mp mirror logo

CM नीतीश ने दिया भोज: भाजपा नेता हुए शामिल, राजनीतिक गलियारे में चर्चा

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा सोमवार को 1, अणे मार्ग (मुख्यमंत्री आवास) में विधायकों को भोज दिया गया। मुख्यमंत्री द्वारा दिये गये रात्रि भोज में राज्यपाल समेत पक्ष-विपक्ष के विधायक और विधान पार्षद बड़ी संख्या में शामिल हुए। 

भाजपा विधानमंडल दल के नेता सुशील कुमार मोदी, भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष मंगल पांडेय सहित बड़ी संख्या में भाजपा विधायकों व विधान पार्षदों ने मुख्यमंत्री के भोज में अपनी उपस्थिति दर्ज करायी। लेकिन विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष डॉ. प्रेम कुमार ने मुख्यमंत्री के भोज का बहिष्कार किया। नंदकिशोर यादव भी नदारद रहे।

राज्यपाल ने बजट सत्र के दौरान सोमवार को विधायकों को सुबह के नाश्ते पर आमंत्रित किया था। उसी दौरान एक भाजपा विधायक ने यह प्रस्ताव दिया कि मुख्यमंत्री को भी विधायकों को भोज देना चाहिए। भाजपा के कई नेताओं ने इस पर सहमति जतायी थी।

मुख्यमंत्री के भोज से लौटने के क्रम में भाजपा विधानमंडल दल के नेता सुशील कुमार मोदी ने कहा कि यह किसी पार्टी का आयोजन नहीं था। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भोज में विधायकों व विधान पार्षदों को आमंत्रित किया था। निजी निमंत्रण था। भोज को राजनीतिक नजरिए से नहीं देखना चाहिए।

जबकि नेता प्रतिपक्ष डॉ. प्रेम कुमार ने कहा कि होमगार्ड के आंदोलनरत 71 हजार जवानों की मांग को अनसुनी करने व नियोजित शिक्षकों पर लाठीचार्ज के विरोध मेंं उन्होंने भोज का बहिष्कार किया है। वहीं नंदकिशोर यादव के संबंध में बताया गया कि वे पटना में नहीं हैैं। 

भोज में शामिल होने वालों में मुख्य रूप से राज्यपाल रामनाथ कोविंद, विधान परिषद के सभापति अ‌वधेश नारायण सिंह, विधानसभा के अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी, उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव, पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी, शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी, ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव समेत राज्य सरकार के तमाम मंत्रिगण, पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी आदि शामिल हुए।

शाम सात बजे से ही मंत्रियों-विधायकों का एक अणे मार्ग में आना शुरू हो गया था। मुख्यमंत्री सभी को पूछ-पूछ कर भोजन करा रहे थे। घूम-घूम कर सभी से पूछ रहे थे कि आप भोजन किये या नहीं।  

सभी दलों के नेता डेढ़-दो घंटे तक वहां रहे और एक साथ भोजन का आनंद लिया। कई तरह के व्यंजनों का लोगों ने स्वाद लिया। वेज-नॉन वेज के अलावा कुल्फी, जलेबी और बालूशाही आदि मिठाई का सभी ने जमकर स्वाद लिया। भाजपा की ओर से पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष मंगल पांडेय, विनोद नारायण झा, संजय मयूख आदि भी भोज में शामिल हुए। 
 

"अजब-गजब" से अन्य खबरें

Painkiller से नहीं, इस छोटी-सी चीज से करें सिरदर्द को दूर!

बिजी लाइफस्टाइल के चलते लोग अपनी सेहत पर ध्यान नहीं दे पाते। लगातार काम करने से शरीर में थकावट होने लगती हैं जिससे सिरदर्द शुरू हो जाता है। ज्यादा सिरदर्द होने पर लोग पेनकिलर का सेवन करते हैं लेकिन पेनकिलर सेहत पर बुरा प्रभाव डालते हैं। अगर आप भी इस समस्या से परेशान रहते हैं तो घरेलू नुस्खे को अपनाए। नींबू सिरदर्द से छुटकारा दिलाने में बहुत मददगार है। जी हां, नींबू सिरदर्द को जड़ से खत्म कर देता है। दरअसल, नींबू में भरपूर मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है जोकि रक्‍त वाहिकाओं को आराम देता है। 

Read More

रेस में गाय तेज दौड़े इसलिए उन्हें दांतों से काटते हैं यहां के किसान, 400 सालों से हो रहा है ऐसा

ये दुनिया जितनी बड़ी है उतनी ही विविधताओं से भरी हुई भी है। यहां अलग-अलग देशों में अलग-अलग परंपराएं हैं। कुछ परंपराओं को सुनकर दुख होता है तो कुछ को सुनकर थोड़ा अजीब भी लगता है। ऐसी ही एक परंपरा इंडोनेशिया में भी है जिसके बारे में सुनकर आप भी सोच में पड़ सकते हैं। जी हां इंडोनेशिया में एक दौड़ प्रतियोगिता होती है जिसमें इंसानों की जगह गायें दौड़ती हैं। आप सोच रहे होंगे कि ये तो कई जगह होता है जहां जानवरों की रेस होती है। अगर सच में आप ऐसा सोच रहे हैं तो अपना दिल थाम लीजिए। क्योंकि हम आपको इस रेस की ऐसी बात बताने जा रहे हैं जो आपको चौंका सकती है।

Read More

स्निफर डॉग, हेलीकाॅप्टर से गुम बच्चे को 3 घंटे तक ढूंढते रहे, मिला भी तो जाकर यहां

डस्टन। नौ साल के बच्चे को उसकी मां ने रात को बेड पर सुलाया लेकिन सुबह जब उसे स्कूल के लिए नींद से जगाने गई, तो वह बेड पर मिला ही नहीं। उसे पूरे घर में ढूंढ लिया लेकिन उसका पता नहीं चला। फिर क्या था पुलिस सर्च आॅपरेशन शुरू हुआ। गुम हुए बच्चे को ढूंढने के लिए हेलीकाॅप्टर, स्निफर डाॅग से लेकर बोट के जरिए उसकी तलाश की गई लेकिन सारा प्रयास व्यर्थ गया क्योंकि तीन घंटे के इस सर्च आॅपरेशन के बाद वह मिला भी तो बेड के नीचे बने कबर्ड में।

Read More

पिछले 30 सालों से बर्तन साफ करने वाले स्पंज खा रही है यह महिला

हर इंसान का एक मनपसंद स्वाद होता है। किसी को खाने में मीठा पसंद होता है, किसी को खट्टा तो किसी को तीखा पसंद होता है। जितने करह के लोग उतनी ही तरह के उनके स्वाद। लेकिन एक महिला के स्वाद को जानकर आप अपने दांतों तले अंगुलिया दबा लेंगे। लेकिन आज हम आपको एक ऐसी महिला के बारे में बताएंगें, जिसके स्वाद के बारे में जानकर आपका मुंह भी छिल जाएगा।

Read More

अब घर बैठी पत्नी पता लगा लेगी आप कहां गुल खिला रहे हैं…!

नई दिल्ली । गूगल मैप्स पर जल्द ही एक नया ऑप्शन लेकर आ रहा है। इसके जरिए आप यह पता कर सकेंगे आपके चाहने वाले आपसे कितने पास हैं। यानी अब दोस्तों या
अपने चाहन वालों की रियल टाइम ट्रैकिंग संभव होगी। इसके साथ यह भी कि आपकी गर्ल फ्रेंड और पत्नी भी आपकी जासूसी कर सकती हैं। गूगल के जरिये वो पता कर सकती हैं कि आप इस समय कहां गुल खिला रहे हैं।

Read More

ये ग्लोबल वार्मिंग भीषण गर्मी से और कितना पकाएगी?

न्यूयॉर्क : मौसम की चरम परिस्थितियां जैसे कि झुलसाने वाली गर्मी, बाढ़, सूखा और मूसलाधार बारिश मनुष्य की गतिविधियों के कारण हो रही ग्लोबल वार्मिंग का नतीजा है. अमेरिका में पेन्सिलवेनिया स्टेट यूनिवर्सिटी के एक शोध में इसका पता चला है. शोधकर्ताओं ने दुनियाभर के 50 जलवायु मॉडलों का अध्ययन कर यह पता लगाया है.

क्या है जेट स्ट्रीम?

Read More

CM नीतीश ने दिया भोज: भाजपा नेता हुए शामिल, राजनीतिक गलियारे में चर्चा

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा सोमवार को 1, अणे मार्ग (मुख्यमंत्री आवास) में विधायकों को भोज दिया गया। मुख्यमंत्री द्वारा दिये गये रात्रि भोज में राज्यपाल समेत पक्ष-विपक्ष के विधायक और विधान पार्षद बड़ी संख्या में शामिल हुए। 

भाजपा विधानमंडल दल के नेता सुशील कुमार मोदी, भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष मंगल पांडेय सहित बड़ी संख्या में भाजपा विधायकों व विधान पार्षदों ने मुख्यमंत्री के भोज में अपनी उपस्थिति दर्ज करायी। लेकिन विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष डॉ. प्रेम कुमार ने मुख्यमंत्री के भोज का बहिष्कार किया। नंदकिशोर यादव भी नदारद रहे।

Read More

यह उपाय करके आप अपने बुरी किस्मत से पा सकते है छुटकारा

अगर आपको Fortunately (भाग्यवश) या किसी compulsion (मजबूरी) में अपनी इच्छा के विपरीत कोई कार्य करना पड़ रहा है. तो एक कपूर तथा एक फूल वाली लौंग लेकर दोनों को एक साथ जला कर उसकी राख बना लें। इस राख को एक कागज की पुडिय़ा में रख लें, और दो-तीन दिन तक थोड़ा-थोड़ा खाएं। ऐसा करने से आपकी मजबूरी समाप्त हो जाएगी और आपका अपनी इच्छा के विपरीत काम नहीं करना पड़ेगा।...

Read More

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में लगाए मनी प्लांट तो बनी रहेगी बरकत

वास्तु शास्त्र में हर पौधे के लिए एक दिशा निर्धारित है। अगर सही दिशा में पौधा लगाया जाए तो उससे कई फायदे मिल सकते हैं, लेकिन गलत दिशा में लगाए पौधे फायदे की जगह नुकसान पहुंचा सकते हैं।...

Read More

मनी प्लांट लगाने से घर में बनी रहती है सुख-समृद्धि

ऐसी मान्यता है कि जिसके घर में मनी प्लांट का पौधा लगा होता है उसके उसके घर में न केवल सुख-समृद्धि में इजाफा होता है बल्कि घर में धन का भी आगमन होता है| इसी वजह से कुछ लोग घरों में मनी प्लांट का पौधा लगाते हैं|...

Read More