mp mirror logo

छठी तक पढ़ाई की, रामकथा पढ़ते-पढ़ते बन गई थी MP की CM

भोपाल। केंद्रीय मंत्री उमा भारती की मुश्किलें बढ़ सकती है। उन पर सुप्रीम कोर्ट ने बाबरी विध्वंस मामले में केस चलाने की मंजूरी दे दी है। मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा के बारे में सभी लोग जानते हैं कि वे अक्सर अपने विवादित बयानों के कारण सुर्खियों में रहती हैं। उनका विवादों से चोली-दामन का साथ रहता है। छोटी-सी उम्र में साध्वी बनने के बाद वे राजनीति में आ गई। छठी तक पढ़ी यह महिला MP की CM रह चुकी हैं और आज देश की केंद्रीय मंत्री हैं।

वे बोलने में इतनी बेबाक हैं कि जब वे बोलना शुरू करती हैं तो अच्छे-अच्छे चुप हो जाते हैं। उनके तर्कों का बड़े-बड़े अफसर भी जवाब नहीं दे पाते हैं। आज उनके जन्म दिवस पर बधाइयों का तांता लगा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी ट्वीट कर उन्हें जन्म दिवस की बधाई दी है।

छठी कक्षा तक पढ़ी-लिखी, बनीं MP की CM
-हिन्दू महाकाव्य में अच्छी पकड़ रखने वाली उमाश्री जन्म 3 मई 1959 को टीकमगढ़ के लोधी राजपूत परिवार में हुआ था।
- उमा मात्र छठी तक पढ़ी हैं। उमा का लाल-पालन ग्वालियर घराने की राजमाता विजयराजे सिंधिया ने की थी। वे ही उन्हें पार्टी में लेकर आई थीं।
-उमा एक आत्मविश्वासी राजनीतिज्ञ हैं। साध्वी की वेशभूषा में हमेशा रहने वाली उमा ने अविवाहित रहकर अपना जीवन धर्म को समर्पित कर दिया।

- 1984 में BJP से जुड़ गई और पहला चुनाव हार गईं।
- 1989 के चुनावों में फिर जोर आजमाया और वे जीत कर विधानसभा पहुच गईं।
-खुजराहो लोकसभा सीट से 1991 में चुनाव लड़कर वे चर्चाओं में आ गईं।

- उसके बाद तीन बार लगातार वे इसी सीट पर जीतती गईं। 1999 में भोपाल संसदीय सीट से लड़कर वे लोकसभा पहुंच गईं।
- वाजपेयी सरकार में उमा केंद्रीय मानव संसाधन, पर्यटन, खेल और युवा मामले, कोयला और खाद्यान्न मंत्रालय की मंत्री रहीं।
- वर्ष 2003 के चुनाव में उमा भारती के दम पर प्रदेश में भाजपा की सकरा बन गई। उमा ने दिग्विजय सिंह सरकार को बुरी तरह परास्त किया और वे MP की मुख्यमंत्री बन गईं।

- इसके बाद गलत बयानबाजी के कारण उमा की सदस्यता छिन गई और उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया गया। बाद में भारतीय जन शक्ति पार्टी बनाकर उन्होंने संघर्ष किया। उनके वापसी का दौर शुरू हुआ और वे केंद्रीय मंत्री हैं।

5 नवंबर 2008
तेज़ तर्रार नेता उमा ने छिंदवाड़ा में अपनी ही पार्टी के एक नेता की पिटाई कर दी थी। उन्होंने जमकर थप्पड़ जड़ दिए थे। इसके बाद कई अफसरों के साथ भी ऐसे ही व्यवहार के किस्से सुनने में आते रहे।

मशहूर है उमा का ये किस्सा
साध्वी उमा भारती आध्यात्म के रास्ते पर चलने से पहले कई लोगों को पसंद करती थीं। उन्होंने एक पत्रिका को दिए इंटरव्यू में कहा था कि वे BJP के पूर्व विचारक गोविंदाचार्य से प्यार करती थीं। उमा ने स्वीकार किया था, 'हां, मैं उनसे (गोविंदाचार्य) प्यार करती थी। मैं शादी करना चाहती थी। हर जगह मैं उनका पीछा करती थी और मुझे लगता था कि वे भी मुझे प्यार करते हैं।

इस साक्षात्कार से अलग हटकर भी भोपाल में आयोजित एक सार्वजनिक कार्यक्रम में उमा ने स्वीकार किया था कि वह 1992 में गोविंदाचार्य से विवाह करने की तैयारी में थीं। उमा ने कहा था कि आडवाणीजी ने भी गोविंदाचार्य की उनसे शादी कराने की इच्छा बताई थी। लेकिन, उमा के भाई स्वामी लोधी ने यह कहते हुए मामला टाल दिया था कि गोविंदाचार्य सांवले (काले) हैं और आकर्षक नहीं। 1992 में आयोजित इस कार्यक्रम में पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर, गोविंदाचार्य, स्वामी लोधी और बड़ी संख्या में संवाददाता मौजूद थे।

उमा को प्रपोज कर चुके हैं गोविंदाचार्य
नागपुर में एक समाचार पत्र को दिए साक्षात्कार में BJP के विचारक गोविंदाचार्य ने स्वीकार किया था कि उन्होंने उमा को विवाह के लिए प्रपोज कर दिया था। जब उनसे पूछा गया कि कोई पछतावा है तो उन्होंने कहा था कि उमा से रिश्ता मूर्त रूप नहीं ले सका था।

उमा के घर रहते थे गोविंदाचार्य
उमा ने एक कार्यक्रम में यह भी कहा था कि उन पर लगे वे आरोप सही हैं जिसमें कहा गया था कि गोविंदाचार्य उनके घर रहते हैं। उमा ने इस बात को विस्तार देते हुए कहा था कि जब मुझे बता चला कि उनका घर और गाड़ी छिन गई है तो उनसे संपर्क कर मैं अपने साथ ले आई। इससे पहले शीर्ष नेताओं से बात भी की थी।

इन प्रेमियों ने नहीं किया त्याग- धर
इंटेलिजेंस ब्यूरो के पूर्व जॉइंट डायरेक्टर एमके धर ने भी अपनी किताब में दोनों के प्रेम प्रसंग के बारे में अपनी किताब 'ओपन सीक्रेट्स' में लिखा है कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा विवाह की अनुमति न देने के कारण गोविंदाचार्य और उमा भारती को गहरा झटका लगा, जिससे यह बात स्पष्ट हो जाती है कि इन प्रेमियों ने कोई त्याग नहीं किया, बल्कि राजनैतिक महत्वाकांक्षाओं के कारण विवाह नहीं किया

"जिलों से" से अन्य खबरें

पेड न्यूज मामले में घिरे शिवराज के मंत्री नरोत्तम मिश्रा, चुनाव आयोग ने लगाया तीन साल का प्रतिबंध

नयी दिल्ली : मध्य प्रदेश शासन के वरिष्ठ मंत्री नरोत्तम मिश्र को चुनाव आयोग ने 3 साल के लिए अयोग्य ठहरा दिया है. चुनाव आयोग के इस कदम के बाद मिश्र की मौजूदा विधायकी तो गयी ही अगला विधान सभा चुनाव भी वे नहीं लड़ पाएंगे. आपको बता दें कि सूबे की शिवराज सरकार पहले से ही किसान आंदोलन से पस्त है अब चुनाव आयोग के इस फैसले के बाद उनकी मुश्‍किलें और बढ गयीं हैं.

Read More

सीएम हैल्पलाईन की शेष पेडेंसी का निराकरण करें-कलेक्टर

कलेक्टर डॉ. इलैया राजा टी ने सीएम हैल्पलाईन, लोकसेवा गारंटी एवं वृक्षारोपण जैसी सर्वोच्च प्राथमिकता वाली कार्यक्रमों की जिला पंचायत भिण्ड के सभागार में आयोजित बैठक में गत दिवस समीक्षा की। इस बैठक में विभागीय अधिकारियों ने अवगत कराया कि सीएम हैल्पलाईन में दर्ज करीबन एक हजार प्रकरणों का निराकरण तीन दिवस में कराया गया है। जिस पर से कलेक्टर ने संबंधित विभागीय अधिकारियों के कार्य के प्रति संतोष व्यक्त किया। 

Read More

तुवर दाल नहीं खरीदने पर बिफरे किसान, नेशनल हाइवे पर चक्काजाम

बरेली। रायसेन जिले में सबसे बेहतर कृषि क्षेत्र माने जाने वाले बरेली में अंचल के किसानों ने गुरुवार दोपहर तुवर की खरीदी नहीं होने पर एनएच 12 पर चक्काजाम कर दिया। जाम की वजह से जयपुर-जबलपुर मार्ग पर दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई।

Read More

मंदसौर जिले के पूर्व कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक सस्पेंड

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश सरकार ने बुधवार को देर शाम को मंदसौर जिले के पूर्व जिलाधीश आईएएस अधिकारी स्वतंत्र कुमार सिंह और पुलिस अधीक्षक आईपीएस ओपी त्रिपाठी को निलंबित कर दिया है।

Read More

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का मुख्य आयोजन पुलिस परेड ग्राउण्ड में संपन्न

21 जून 2016 को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का मुख्य कार्यक्रम सीहोर जिला मुख्यालय स्थित पुलिस परेड ग्राउण्ड में संपन्न हुआ। प्रदेश के लोक निर्माण, विधि, विधायी कार्य एवं सीहोर जिला प्रभारी मंत्री श्री रामपाल सिंह के मुख्य आतिथ्य में योग का कार्यक्रम लखनऊ में आयोजित मुख्य कार्यक्रम के सीधे प्रसारण के अनुरूप आयोजित हुआ।

Read More

तीसरे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर बच्चे, जवान एवं वृद्धजनों ने किया सामूहिक योग

अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर जिला मुख्यालय स्थित स्टेडियम ग्राउण्ड में क्षेत्रीय विधायक बाधवगढ श्री शिवनारायण की उपस्थिति में योग दिवस का कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। 

Read More

क्रिकेट में हार के बाद बुरहानपुर में लगे पाक जिंदाबाद के नारे, 15 पर केस

बुरहानपुर। आईसीसी चैंपियन ट्रॉफी के फाइनल मैच में पाकिस्तान की जीत पर आतिशबाजी और नारेबाजी से रविवार रात ग्राम मोहद में तनाव की स्थिति बन गई। 

Read More

व्यापमं घोटाले के व्हिसिल ब्लोअर आशीष ने सार्वजनिक किया CBI का लिखा पत्र

भोपाल।व्यापमं घोटाले के व्हिसिल ब्लोअर आशीष चतुर्वेदी ने सीबीआई पर व्यापमं घोटाले की जांच में जानबूझकर उपेक्षा बरतने के आरोप लगाते हुए अफसरों की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े किए हैं। आशीष ने 18 जून को ट्विटर पर सीबीआई के ज्वाइंट डायरेक्टर आरपी अग्रवाल के नाम लिखे पत्र के सार्वजनिक किया है। 

Read More

विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस का जेल भरो आंदोलन, खलघाट में लगा जमावड़ा

धार । करीब डेढ़ साल बाद होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने कमर कस ली है। किसान आंदोलन के जरिए हित साधने में लगी कांग्रेस धार जिले के खलघाट में जेल भरो आंदोलन कर रही है। इसके लिए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव सहित बड़ी तादाद में कांग्रेसी कार्यकर्ता व किसान पहुंचते हैं।

Read More

किसान आंदोलनः एमपी में एक और किसान ने की आत्महत्या, धार में 'जेल भरो आंदोलन' शुरू

मध्य प्रदेश में कर्ज से परेशान किसानों की मौत का सिलसिला थम नहीं रहा है। शुक्रवार को जहां दो किसानों ने आत्महत्या कर ली वहीं शनिवार को एक और किसान ने खुद की जिंदगी खत्म कर ली। पिछले एक सप्ताह में करीब दस किसान अपनी जान दे चुके हैं। वहीं दूसरी ओर धार में आज से भारत कृषक समाज के किसान जेल भरो आंदोलन शुरू करेंगे।

Read More