mp mirror logo

डायबिटीज हो या कैंसर, दवाइयां नहीं ये मिर्ची करेगी अब आपका इलाज

नई दिल्ली: डायबिटीज से बहुत लोग परेशान हैं. खून में शुगर की मात्रा ज़्यादा होने के कारण बार-बार पेशाब आना, भूख लगना और ज्यादा प्यास लगने से काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. इससे ना सिर्फ मोटापा बढ़ता है बल्कि दिल और किडनी संबंधी बीमारियां होने का भी खतरा बना रहता है. लेकिन अब डायबिटीज के मरीज़ों को परेशान होने की ज़रूरत नहीं, क्योंकि अब एक ऐसी मिर्ची की खोज हुई है जो डायबिटीज़ के साथ-साथ कैंसर से भी लड़ने में सहायता करेगी. 

छत्तीसगढ़ के वाड्रफनगर के रहने वाले एक छात्र ने ऐसी मिर्ची की खोज की है, जो मधुमेह और कैंसर दोनों के मरीजों के लिए लाभकारी है. रायपुर के शासकीय नागार्जुन विज्ञान महाविद्यालय में एमएससी अंतिम वर्ष (बायोटेक्नोलॉजी) के छात्र रामलाल लहरे ने इस मिर्ची को खोजा है. 

लहरे सरगुजा के वाड्रफनगर में इस मिर्ची की खेती कर रहे हैं. इस मिर्ची की एक खासियत यह भी है कि यह ठंडे क्षेत्र में पैदा होती है और कई सालों तक इसकी पैदावार होती है. 

छत्तीसगढ़ के जिला बलरामपुर कृषि विज्ञान केंद्र के प्रभारी एवं वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. के.आर. साहू ने छात्र लहरे को शोध में तकनीकी सहयोग और मार्गदर्शन देने का आश्वासन दिया है. इसके लिए शासकीय विज्ञान महाविद्यालय से प्रस्तावित कार्ययोजना बनाकर विभागाध्यक्ष से मंजूरी लेनी होगी.

लहरे ने एक साक्षात्कार में कहा कि पहाड़ी इलाकों में पाई जाने वाली तीखी मिर्ची को सरगुजा क्षेत्र में जईया मिर्ची के नाम से जाना जाता है. रामलाल लहरे इन दिनों जईया मिर्ची पर शोध कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि इस मिर्ची में प्रचुर मात्रा में कैप्सेसीन नामक एल्कॉइड यौगिक पाया जाता है जो शुगर लेवल को कम करने में सहायक हो सकता है. इस मिर्ची का गुण एंटी बैक्टेरियल और कैंसर के प्रति लाभकारी होने की भी संभावना है. इसमें विटामिन ए,बी और सी भी पाई जाती है. इसके सभी स्वास्थ्यवर्धक गुणों को लेकर रिसर्च किया जा रहा है. 

लहरे ने कहा कि इस मिर्ची के पौधे की उंचाई दो से तीन मीटर होती है साथ ही इसके स्वाद में सामान्य से ज्यादा तीखापन होता है. इसका रंग हल्का पीला होता है और आकार 1.5 से 2 सेमी तक होता है. इसके फल ऊपरी दिशा में साल भर लगते रहते हैं.

चिल्लि एस एस फूड स्पाइस एंड मेडिसिन पर्सपेक्टिव, सुरेश दादा जैन इंस्टिट्यूट ऑफ फार्मास्यूटिकल एजुकेशन एंड रिसर्च, जामनेर जिला जलगांव महाराष्ट्र के वर्ष 2011 में हुए एक रिसर्च में कहा है कि मिर्ची में प्रचुर मात्रा में कैप्सेसीन नामक एल्कॉइड यौगिक पाया जाता है, जिसके कारण मिर्ची तीखी होती है. यह तत्व शुगर लेवल को कम करने में सहायक हो सकती है, लेकिन इस मिर्ची में ये अधिक मात्रा में पाया जाता है इसलिए इस मिर्ची का गुण एंटी बैक्टेरियल और कैंसर के प्रति लाभकारी होने की भी संभावना है. इसमें विटामिन ए,बी और सी भी पाई जाती है. इसके सभी स्वास्थ्यवर्धक गुणों को लेकर रिसर्च किया जा रहा है.

रायपुर के शासकीय नागार्जुन विज्ञान महाविद्यालय के बायोटेक्रोलॉजी विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ. संजना भगत ने कहा कि उपरोक्त रिसर्च पेपर के आधार पर यह दावा किया जा सकता है, लेकिन जब तक मिर्ची पर रिसर्च नहीं पूरा होगा कैंसर के प्रति लाभकारी होने का दावा नहीं किया जा सकता. अभी मिर्ची पर रिसर्च जारी है. 

लहरे ने कहा कि इस मिर्ची के तीखेपन को चखकर ही जाना जा सकता है. यह स्थान और जलवायु के आधार पर सामान्य मिर्ची से अलग है. सामान्यत: ठंडे जलवायु में जैसे- छत्तीसगढ़ के सरगुजा, बस्तर, मैनपाट, बलरामपुर और प्रतापपुर आदि ठंडे क्षेत्रों में इसकी पैदावार होती है. इसके पैदावार के लिए प्राकृतिक वातावरण शुष्क और ठंडे प्रदेश में उत्पादन होगा. 

कृषि विश्वविद्यालय केन्द्र अंबिकापुर के प्रोफेसर डॉ. रविन्द्र तिग्गा ने कहा कि यह मिर्ची दुर्लभ नहीं प्राकृतिक कारणों से विलुप्त हो रही है. इसे कई क्षेत्रों में धन मिर्ची के नाम से भी जाना जाता है. इस मिर्ची में सिंचाई की जरूरत नहीं पड़ती है, मानसून की वर्षा पर्याप्त रहती है. केवल नमी में यह पौधा सालों जीवित रहते हैं, और फलते रहता है.

तिग्गा ने कहा कि यह मिर्ची दुर्लभ नहीं थी, पहले गौरैया-चिरैया बहुतायत में रहती थी और वे मिर्ची चुनकर खाती और मिर्ची लेकर उड़ जाती थीं. जहां-जहां चिड़िया उड़ती थी, वहां-वहां मिर्ची के बीज फैल जाते थे और मिर्ची के पेड़ उग जाते थे. 

अब गौरैया-चिरैया लुप्त होने की कागार पर है और गांव, कस्बों व शहरों में तब्दील हो रहे हैं, जिसके कारण यह मिर्ची कम पैदा हो रही है. पहले पहाड़ी इलाकों में घरों घर धन मिर्ची (जईया मिर्ची) के पौधे होते थे. इसे व्यावसायिक रूप से भी पैदा किया जा सकता है.

"सेहत" से अन्य खबरें

सर्दियों में बालों की ऐसे करें देखभाल, अपनाएं आसान TIPS

नई दिल्ली : सर्दियों के मौसम में तापमान में गिरावट होने और ठंडी हवाओं के चलने से बालों में रूखापन आ जाता है। प्राकृतिक तेल और नमी चली जाती है, जिससे बाल रूखे और बेजान नजर आते हैं। इसलिए बालों की उचित देखभाल बेहद जरूरी है। 'द बॉडी शॉप इंडिया' की प्रमुख (ट्रेनिंग) शिखी अग्रवाल और सौंदर्य विशेषज्ञ ब्लॉसम कोचर ने सर्दियों के दौरान बालों की देखभाल के संबंध में ये सुझाव दिए हैं:

Read More

पित्ताशय की पथरी से निजात पाने के लिए अपनाएं ये घरेलू नुस्खे!

पित्ताशय की पथरी एक पीड़ादायक बीमारी है, जो अधिकतर लोगों को होती हैं। पित्त की पथरी का निर्माण पित्त में कोलेस्ट्रॉल और बिलरुबिन की मात्रा बढ़ जाने पर होता है। पित्ते में पथरी होने पर पेट में असहनीय दर्द होने लगता है।  

Read More

क्या भीगी मूंगफली खाने से होते हैं ये फायदे

सर्दियों के मौसम की शुरुआत होते ही लोगों के खान-पान में बदलाव आता है। लोग ड्राई फ्रुट्स भी खाने शुरू कर देते हैं। जिसमें बादाम, किशमिश, काजू आदि के नाम शामिल हैं। कुछ लोग तो अपने पीने की लत से परेशान होते हैं जोकि सेहत के लिये सबसे हानिकारक हैं।

Read More

डायबिटीज हो या कैंसर, दवाइयां नहीं ये मिर्ची करेगी अब आपका इलाज

नई दिल्ली: डायबिटीज से बहुत लोग परेशान हैं. खून में शुगर की मात्रा ज़्यादा होने के कारण बार-बार पेशाब आना, भूख लगना और ज्यादा प्यास लगने से काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. इससे ना सिर्फ मोटापा बढ़ता है बल्कि दिल और किडनी संबंधी बीमारियां होने का भी खतरा बना रहता है. लेकिन अब डायबिटीज के मरीज़ों को परेशान होने की ज़रूरत नहीं, क्योंकि अब एक ऐसी मिर्ची की खोज हुई है जो डायबिटीज़ के साथ-साथ कैंसर से भी लड़ने में सहायता करेगी. 

Read More

रोजाना 5 खजूर खाने के हैं ये जबरदस्त फायदे

अक्सर लोग सर्दियों में खजूर खाना पसंद करते हैं। खजूर में ऐसे न्यूट्रिएंट्स होते हैं जो हेल्थ के साथ ही ब्यूटी बढ़ाने में मदद करते हैं। एक्सपर्ट्स के मुताबिक खजूर को ऐसे ही खाएं। चाहें तो इसे फ्रूट सलाद में मिक्स करके, दही में मिलाकर, दूध में डालकर या ड्राइफ्रूट्स के साथ भी खा सकते हैं। आइये जानते हैं खजूर से क्या होते हैं फायदे।

Read More

मिट्टी के तवे पर बनी रोटी खाने के ये फायदे नहीं जानते होंगे आप

आधुनिक जीवनशैली के बीच मिट्टी के बर्तन धीरे-धीरे चलन से बाहर हो गए. लेकिन पिछले कुछ सालों से मिट्टी का तवा मेट्रो सिटीज के साथ ही छोटे शहरी घरों में भी देखने को मिल रहा है. पुराने लोग आज भी कहते हैं कि मिट्टी के बर्तन में बना खाना खाने से कई तरह के फायदे मिलते हैं. आयुर्वेद में कहा गया है कि खाने को आग के ऊपर धीरे-धीरे पकना चाहिए. लेकिन स्टील और एल्युमिनियम के बर्तन में यह संभव नहीं हो पाता. इनमें खाना तेजी से पकता है. जबकि मिट्टी के बर्तन में खाना हल्की आंच पर बनाया जाता है. इससे खाना स्वादिष्ट और पौष्टिक बनता है.

Read More

सुबह खाएं लहसुन की एक कली , मर्दों के लिए कमाल के हैं इसके फायदे

आमतौर पर लहसुन हर घर में इस्तेमाल में लाया जाता है. सब्जी में तड़के के लिए या चटनी का स्वाद बढ़ाने के लिए लहसुन बहुत कारगर होता है. लेकिन क्या आपको पता है कि इसके अलावा लहसुन को किस चीज के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है. दरअसल, लहसुन को औषधीय रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है. जी हां, लहसुन खाने के बहुत सारे फायदे होते हैं. 

Read More

आपको हैरान कर देंगे नाश्ते में 50 ग्राम दलिया खाने के फायदे

दलिया यानी सेहत का खजाना. दलिये का सेवन आपके स्वास्थ्य को कई तरह से फायदा पहुंचाता है. अमूमन लोग दलिये का सेवन नाश्ते में करते हैं. यदि आप रोज सुबह 50 ग्राम दलिये खाते हैं तो यह आपके शरीर के लिए कई तरह से फायदेमंद साबित होगा. दलिया विटामिन और प्रोटीन से भरपूर होता है. इसके अलावा इसमें लो कैलोरी और फाइबर भी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है. दलिया एक ऐसा आहार है जो आपके शरीर में सभी पोषक तत्वों की मात्रा को पूरा करता है. सुबह में दलिया खाने से दिनभर के लिए जरूरी सभी तत्व पूरे हो जाते हैं. आगे पढ़िए प्रतिदिन दलिये के सेवन से होने वाले फायदे के बारे में विस्तार से.

Read More

रोज खाएं एक तेज पत्ता, ये चमत्कार जानकर हैरान रह जाएंगे आप

हर घर की रसोई में इस्तेमाल होने वाले तेज पत्ते के बारे में तो आप जानते ही होंगे. अधिकतर लोग तेज पत्ते को स्वाद के लिए ही जानते हैं. लेकिन क्या आपको पता है कि यह कई प्रकार से आपकी सेहत को भी फायदा पहुंचाता है. इसमें पाए जाने वाले एंटी ऑक्सीडेंट में कई औषधीय गुण पाए जाते हैं. तेज पत्ता खाने वालों को पाचन से जुड़ी दिक्कत नहीं होती. यदि आपके घर में भी किसी को पाचन संबंधी विकार है तो तेज पत्ता का सेवन इसके लिए रामबाण साबित होगा. 

Read More

एक दिन में खाएं 3 इलायची, ये 11 फायदे जानकर हैरान रह जाएंगे आप

सफेद इलायची यानी खुशबू का खजाना. हर घर की किचन में मसाले के तौर पर इस्तेमाल होने वाली छोटी इलायची सेहत से भरपूर है. इलायची का सेवन कई मायनों में आपके लिए फायदेमंद रहता है. अधिकतर लोग इलायची को स्वादिष्ट मसाले के रूप में ही प्रयोग करते हैं और इसके सेवन से सेहत को होने वाले फायदों के बारे में अनजान रहते हैं. ऐसे में हम आज आपको बताते हैं इलायची खाने से होने वाले फायदों के बारे में विस्तार से. आमतौर पर इसका प्रयोग अलग-अलग प्रकार के मीठे में स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है.

Read More