीज डिपॉजिटरी के डेटा से पता चलता है कि निवेश में 11 मार्च के बाद अच्छी बढ़ोतरी हुई है। इस दिन विधानसभा चुनाव के नतीजे आए थे।

डीलरों ने बताया कि सरकारी बॉन्ड्स की तुलना में कॉर्पोरेट बॉन्ड्स से इनवेस्टर्स को 0.30-0.40 पर्सेंट अधिक रिटर्न मिलता है। इस बारे में आईडीएफसी बैंक में रेट्स ट्रेडिंग के हेड पीयूष वाधवा ने कहा, 'महीना भर पहले विधानसभा चुनावों के नतीजे आने के बाद निवेशकों की दिलचस्पी इस बाजार में बहुत बढ़ी है।' उन्होंने बताया, 'भारत में राजनीतिक स्थिरता से फॉरेन पोर्टफोलियो इनवेस्टर्स कंफर्टेबल महसूस कर रहे हैं। वहीं, रुपये की स्टेबिलिटी भी उन्हें लुभा रही है। उन्होंने कॉरपोरेट बॉन्ड्स में निवेश शुरू कर दिया है और वे कम रेटिंग वाले ऐसे बॉन्ड्स में भी पैसे लगा रहे हैं। सरकारी बॉन्ड्स में फॉरेन इनवेस्टर्स की निवेश की लिमिट खत्म होने को है। इसलिए वे आगे भी कॉरपोरेट बॉन्ड्स में पैसे लगाना जारी रख सकते हैं।'

इस साल देश के डेट और इक्विटी मार्केट में फॉरेन पोर्टफोलियो इनवेस्टर्स ने 87,465 करोड़ रुपये लगाए हैं। डेट में 46,028 करोड़ रुपये और इक्विटी में उनका नेट इनवेस्टमेंट 41,437 करोड़ रुपये रहा है। एफपीआई भारतीय कॉरपोरेट बॉन्ड्स में 2,44,323 करोड़ रुपये लगा सकते हैं। इनमें विदेशी बाजार में बेचे जाने वाले रुपी बॉन्ड्स भी शामिल हैं। आमतौर पर सरकारी कंपनियों के बॉन्ड्स में विदेशी निवेशकों की दिलचस्पी ज्यादा रहती है क्योंकि उनकी रेटिंग अच्छी होती है और उन्हें अर्ध-सरकारी माना जाता है। प्राइवेट कंपनियों के बॉन्ड्स की रेटिंग कम होती है।

"बिजनेस" से अन्य खबरें

शेयर बाजार में तेजी जारी, छोटे और मझौले शेयर्स में खरीदारी -

अंतरराष्ट्रीय बाजारों से मिल रहे मजबूती के संकेतों के बीच मंगलवार को भारतीय शेयर बाजार की शुरुआत तेजी के साथ हुई है। करीब 11.30 बजे प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 177 अंक की तेजी के साथ 29834 के स्तर पर और निफ्टी 53 अंक की तेजी के साथ 9271 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। नैशनल स्टॉक एक्सचेंज पर मिडकैप 0.78 फीसद और स्मॉलकैप (0.75 फीसद) की तेजी देखने को मिल रही है। सबसे ज्यादा तेजी भारती एयरटेल, इंफ्राटेल, एमएंएम, बीपीसीएल और आईओसी के शेयर्स में देखने को मिल रही है। वहीं, गिरावट आईशर मोटर्स, एनटीपीसी, टीसीएस, कोटक बैंक और ग्रासिम के शेयर्स में है।

Read More

12.3% बढ़कर 8,046 करोड़ रुपये हुआ रिलायंस इंडस्ट्रीज का मुनाफा

मुंबई  रिलायंस इंडस्ट्रीज का प्रॉफिट मार्च तिमाही में 12.3 पर्सेंट बढ़ा। इस क्वॉर्टर में कंपनी का ग्रॉस रिफाइनिंग मार्जिन सिंगापुर के बेंचमार्क का दोगुना रहा। पेट्रोकेमिकल मार्जिन भी दमदार दिखा। कंपनी अभी कुछ प्रोजेक्ट्स पर काम कर रही है। उसका कहना है कि इनके चलते आगे भी ग्रोथ अच्छी रहेगी। रिलायंस इंडस्ट्रीज को टेलीकॉम वेंचर और रिटेल सब्सिडियरी का बिजनस भी तेजी से बढ़ने की उम्मीद है।

Read More

सेंसेक्स में 100 अंक से ज्यादा की तेजी, एचडीएफसी बैंक टॉप गेनर

अंतरराष्ट्रीय बाजारों से मिल रहे मिले जुले संकेतों के बीच सोमवार को भारतीय शेयर बाजार बढ़त के साथ खुले है। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 120 अंक की तेजी के साथ 29485 के स्तर पर और निफ्टी 36 अंक की बढ़त के साथ 9153 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। नैशनल स्टॉक एक्सचेंज पर मिडकैप 0.31 फीसद और स्मॉलकैप 0.33 फीसद की तेजी देखने को मिल रही है।

Read More

आर्मी कैंटीन (CSD) में पतंजलि आंवला जूस की बिक्री पर रोक

कैंटीन स्टोर्स डिपार्टमेंट (CSD) ने योग गुरु रामदेव की पतंजलि आयुर्वेद के पतंजलि आंवला जूस की बिक्री रोक दी है। सीएसडी ने यह कदम इस प्रॉडक्ट के बारे में एक सरकारी लैबरेटरी से प्रतिकूल रिपोर्ट मिलने के बाद उठाया है।

सीएसडी ने 3 अप्रैल 2017 को लिखे गए एक लेटर में अपने सभी डिपो से कहा कि वे मौजूदा स्टॉक के लिए एक डेबिट नोट बनाएं ताकि उसे लौटाया जा सके। पतंजलि आयुर्वेद ने शुरुआत में जो उत्पाद बाजार में उतारे थे, उनमें आंवला जूस शामिल था। बाजार में आंवला जूस की सफलता ने कंपनी को दो दर्जन से ज्यादा कैटिगरीज में प्रॉडक्ट पेश करने में मदद की थी। कंपनी ने अपने प्रॉडक्ट्स को बहुराष्ट्रीय कंपनियों के उत्पादों के मुकाबले सेहत के लिए बेहतर बताया था।

Read More

खुशखबरी! अब आपको डीजल-पेट्रोल के लिए नहीं लगानी पड़ेगी लाइन, अब जल्द पहुंचेगा आपके दरवाजे

नयी दिल्ली : देश में पेट्रोल-डीजल की खरीद करने वाले उपभोक्ताओं के लिए एक खुशखबरी है और वह यह कि जिन लोगों के पास छोटी-बड़ी गाड़ियां है, सरकार उनके दरवाजे तक पेट्रोल-डीजल पहुंचाने के इंतजाम में जुट गयी है. शुक्रवार को पेट्रोलियम मंत्रालय ने ट्वीट करके इस बात का संकेत दिया है, जिसमें कहा गया है कि प्री-बुकिंग के आधार पर आप जल्द ही अपने दरवाजे पर पेट्रोल और डीजल की डिलीवरी कर पायेंगे. अपने ट्वीट्स में पेट्रोलियम मंत्रालय ने कहा है कि प्री-बुकिंग के आधार पर उपभोक्ताओं को पेट्रोलियम पदार्थ की डिलीवरी विकल्प के तौर पर उपलब्ध कराये जायेंगे. मंत्रालय ने कहा है कि यह उपभोक्ताओं को लंबी कतारों में अधिक समय व्यतीत करने से बचायेगा.

Read More

Airtel पेमैंट बैंक ने पार किया 1,50,000 बचत खातों से अधिक का आंकड़ा

जालंधर: एयरटैल पेमैंट्स बैंक, भारत के पहले भुगतान बैंक ने अपनी शुरूआत से लेकर आज तक पंजाब में 1.50 लाख से अधिक बचत खातों को खोल लेने की घोषणा की है। अनुमानित तौर पर इन खातों में से दो-तिहाई खातों को ग्रामीण क्षेत्रों में खोला गया है और ये राज्य में वित्तीय समावेश में योगदान दे रहा है।

Read More

रुपये में मजबूती के चलते विदेशियों के बीच कॉरपोरेट बॉन्ड्स की मांग बढ़ी

मुंबई विदेशी निवेशकों के लिए भारत पसंदीदा ठिकाना बना हुआ है, लेकिन वे सिर्फ यहां के शेयर बाजार पर ही फिदा नहीं हैं। भारतीय कंपनियों के बॉन्ड्स में भी वे काफी रकम लगा रहे हैं क्योंकि इससे उन्हें अच्छा रिटर्न मिल रहा है। भारतीय करंसी मजबूत हो रही है। इससे उन्हें कॉरपोरेट बॉन्ड्स से आगे चलकर अच्छा रिटर्न मिलने की उम्मीद है। इस साल बॉन्ड और शेयर बाजार दोनों का ही प्रदर्शन अच्छा रहा है क्योंकि डॉलर के मुकाबले रुपये में 5 पर्सेंट की मजबूती आई है। इससे पता चलता है कि दुनिया के बड़े देशों में सबसे तेजी से बढ़ रही इकनॉमी के फाइनेंशियल एसेट्स में विदेशी निवेशकों की कितनी दिलचस्पी है।

Read More

रविवार को पैट्रोल पंप बंद हुए तो होगी जरूरी कार्रवाई, सरकार ने दी डीलर्स को चेतावनी

नई दिल्लीः सरकार ने स्पष्ट किया है कि अगर डीलर अपनी घोषणा के अनुरूप हर रविवार को पैट्रोल पंप बंद रखते हैं तो आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई सुनिश्चित करने के लिए जरूरी कदम उठाए जाएंगे। आगामी 14 मई से हर रविवार को पैट्रोल पंप बंद रखने की घोषणा के बारे में पूछे जाने पर पैट्रोलियम मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि हमें पैट्रोलियम डीलरों की इस घोषणा की जानकारी मीडिया रिपोर्टों से ही मिली है। पैट्रोलियम उत्पादों की बिक्री पर कमीशन बढ़ाने की मांग तेल कंपनियों द्वारा न माने जाने के विरोध में डीलरों ने रविवार को पैट्रोल पंप बंद रखने की घोषणा की है।

Read More

शेयर बाजारः मानसून सामान्य रहने की रिपोर्ट से सेंसेक्स 54 अंक मजबूत

देश में इस साल मानसून सामान्य रहने की भविष्वाणी का शेयर बाजार पर अच्छा प्रभाव पड़ा और बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स शुरूआती कारोबार में 54 अंक से अधिक तेजी के साथ खुला। निवेशकों ने दुनिया के अन्य बाजारों में कमजोर रूख को तवज्जो नहीं दी और चुनिंदा शेयरों में लिवाली की।

आईटी, बिजली, प्रौद्योगिकी, स्वास्थ्य और रोजमर्रा के उपयोग का सामान बनाने वाली कंपनियों की अगुवाई में तीस शेयरों वाला सूचकांक 54.45 अंक या 0.18 प्रतिशत की तेजी के साथ 29,373.55 अंक पर पहुंच गया। वैश्विक स्तर पर कमजोर रूख के साथ भू-राजनीतिक तनाव के कारण पिछले चार सत्रों में सेंसेक्स में 469.25 अंक की गिरावट आ चुकी है।

Read More

सीमित दायरे में मार्केट, सेंसेक्स में 30 अंक की गिरावट, बैकिंग, आईटी स्टॉक्स टूटे...

 नई दिल्ली। अमेरिका और यूरोप से मिले कमजोर संकेतों की वजह से घरेलू मार्केट की सुस्त शुरुआत हुई। वहीं टीसीएस के चौथे क्वार्टर के कमजोर नतीजों ने भी मार्केट पर दबाव बनाया है। कारोबार के दौरान बैंकिंग, फाइनेंस सर्विस, आईटी शेयरों में बिकवाली दिख रही है, जबकि मेटल, रियल्टी, फएमसीजी और फार्मा शेयरों में खरीददारी देखने को मिल रही है। फिलहाल सेंसेक्स 30 अंक गिरकर 29288 अंक पर और निफ्टी 21 अंक लुढ़ककर 9084 के स्तर पर कारोबार कर रहा है।

Read More