mp mirror logo

प्रशासन के दावे की खुली पोल: अवैध रेत खदान धंसने से दो मजदूरों की मौत

बड़वानी (एमपी मिरर)। जिले के छोटी कसरावद में अवैध रेत खनन का कारोबार चल रहा था, अचानक खदान धंस गई और उसकी मिट्टी में मजदूर भी दब गए। अवैध खदान में रेत खनन कर रहे दो मजदूरों की मिट्टी धसने से दबने पर मौत हो गई। घटना जिला मुख्यालय से लगे डूब प्रभावित ग्राम छोटी कसरावद के देदला फलिया में शनिवार सुबह 10.30 बजे की है। घटना के बाद रेत खनन में लगे अन्य मजदूर वहां से ट्रैक्टर-ट्रॉली लेकर भाग निकले।
घटना की जानकारी मिलने पर ग्रामीण मौके पर इकट्ठा हो गए। सूचना मिलने पर पुलिस बल, एसडीएम, तहसीलदार, एएसपी भी मौके पर पहुंचे। जेसीबी की मद्द से पुलिस ने शव निकलवाए। पुलिस ने अवैध रेत खनन में लगे ट्रैक्टर मालिक के खिलाफ केस दर्ज किया। प्रशासन भले ही सुप्रीम कोर्ट, हाईकोर्ट और एनजीटी के सामने लाख दावे कर रहा है कि बड़वानी जिले में अवैध रेत खनन नहीं हो रहा है। इन दावों की पोल तब खुल गई जब शनिवार को दो मजदूरों की मौत अवैध खदान में दबने से हो गई। पुनिया फलिया सजवानी निवासी बाला पिता नानूराम (25) और सुनील पिता बनिया (20) अपने साथी सुबेरसिंह पिता धुमसिंह और इताम पिता हीरा भील के साथ मजदूरी के लिए निकले थे।
चारों को सेगांव निवासी महेंद्र दरबार ने ट्रैक्टर-ट्रॉली क्रमांक एमपी-10-एए-7302 लेकर छोटी कसरावद में रेत खनन के लिए भेजा था। यहां रेत खोदते समय अचानक ऊपर से मिट्टी धस गई। जिसमें बाला और सुनील दब गए। ये देखकर सुबेरसिंह अपने साथी के साथ ट्रैक्टर-ट्रॉली लेकर भाग निकला।

मदद की गुहार लगाते रहे लोग
घटना के बाद आसपास खेतों में काम कर रहे लोग भाग कर मौके पर पहुंचे। मिट्टी में मजदूर दबे होने की जानकारी मिलने पर भी किसी की हिम्मत नहीं हुई कि नीचे जाकर मिट्टी हटाए। घटना की जानकारी मिलने पर नर्मदा बचाओ आंदोलन कार्यकर्ता देवराम कनेरा और मुकेश भगोरिया भी मौके पर पहुंचे।
यहां खड़े युवाओं से उन्होंने मदद की गुहार भी लगाई, लेकिन कोई आगे नहीं आया। इस दौरान सूचना मिलने पर डायल 100 वाहन, तहसीलदार आदर्श शर्मा और टीआई संतोष सिसोदिया भी मौके पर पहुंचे। एनबीए कार्यकतार्ओं ने उनसे जेसीबी मशीन मंगाकर जल्दी से दबे लोगों को निकालने की गुहार लगाई।

चल रही थी सांसें
दोपहर 1 बजे यहां नगर पालिका की जेसीबी मशीन पहुंची। जेसीबी चालक ने मिट्टी हटाना शुरू किया। कुछ ही देर में दोनों मजदूर दिखने लगे। दोनों को बाहर निकाला गया। इस दौरान सुनील की सांसें चल रही थी। वहां मौजूद लोग तुरंत ही उसे लेकर दौड़े और पिकअप वाहन में डालकर जिला अस्पताल लाया गया।
यहां मौजूद ड्यूटी डॉक्टर ने जांच के बाद सुनील और बाला को मृत घोषित कर दिया। घटना की जानकारी मिलने पर मृतकों के परिजन भी जिला अस्पताल पहुंच गए। देखते ही देखते जिला अस्पताल चींखों से गूंज उठा। मृतक आपस में चचेरे भाई थे। जिसमें से बाला की एक साल पहले ही शादी हुई थी। यहां पहुंची मृतक बाला की पत्नी रीना अपने पति का शव देखकर बेहोश हो गई। बताया जा रहा है कि मृतक की पत्नी गर्भवती है।

डूब क्षेत्र में चल रहा खनन
जहां पर अवैध रेत खदान चल रहा है वो जगह सरदार सरोवर बांध के डूब क्षेत्र में आ रही है। जिस जमीन पर अवैध खदान है वो जगह सुरपाल पिता बुधिया की पड़त जमीन है। सुरपाल को इस जमीन का मुआवजा भी मिल चुका है। एनबीए के देवराम कनेरा, मुकेश भगोरिया ने बताया कि हम प्रशासन को लंबे समय से अवैध रेत खनन के सबूत देते आ रहे है।

नहीं पहुंचे खनिज विभाग के अधिकारी
घटना की जानकारी मिलने पर एसडीएम महेश बड़ोले, एएसपी टीएस बघेल, तहसीलदार आदर्श शर्मा जरूर मौके पर पहुंचे, लेकिन खनन रोकने के लिए जिम्मेदार खनिज विभाग के अधिकारी तो दूर चपरासी तक भी मौके पर नहीं पहुंचा। नर्मदा बचाओ आंदोलन कार्यकतार्ओं ने आरोप लगाया कि खनिज विभाग की मिलीभगत से ही जिलेभर में अवैध खनन हो रहा है। पेंड्रा, नंदगांव, पिपलूद, पिछोड़ी, बडगांव, छोटी कसरावद सहित नर्मदा पट्टी के गांवों में धड़ल्ले से अवैध रेत खनन चल रहा है। अवैध रेत खनन पर रोक लगाने में प्रशासन पूरी तरह से असमर्थ दिख रहा है। शनिवार की घटना में जो ट्रैक्टर मालिक महेंद्र दरबार रेत खनन करा रहा था, उसका एक ट्रैक्टर 3 जनवरी को भी रेत खनन में पकड़ाया था। इसके बाद भी उसके हौसले बुलंद थे और वो रेत खनन में लगा हुआ था।

 

"मुख्य ख़बरें" से अन्य खबरें

सोमालिया में अब तक का सबसे बड़ा बम धमाका, 276 की मौत और 300 घायल

सोमालिया की राजधानी में हुए अभी तक के सबसे शक्तिशाली विस्फोट में 276 लोग मारे गए हैं और करीब 300 अन्य लोग घायल हो गए हैं। देश के सूचना मंत्री ने सोमवार को यह जानकारी दी। मृतकों की संख्या में अभी और बढ़ोतरी हो सकती है। एक ट्वीट में सोमालियाई नेता अब्दीरहमान उस्­मान ने हमले को बर्बर करार दिया है। उन्होंने बताया कि तुर्की और केन्या सहित कई देशों ने चिकित्सा सहायता की पेशकेश की है। विदेश मंत्रालय सहित महत्वपूर्ण मंत्रालयों के निकट व्यस्त चौराहे को निशाना बनाकर किए गए ट्रक बम विस्फोट के बाद अस्पतालों में भारी भीड़ लग गई है।

Read More

डोकलाम पर 'हार' से बौखलाया चीन, भारत के हाई स्पीड ट्रेन के सपनों पर लगाया अड़ंगा

नई दिल्ली: दक्षिण भारत में एक महत्वाकांक्षी उच्च गति ट्रेन परियोजना चीनी रेलवे की ओर से प्रतिक्रिया नहीं आने की वजह से अटकी पड़ी है. रेलवे अधिकारियों का कहना है कि "प्रतिक्रिया में कमी" का कारण डोकलाम विवाद हो सकता है. रेलवे की नौ उच्च गति परियोजनाओं की स्थिति पर मोबिलिटी निदेशालय की एक आंतरिक जानकारी मिली है. इससे पता चलता है कि 492 किलोमीटर लंबा चेन्नई-बेंगलुरु-मैसूर गलियारा अधर में लटका है, क्योंकि चीनी रेलवे ने मंत्रालय की ओर से भेजी गई शासकीय सूचना पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है. 

Read More

धनतेरस 2017: इस दिन जरूर खरीदें ये चीजें

नई दिल्ली: धनतेरस और दिवाली को लेकर लोगों ने तैयारियां शुरू कर दी है. इस बार धनतेरस 17 अक्टूबर को है तो वहीं दिवाली 19 अक्टूबर को मनाई जाएगी. धनतेरस पर खरीदारी करना शुभ माना जाता है. लेकिन इस दिन क्या खरीदना सबसे ज्यादा शुभ होता है, इसके बारे में शायद ही आपने पहले कभी सोचा होगा. तो चलिए आपकी मदद करते हुए हम आपको बताते हैं वो वस्तुएं जिन्हें खरीदकर आपके घर में धन और संपन्नता आएगा.

Read More

तीनों सेनाओं के कमान में दिवाली मनाएंगी रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण

नई दिल्ली: रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण अंडमान निकोबार द्वीप में स्थित सामरिक रूप से महत्वपूर्ण तीनों सेनाओं (थल, वायु एवं नौसेना) के कमान में सैन्यकर्मियों के साथ दिवाली मनाएंगी.

आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि निर्मला 24 और 25 अक्तूबर को फिलीपीन की यात्रा पर होंगी और खासकर समुद्री क्षेत्र में सैन्य सहयोग मजबूत करने के तरीके तलाशने के लिए इस दौरान वहां के वरिष्ठ नेताओं के साथ बातचीत करेंगी.

Read More

श्रीलंका: भारतीय महावाणिज्य दूतावास के सामने प्रदर्शन करने पर पूर्व राष्ट्रपति का बेटा गिरफ्तार

कोलंबो: श्रीलंका के पूर्व राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे के बड़े बेटे समेत दो सांसदों को हंबनटोटा में भारतीय महावाणिज्य दूतावास के बाहर प्रदर्शन करने पर गिरफ्तार किया गया है. वे एक हवाईअड्डे का प्रस्तावित पट्टा भारतीय कंपनी को दिए जाने के विरोध में प्रदर्शन कर रहे थे. संयुक्त विपक्ष के सदस्यों ने हंबनटोटा के मत्ताला महिंदा राजपक्षे अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे (एमआरआईए) को श्रीलंका सरकार द्वारा भारत को सौंपे जाने वाले समझौते के खिलाफ प्रदर्शन किया.

Read More

18 साल से कम उम्र की पत्‍नी के साथ शारीरिक संबंध बनाना ‘बलात्‍कार’ : सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने व्‍यवस्‍था दी है कि 18 वर्ष से कम उम्र की पत्‍नी के साथ शारीरिक संबंध बनाना बलात्‍कार की श्रेणी में आएगा। शीर्ष अदालत ने कहा कि 15-18 वर्ष की आयु की पत्‍नी से अगर पति सेक्‍स करता है तो इसे ‘बलात्‍कार’ माना जाएगा। अदालत ने यह भी कहा कि यौन संबंधों के लिए सहमति की न्‍यूनतम उम्र कम नहीं की जा सकती। बलात्‍कार की शिकायत एक साल के भीतर दर्ज करानी होगी। 

Read More

पटाखों पर बैन: नाराज त्रिपुरा गवर्नर का ट्वीट- अवॉर्ड वापसी गैंग चिता जलाने पर भी याचिका डाल दे

अगरतला: दिवाली पर होने वाली आतिशबाजी पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा रोक लगाए जाने के बाद त्रिपुरा के राज्यपाल तथागत रॉय ने अपनी नाराजगी जाहिर की है. उन्होंने ट्विटर के जरिए ‘मोमबत्ती और पुरस्कार वापसी गिरोह’ पर निशाना साधा और कहा कि वायुप्रदूषण के डर से हिंदूओं के दाह संस्कार पर भी अर्जी आ सकती है. मीडिया सूत्रों की मानें तो एक न्यूज चैनल से बातचीत के दौरान भी त्रिपुरा राज्यपाल ने इस मुद्दे पर अपनी नाराजगी जाहिर की थी. उन्होंने कहा था, वे एक हिंदू होने के नाते सुप्रीम कोर्ट के आदेश से खफा हैं.

Read More

चुनाव से पहले गुजरात की जनता को सरकार से मिला एक हफ्ते में दूसरा बड़ा तोहफा

कोई कह सकता है कि देश के जिस राज्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी का आना-जाना बढ़ जाए तो समझिए वहाँ चुनाव आने वाला है। कोई कह सकता है कि जब एक हफ्ते के अंदर एक राज्य पर केंद्र सरकार और राज्य सरकार खास मेहरबान नज़र आए तो समझिए वहाँ चुनाव आने वाला है। 

Read More

गोधरा ट्रेन आगजनी: 11 दोषियों की मौत की सजा उम्रकैद में बदली, अदालत ने कहा- थी राज्‍य सरकार की लापरवाही

गुजरात उच्च न्यायालय ने 2002 में हुए गोधरा ट्रेन आगजनी मामले में फांसी की सजा पाए 11 दोषियों की सजा को सोमवार को उम्रकैद में बदल दिया। गोधरा कांड में 59 कार सेवक मारे गए थे। मृत्युदंड की सजा पाने वाले 11 दोषियों ने फैसले को चुनौती देते हुए अपील दायर की थी। एसआईटी की एक विशेष अदालत ने एक मार्च 2011 को इस मामले में 31 लोगों को दोषी करार दिया था और 63 को बरी कर दिया था।

Read More

भारतीय सरकार ने यमन जाने पर प्रतिबंध लगाया, बताया- अपहरण, हत्‍या का खतरा

भारत सरकार ने नागरिकों के लिए यमन की यात्रा पर रोक लगा दी है। केरल के अपहृत कैथोलिक पादरी टॉम के सकुशल भारत वापस लौटने के बाद सरकार ने यह कदम उठाया है। टॉम केा 4 मार्च, 2016 को एक आतंकी हमले में अगवा कर लिया गया था। उन्हें 12 सितंबर, 2017 को आईएस के चंगुल से छुड़ाकर ओमान लाया गया था। 

Read More