mp mirror logo

शिक्षकविहीन स्कूलों में बच्चों का भविष्य अंधकार में

  • - जनशिक्षा अधिकार संरक्षण समिति ने उठाए कई मुद्दे
  • - प्रदेश के हजारों स्कूलों में नहीं हैं शिक्षक
  • - गैर शैक्षणिक कार्यों में लगे है शिक्षक
मनोहर पाल
भोपाल (एमपी मिरर)। मप्र के सरकारी स्कूलों में शिक्षा का स्तर लगातार गिरता जा रहा है और बच्चों का भविष्य अंधकारमय होता जा रहा है, फिर भी सरकार इस ओर कोई कदम नहीं उठा रहा है। प्रदेश के हजारों स्कूल शिक्षकविहीन हैं और इन स्कूलों में शिक्षकों की नियुक्ति के लिए सरकार कोई कदम नहीं उठा रही है। जनशिक्षा अधिकार संरक्षण समिति के अध्यक्ष रमाकांत पांडे ने बताया कि स्कूल संचालन की केवल प्रशासकीय खानापूर्ति हो रही है। इसका समाधान खोजने में प्रशासनिक तंत्र की कोई रुचि नहीं है। पांडे ने बताया कि जनशिक्षा अधिकार संरक्षण समिति इस संबंध में प्रदेश सरकार से लेकर केंद्र सरकार तक को अवगत करा चुकी है, लेकिन सरकार के कान पर जूं तक नहीं रेंगा और स्कूलों के हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं। यही कारण है कि अभिभावक सरकारी स्कूलों को छोड़कर निजी स्कूलों का सहारा ले रहे हैं।

- प्रदेश के 4837 स्कूल शिक्षकविहीन
मप्र में 4837 स्कूल शिक्षकविहीन हैं। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि वहां की पढ़ाई का स्तर क्या होगा। इतना ही नहीं हर साल शिक्षा विभाग के बजट में वृद्धि होती है, लेकिन शिक्षा का स्तर सुधारने की कवायद तेज नहीं होती है। पांडे ने आरोप लगाते हुए कहा कि मप्र के सरकारी स्कूलों में पढ़ाई का स्तर गिरने से कई छात्र-छात्राएं आत्महत्याएं कर चुके हैं, जिन्हें रोकने सरकार कोई कदम नहीं उठा रही है।
सरकार साल दर साल सिर्फ बजट में ही बढ़ोतरी कर रही है, लेकिन शिक्षा के स्तर में वृद्धि नहीं कर पा रही है। जनशिक्षा अधिकार संरक्षण समिति ने सरकार से मांग की है कि गैर शैक्षणिक कार्यों में लगे शिक्षकों को तत्काल  शैक्षणिक कार्य में लगाया जाए और शिक्षकों के रिक्त पदों को भरवाने के लिए शीघ्र ही कार्रवाई की जाए, ताकि बच्चों का भविष्य सुधर सके।

"स्पेशल रिपोर्ट" से अन्य खबरें

केंद्र ने जारी की 30 नई स्मार्ट शहरों की लिस्ट, तिरुवनंतपुरम सबसे ऊपर

नई दिल्‍ली। केंद्र सरकार ने शुक्रवार को स्मार्ट शहरों की तीसरी लिस्ट भी जारी कर दी है। इस लिस्ट में सबसे पहला नाम तिरुवनंतपुरम का है। इस तरह अब तक स्‍मार्ट सिटी मिशन के तहत कुल 90 शहरों का चयन कर लिया गया है। सूची में छत्‍तीसगढ़ की नई राजधानी नवा रायपुर दूसरे स्‍थान पर है।

Read More

कोविंद ने राष्‍ट्रपति पद के लिए नामांकन भरा, कहा- मैैं किसी पार्टी से नहीं

एनडीए के राष्ट्रपति उम्मीदवार रामनाथ कोविंद ने नामांकन दाखिल कर दिया है. इसके लिए रामनाथ कोविंद सहित पीएम नरेंद्र मोदी संसद भवन पहुंचे. उनके अलावा बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, बीजेपी के वरष्ठि नेता लाल कृष्ण आडवाणी भी संसद भवन में मौजूद थे. नामांकन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रथम प्रस्‍तावक रहे.

Read More


अब आई चीन को अक्ल, कहा -आतंकवाद कैसा भी हो बख्शा नहीं जायेगा

नई दिल्ली । जियांगसू के नर्सरी स्कूल पर हुए आतंकी हमले के बाद चीन को अक्ल आनी शुरु हो गयी है। शायद इसीलिए चीन ने पहली बार किसी अंतर्राष्ट्रीय पटल से किसी भी प्रकार के आतंकवाद की भर्त्सना की है। ब्रिक्स विदेश मंत्रियों के सम्मेलन में चीन ने भारत के साथ आतंकवाद के सभी रूपों में निंदा की है।

Read More

मंत्रियों का अप्रेजल करेंगे पीएम नरेंद्र मोदी, 30 दिन में मांगा तीन साल का रिपोर्ट कार्ड

राष्ट्रपति चुनाव के बाद कैबिनेट फेरबदल की अटकलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी मंत्रियों से एक रिपोर्ट कार्ड तैयार करने का कहा है। इस रिपोर्ट कार्ड में सभी मंत्रियों को उनके विभाग की प्रमुख उपलब्धियों का ब्योरा देना होगा।

Read More

अमेरिकी मैगजीन ने उठाए पीएम मोदी की नोटबंदी पर सवाल

अमेरिका की एक टॉप मैगजीन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नोटबंदी के फैसले पर सवाल उठाए हैं। मैगजीन ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया है कि प्रधानमंत्री मोदी द्वारा नोटबंदी के विघटनकारी प्रयोग की वजह से भारत की अर्थव्यवस्था में ठहराव आ गया है।

Read More

कश्मीर में सीरियल अटैक के पीछे है आतंकी संगठन ‘जैश ए मोहम्मद’

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के कई इलाकों में मंगलवार शाम से देर रात तक एक के बाद एक 6 आतंकी हमले हुए। कश्मीर में अलग-अलग जगहों पर सीआरपीएफ, पुलिस और सेना के ठिकानों को निशाना बनाया गया। इन आतंकी वारदात के पीछे जैश-ए-मोहम्मद का हाथ होने की बात सामने आ रही है।

डीजीपी एसपी वैद ने कहा कि घाटी में हिजबुल मुजाहिदीन का व्यापक प्रभाव है। हालांकि, मंगलवार को हुए सीरियल हंमलों में जैश-ए-मोहम्मद का हाथ है। इंटेलिजेस सूत्रों से यह जानकारी मिली है। डीजीपी वैद्य ने यह भी कहा कि स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है और संवेदनशील इलाकों में सुरक्षा के इंतजाम और पुख्ता कर दिए गए हैं।

Read More

नीतीश कुमार ने साधा मोदी सरकार पर निशाना, कहा- किसानों के साथ वादाखिलाफी

देशभर में किसान आंदोलन की आग बढ़ती जा रही है। मध्य प्रदेश के बाद महाराष्ट्र और अब कर्नाटक में किसान प्रदर्शन कर रहे हैं। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मोदी सरकार पर किसान आंदोलन के मुद्दे पर हमला बोला है। उन्होंने कहा, “मोदी सरकार ने किसानों से उनकी फसलों की कीमत को लेकर जो वादा किया था वह पूरा नहीं किया गया है। 

Read More

उत्तराखंड में खुलेआम बिक रहे प्लास्टिक के चावल ग्राहक हैरान, दुकानदार परेशान

प्लास्टिक चावल की जांच आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में किराना स्टोर्स पर प्लास्टिक चावल बेचे जाने की अफवाह ने लोगों को परेशानी में डाल दिया है। मंगलवार को सिविल आपूर्ति विभाग के अधिकारियों ने मीरपेट की एक किराना दुकान पर छापा मारा और चावल के नमूने को जब्त किया जिसकी जांच की जा रही है।

Read More

भ्रष्टाचार के खिलाफ मोदी सरकार का अहम कदम 50 साल पुराना कानून बदला

केंद्र सरकार ने सरकारी विभागों में भ्रष्टाचार को कम करने के लिए बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने 50 साल पुराने कानून में संशोधन करते हुए सरकारी कर्मचारियों के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामलों की जांच 6 महीने में पूरी करने की समय सीमा तय कर दी है। यह फैसला ऐसे मामलों की जांच में तेजी लाने के उद्देश्य से किया गया है। इनमें से अधिकतर मामले काफी समय से लंबित पड़े हैं।

Read More