mp mirror logo

अखिलेश यादव फिर बने सपा अध्यक्ष, मुलायम सिंह यादव और शिवपाल यादव नहीं थे मौजूद, उठे सवाल

आगरा: मोहब्बत की नगरी आगरा में अखिलेश यादव को पद तो मिला लेकिन पिता मुलायम सिंह यादव का प्यार नहीं मिला. आज दोबारा निर्विरोध समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष चुने गए. ताजनगरी आगरा में चल रहे सपा के दसवें राष्ट्रीय अधिवेशन के दौरान उन्हें पार्टी का अध्यक्ष चुना गया. वह लगातार दूसरी बार दल के अध्यक्ष चुने गए हैं.निर्वाचन अधिकारी एवं सपा के वरिष्ठ नेता रामगोपाल यादव ने अखिलेश के निर्विरोध निर्वाचन की औपचारिक घोषणा की. इस घोषणा के दौरान सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव और उनके छोटे भाई व अखिलेश के प्रतिद्वंद्वी चाचा शिवपाल यादव मौजूद नहीं थे.

इससे पहले गत 1 जनवरी, 2017 को लखनऊ में हुए राष्ट्रीय अधिवेशन में अखिलेश को मुलायम सिंह यादव के स्थान पर सपा का अध्यक्ष बनाया गया था. अखिलेश का कार्यकाल पांच वर्ष का होगा. उनके दोबारा अध्यक्ष बनने के साथ ही यह तय हो गया है कि वर्ष 2019 का लोकसभा चुनाव और 2022 का उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव उन्हीं के नेतृत्व में लड़ा जाएगा. गौरतलब है कि सपा के 10वें राष्ट्रीय अधिवेशन से पहले आज पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हुई जिसमें अध्यक्ष के कार्यकाल की अवधि मौजूदा तीन वर्ष से बढ़ाकर पांच साल कर दिया गया.

अखिलेश का आज सपा के अध्यक्ष पद पर दोबारा निर्वाचन महज औपचारिकता था, क्योंकि उन्हें चुनौती देने वाला कोई और उम्मीदवार नहीं था. सपा के राष्ट्रीय अधिवेशन में देशभर से पार्टी के करीब 15,000 प्रतिनिधि हिस्सा ले रहे हैं. इस अधिवेशन में विभिन्न राष्ट्रीय तथा स्थानीय मुद्दों पर विचार-विमर्श किया जाएगा और आर्थिक तथा राजनीतिक प्रस्ताव पारित किये जाएंगे.

सपा का यह अधिवेशन ऐसे समय हो रहा है जब पार्टी में अखिलेश और शिवपाल धड़ों में रस्‍साकशी का दौर जारी है. फिलहाल हालात अखिलेश के पक्ष में नजर आ रहे हैं. माना जा रहा था कि खुद को सपा के तमाम मामलों से अलग कर चुके मुलायम गत 25 सितम्‍बर को लखनऊ में हुए संवाददाता सम्मेलन में अलग पार्टी या मोर्चे के गठन की घोषणा करेंगे, लेकिन उन्‍होंने ऐसा करने से इनकार कर शिवपाल खेमे को करारा झटका दिया. मुलायम के सहारे ‘समाजवादी सेक्‍युलर मोर्चे’ के गठन की उम्‍मीद लगाये शिवपाल पर अब अपनी राह चुनने का दबाव है. शिवपाल के करीबियों का कहना है कि सपा के राष्‍ट्रीय अधिवेशन के बाद वह कोई फैसला ले सकते हैं. (इनपुट्स भाषा से )

"राजनीतिक खबरें" से अन्य खबरें

बीजेपी सांसद बोले- रॉबर्ट वाड्रा हैं सरकार का अगला निशाना, फंस सकते है राहुल और सोनिया गांधी

पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में हुए घोटाले को लेकर भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साध रही कांग्रेस पर बीजेपी सांसद ने पलटवार किया है। सांसद ने कहा है कि कांग्रेस को घोटाले के मामले में बोलने का अधिकार नहीं है, क्योंकि यह सब उसकी सरकार में शुरू हुआ है। 

Read More

PNB घोटाला मामला: विपक्षियों ने भाजपा पर साधा निशाना

पीएनबी बैंकिंग घोटाला मामले में विपक्षी दलों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार पर हमला किया और कहा कि बीजेपी इस मामले में समय पर कार्रवाई करने में नाकाम रही है।

दरअसल, राहुल गांधी ने ट्वीट के जरिये पीएम मोदी पर हमला बोला और कहा कि 'नीरव मोदी ने समझाया है कि भारत को कैसे लूटा जा सकता है। सबसे पहले पीएम मोदी को गले मिलो, दावोस में पीएम मोदी के साथ भी नजर आओ। देश के 12000 करोड़ रुपए चुराओ और विजय माल्या की तरह देश से पैसे लेकर भाग जाओ।' यहां तक की राहुल ने नीरव मोदी को 'छोटा मोदी' का नाम दे डाला।

Read More

नेपाली प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा ने दिया इस्तीफा, वाम-मोर्चा की बनेगी अगली सरकार

नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा ने गुरुवार को अपने पद से इस्तीफा देकर वाम-मोर्चा की अगली सरकार के गठन के लिए रास्ता साफ कर दिया है। गौरतलब है कि देश में हुए ऐतिहासिक संसदीय और स्थानीय चुनावों में पार्टी की बुरी हार के करीब दो महीने बाद देउबा ने इस्तीफा दिया है। देउबा सीपीएन (माओवादी सेन्टर) के समर्थन से पिछले वर्ष छह जून को नेपाल के 40वें प्रधानमंत्री बने थे। 

Read More

सुशील मोदी का हमला, कहा- भ्रष्टाचार में डूबा लालू परिवार CM पर उछाल रहा कीचड़

पटना। बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने ट्वीट करते हुए राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के परिवार पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार में डूबा लालू परिवार उस मुख्यमंत्री पर कीचड़ उछाल रहा है जिन्हें सार्वजनिक जीवन में ईमानदारी के लिए मुफ्ती मुहम्मद सईद पुरस्कार से सम्मानित किया गया। संपत्ति के स्थान पर मुख्यमंत्री का 22वें स्थान पर होना अपने आप में एक प्रमाण है।

Read More

उमा भारती ने किया बड़ा ऐलान- अब मैं कोई चुनाव नहीं लड़ूंगी

झांसी: केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी की अत्यंत मुखर नेता के तौर पहचानी जाने वाली झांसी की सांसद साध्वी उमा भारती ने अब चुनाव न लड़ने का फैसला कर लिया है. उन्होंने यह बात रविवार को संवाददाताओं से चर्चा के दौरान कही. क्षेत्रीय सांसद उमा भारती ने संवाददाताओं से अपनी उम्र और स्वास्थ्य का हवाला देते हुए कहा, "अब मैं कोई चुनाव नहीं लड़ूंगी, मगर पार्टी के लिए काम करती रहूंगी. "

Read More

मेघालय चुनाव: कांग्रेस ने स्टार प्रचारकों की लिस्ट की जारी

शिलांग: मेघालय में फरवरी के अंत में विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं और राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस पार्टी ने चुनाव प्रचार के लिए संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस नेता शशि थरूर को अपने स्टार प्रचारकों में शामिल किया है. पार्टी के एक पदाधिकारी ने इसकी जानकारी दी. उन्होंने बताया कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी भी चुनाव प्रचार के लिए राज्य में लौट रहे हैं. गांधी ने पिछले महीने एक रॉक कंसर्ट के जरिए आधिकारिक रूप से चुनावी बिगुल फूंका था.

Read More

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह पर जमीन की धोखाधड़ी का आरोप, प्राथमिकी हुई दर्ज

पटना। केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह पर कोर्ट के आदेश के बाद जमीन की धोखाधड़ी, जालसाजी और जाति सूचक शब्दों का इस्तेमाल कर अपशब्द कहने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज की गई है। उनके साथ 33 अन्य लोगों पर भी प्राथमिकी दर्ज की गई है। इसी के साथ मौके की ताक में बैठे आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने गिरिराज सिंह से इस्तीफे की मांग की है।

Read More

विनय कटियार: भारत में मुसलमानों का क्या काम, पाकिस्तान या बांग्लादेश जाएं

नई दिल्ली: ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने भारतीय मुस्लिमों को पाकिस्तानी कहे जाने को दंडनीय अपराध घोषित करने की मांग पर बीजेपी के राज्यसभा सांसद विनय कटियार ने पलटवार किया है. न्यूज एजेंसी ANI से बातचीत में विनय कटियार ने कहा, जो लोग वंदे मातरम का सम्मान नहीं करते हैं और जो पाकिस्तानी झंडे को फहराते हैं उनपर कार्रवाई करने का बिल लाया जाना चाहिए.' विनय कटियार ने यहीं नहीं रुके उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा, 'मुसलमानों को इस देश में रहना ही नहीं चाहिए.

Read More

त्रिपुरा में ढहेगा “लाल किला”, पहली बार बीजेपी की बहुमत सरकार

देश के पूर्वोत्तर राज्य त्रिपुरा में जैसे-जैसे चुनाव की तारीख नजदीक आती जा रही है, वैसे-वैसे राजनीतिक दलों और राजनेताओं के दावों-प्रतिदावों और आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है। 60 सदस्यों वाली त्रिपुरा विधान सभा के लिए 18 फरवरी को वोट डाले जाएंगे लेकिन अभी से ही कयास लगाने का दौर जारी है। न्यूज एक्स के ओपिनियन पोल के मुताबिक 25 सालों से सत्ता पर काबिज सीपीआईएम इस बार सत्ता से बेदखल होती नजर आ रही है। सर्वे के मुताबिक यहां पहली बार भाजपा की सरकार बनती दिखाई दे रही है।

Read More

उत्तराखंड की BJP सरकार ने 9 महीने में मेहमानों के चाय-नाश्ते पर खर्च किए 68 लाख रुपए, RTI में खुलासा

देहरादून. उत्तराखंड सरकार ने मेहमानों के चाय-नाश्ते पर बीते 9 महीने में सरकारी फंड से 68 लाख 59 हजार 865 रुपए खर्च कर दिए। एक आरटीआई में इस बात का खुलासा हुआ है। बता दें कि 18 मार्च 2017 को त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी।

दिसंबर में लगाई गई थी एप्लिकेशन
– हेमंत सिंह गौनियां नाम के आरटीआई एक्टिविस्ट ने 19 दिसंबर 2017 को एप्लिेकशन लगाई थी। इसमें पूछा गया था कि त्रिवेंद्र सिंह रावत के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद से अब तक चाय-पानी तक कितना सरकारी पैसा खर्च हुआ?

Read More