mp mirror logo

सिंधिया के निशाने पर मोदी-शिवराज, कहा- जुमलों की सरकार के अंत का वक्त

भोपाल। कोलारस-मुंगावली में होने वाले उपचुनाव के लिए प्रदेश की दोनों मुख्य पार्टियां कमर कस चुकी हैं। आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी जोर पकड़ चुका है। इसी क्रम में कांग्रेस की ओर से मोर्चा संभाल रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भोपाल में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान सूबे की शिवराज सरकार के साथ ही पीएम मोदी पर भी जमकर निशाना साधा।

उपचुनाव पर बोलते हुए सिंधिया ने कहा कि मुंगावली और कोलारस उपचुनाव की लड़ाई सच्चाई और असत्य की लडाई है। उन्होंने कहा कि मुंगावली और कोलारस की जनता सरकार को कड़ा जवाब देगी। उन्होंने शिवराज सरकार को घोषणावीर सरकार बताते हुए कहा कि पंचायत सचिवों और अध्यापकों को मायाजाल में नहीं फंसना चाहिए। 

सिंधिया ने शिवराज सरकार पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि जिस सरकार ने मप्र में कहीं भी विकास नहीं किया है, जिस सरकार ने किसानों के साथ अन्याय किया हो, जिस सरकार के कार्यकाल में महिलाएं इतनी असुरक्षित हों, बेरोजगारी का कैंसर पूरे प्रदेश में फैला हो, उस सरकार को कड़े से कड़ा जवाब कोलारस और मुंगावली की जनता संदेश के रूप में पूरे मप्र के लिए देगी इसका मुझे पूरा विश्वास है। 

'जुमलों की सरकार के अंत का वक्त'
इसके साथ ही सिंधिया ने बेरोजगारी के मुद्दे पर केंद्र की मोदी सरकार को भी आड़े हाथों लेते हुए कि केंद्र की हो या प्रदेश की सरकार पूरी तरफ से विफल रही है। अब जुमलों की सरकार के अंत का वक्त आ गया है। उन्होंने रोजगार के आंकड़ों पर जोर देते हुए कहा कि में अगर हम आंकड़े देखें तो 2014 से लेकर 2016  तक केवल 4 लाख रोजगार मुहैया कराए गए हैं। जबकि हर साल दो करोड़ रोजगार उपलब्ध कराने का दावा किया गया था। 

सिंधिया ने आगे कहा कि इनके चुनाव के जुमलों का अंत अब शुरू हो गया है। चार साल इनके कार्यकाल के समाप्त हो चुके हैं। अब जनता जवाब चाहती है। लोगों को नीचा दिखाना, इतिहास में जाना ही इस सरकार का काम है। उन्होंने कहा कि जब वाहन चलाया जाता है, तो रिअर व्यू मिरर में नहीं देखा जाता, कि कहीं हादसा न हो जाए। लेकिन, एनडीए सरकार की सोच हमेशा यही रही है। 

"जिलों की ख़बरें" से अन्य खबरें

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान: पांच साल का विकास पांच माह में करने का वादा

भोपाल: मध्य प्रदेश के दो विधानसभा सीटों पर हो रहे उपचुनाव में प्रचार अंतिम दौर में है. सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस के नेता एक-दूसरे पर हमले कर रहे. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पांच साल का विकास पांच माह में करने का वादा कर रहे हैं, तो दूसरी ओर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मुख्यमंत्री चौहान को घोषणावीर बताया. राज्य के शिवपुरी जिले के कोलारस और अशोकनगर के मुंगावली विधानसभा सीटों के लिए उपचुनाव का प्रचार जोरों पर है. दोनों स्थानों पर भाजपा व कांग्रेस के नेता डेरा डाले हुए हैं. आलम यह है कि हर दूसरे गांव में 100 से 500 मतदाताओं के बीच नेता सभाएं कर रहे हैं.

Read More

आज की सबसे बड़ी खबर : 500 के नए नोट को लेकर के RBI ने लिया ये बड़ा फैसला

देवास। हाल ही में मार्केट में 200 रुपए का नया नोट आया है। इस नोट की छपाई के लिए देवास बैंक नोट प्रेस को ऑर्डर मिला था, जिसे तय समय में तैयार किया गया। आपको याद दिला दें कि देवास बैंक नोट प्रेस वही जगह है, जहां नोटबंदी बाद आई नोटों की किल्लत के चलते दिन रात 500 के नए नोटों की छपाई हुई थी। बैंक नोट प्रेस के कर्मचारियों की मेहनत की बदौलत मार्केट में आई नोटों की किल्लत ज्यादा दिन तक नहीं रही। आरबीआई के बड़े फैसलों का केन्द्र रही देवास बैंक नोट प्रेस हाल ही में एक बार फिर बड़ी जिम्मेदारी दी गई थी। इस जिम्मेदारी का असर अब जल्द ही आपको देखना पड़ सकता है।

Read More

चार हजार सवालों से विधानसभा के बजट सत्र में घिरेगी सरकार

भोपाल। मप्र विधानसभा के बजट सत्र में इस बार सरकार को चार हजार से ज्यादा सवालों से घेरा जाएगा। अभी सत्र में प्रश्न करने के लिए विधायकों को दो सप्ताह का समय और है। सत्र में इस बार लोकलेखा समिति के सभापति का चुनाव भी होना है।

Read More

एसिड अटैक पीड़िता से छेड़छाड़ के मामले में मध्य प्रदेश के 'मंत्री' बर्खास्त

मध्य प्रदेश में राज्यमंत्री का दर्जा प्राप्त राजेंद्र नामदेव को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पद से हटा दिया है. नामदेव पर एसिड अटैक पीड़िता से होटल में अश्लील हरकत और छेड़छाड़ करने का आरोप है. उनके खिलाफ रविवार दोपहर हनुमानगंज थाने पहुंचकर पीड़िता ने लिखित शिकायत दी थी.

Read More

पीएनबी घोटाला: भोपाल में गीतांजलि के ठिकानों पर बड़ी कार्रवाई, करोड़ों के हीरे जब्त

भोपाल। पीएनबी घोटाला सामने आने के बाद से देश भर में गीतांजलि के ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशालय की कार्रवाई जारी है। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में भी ईडी ने गीतांजलि समूह के कई ठिकानों पर छापामार कार्रवाई की।

Read More

शिवराज सिंह की मुश्किलें बढ़ी, चुनाव से पहले सेन समाज ने की आरक्षण की मांग

मध्य प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव में आरक्षण की मांग को लेकर सेन समाज ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. सेन समाज के सैकड़ों लोग शनिवार को राजधानी भोपाल में जुट रहे हैं. जहां वे सेन समाज को अनुसूचित जाति में शामिल किए जाने की मांग कर रहे हैं. प्रदर्शन कर रहे आंदोलनकारियों को मुताबिक सेन समाज को मिल रहे आरक्षण का दायरा बढ़ाते हुए अनुसूचित जाति में शामिल करने के लिए राज्य सरकार ने विधानसभा में अशासकीय संकल्प पारित  किया था, लेकिन उसके सालों बाद भी अमल नहीं हो सका.

Read More

MP: कर्ज और फसल बीमा क्लेम न मिलने से परेशान किसान ने लगाई फांसी

मध्य प्रदेश के सागर जिले के गढ़ाकोटा में कर्ज में डूबे किसान ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. किसान पर करीब तीन लाख रुपए का कर्ज था और हाल ही में ओलावृष्टि से चने की फसल भी तबाह हो गई थी.

जानकारी के अनुसार, गढ़ाकोटा थाना क्षेत्र के सिंगपुर कला में रहने वाले किसान गुलाब पटेल ने शुक्रवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. किसान की पत्नी सियारानी पटेल ने बताया कि वह कर्ज की वजह से काफी परेशान थे. उन पर तीन लाख रुपए का कर्ज था.

Read More

ओलावृष्टि पर बोले सीएम- अभी चुनाव है, कुछ नहीं कहूंगा, जो लागू, वही मिलेगा

अशोकनगर.प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शुक्रवार को पिपरई क्षेत्र के ढ़ोढ़िया गांव पहुंचे। जहां उन्होंने चार दिन पहले ओलावृष्टि से नष्ट हुई फसलों का निरीक्षण कर किसानों ने बातचीत की। मुख्यमंत्री श्री सिंह ने ग्रामीणों से कहा कि अभी कुछ घोषणा करूंगा तो कांग्रेस वाले चिल्लाने लगेंगे कि आचार संहिता का उल्लंघन हो रहा है। उन्होंने किसानों ने कहा कि टीवी देखते हो या अखबार पढ़ते हो। उसमें देख लेना। जो भी नुकसान की भरपाई होगी वहीं अशोकनगर जिले को भी मिलेगा।

Read More

कांग्रेस का सवाल, शिवराज जी! अवैध कब्जेदारों पर इतनी मेहरबानी?

भोपाल। मध्यप्रदेश में भारी बारिश और ओलावृष्टि से करीब 1000 गांवों में फसलें पूरी तरह चौपट हो गयी हैं, जिससे किसान परेशान हैं, बस इसी परेशानी को राजनीतिक पार्टियां भुनाने में लगी हैं, सत्ताधारी पार्टी जहां किसानों को उनके नुकसान की भरपाई करने का आश्वासन दे रही है, वहीं विपक्ष किसानों की उपेक्षा का आरोप लगा रही है।

Read More

उपचुनाव: बढ़ती जा रही भाजपा की मुश्किल, अब गैस पीड़ित भी सीधी जंग को तैयार

भोपाल। मध्यप्रदेश के दो विधानसभा क्षेत्रों में हो रहे उपचुनाव में भोपाल के यूनियन कार्बाइड पीड़ितों के लिए संघर्ष करने वाले पांच संगठनों ने सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवारों का विरोध करने का ऐलान किया है। इन उपचुनाव में इन संगठनों के नेता भाजपा के खिलाफ प्रचार अभियान चलाएंगे।

Read More