mp mirror logo

कहीं फूहड़ गाने गूंजे, तो कहीं झुका राष्ट्रध्वज

  • गणतंत्र दिवस के मौके पर शिक्षकों ने नहीं रखा मर्यादा का ध्यान
  • मुख्य समारोह में भी हुआ भाजयुमो का जिक्र

गुना (एमपी मिरर)। भारतीय लोकतंत्र के सबसे बड़े उत्सव गणतंत्र दिवस पर्व पर जहां एक पारंपरिक ढंग से सांस्कृतिक कार्यक्रमों के आयोजनों के साथ शान से तिरंगा फहराया गया, वहीं दूसरी ओर तीन तस्वीरें ऐसी भी सामने आईं, जो गणराज्य के उत्सव के बीच शर्म का कारण बन गईं। इस बार गणतंत्र दिवस पर वह सब-कुछ हुआ, जिसकी मनाही सरकारी और कानूनी तरीकों से की गई है। मसलन फूहड़ फिल्मी गीतों पर स्कूली बालिकाओं से नृत्य कराने से लेकर राष्ट्रध्वज की मर्यादा को भी ताक पर रखा गया। हद तो तब हो गई, जब जिला मुख्यालय स्थित लाल परेड मैदान पर ही मुख्य समारोह की गरिमा को कथित रूप से ठेस पहुंचाई गई। गणतंत्र दिवस के दिन ऐसी तस्वीरें सोशल मीडिया पर खासी वायरल हुईं। बड़ा सवाल ये है कि ये तस्वीरें जिम्मेदार प्रशासनिक अधिकारियों तक पहुंची या नहीं और अगर पहुंची हैं, तो फिर 48 घंटे बीतने के बाद कार्रवाई की सुगबुगाहट क्यों नहीं है? बहरहाल प्रशासन कब तक कार्रवाई करेगा ये तो भविष्य की गर्त में है, लेकिन इन तस्वीरों ने कई गंभीर सवाल शिक्षा और प्रशासनिक प्रणाली पर जरूर खड़े कर दिए हैं।


शर्मनाक दृश्य: एक; परेड ग्राउंड
राज्य के उच्च शिक्षा मंत्री और जिले के प्रभारी मंत्री जयभान सिंह पवैया लाल परेड में हुए मुख्य समारोह के मुख्य अतिथि थे। उनकी ऐसी ही एक तस्वीर को कार्यक्रम के ठीक बाद वायरल किया गया। इस तस्वीर में सरकार के लाडो अभियान से लेकर बेटी बचाओ अभियान पर भी तंज कसा गया है। इस तस्वीर में प्रभारी मंत्री पवैया के साथ कई भाजपा नेता कुर्सियों पर बैठे हैं, जबकि कार्यक्रम देखने आईं छोटी-छोटी स्कूली छात्राएं उनके पैरों के पास बैठी हैं। तस्वीर पोस्ट करने वाले ने कुर्सी पर बैठे नेताओं की शर्म पर भी सवाल उठाए हैं। एक अन्य पोस्ट सरकारी आयोजन में भारतीय जनता युवा मोर्चा की रन फॉर इंडिया के जिक्र को लेकर भी की गई है। गणतंत्र दिवस के समारोह में कार्यक्रम की उद्घोषिका ने भाजपा की यूथ विंग भाजयुमो का जिक्र किया था।


शर्मनाक दृश्य: दो; झुक गया राष्ट्रध्वज
मधुसूदनगढ़ के बालक प्राथमिक स्कूल में स्टूल के सहारे राष्ट्रध्वज फहरा दिया गया। ध्वज फहराने की औपचारिकता के बाद शिक्षकों ने विद्यालय से रवानगी डाल दी। नतीजा ये हुआ कि हवा चलने पर राष्ट्रध्वज पूरी तरह झुक गया। जैसे ही इसकी जानकारी प्रभारी तहसीलदार सुनील वर्मा को लगी, उन्होंने तुरंत मौके पर पहुंचकर राष्ट्रध्वज को सीधा करा दिया। बताया जाता है कि गणतंत्र दिवस समारोह के लिए स्कूल में साफ-सफाई भी नहीं कराई गई थी। मामले में तहसीलदार वर्मा ने पंचनामा तैयार कर अगली कार्रवाई के लिए कलेक्टर को रिपोर्ट सौंपी है।


शर्मनाक दृश्य: तीन फूहड़ गानों पर नृत्य
गणतंत्र दिवस की शाम सोशल मीडिया पर एक बेहद चौंकाने वाला वीडियो वायरल होता है। वीडियो भेजने वाला ये दावा करता है, कि ये दृश्य धरनावदा के सरकारी स्कूल में आयोजित गणतंत्र दिवस के  सांस्कृतिक कार्यक्रम का है। इसे देखने और सुनने भर से ये समझने में देर नहीं लगती, कि किस प्रकार के फूहड़ फिल्मी गीतों पर स्कूली बालिकाएं नृृत्य कर रही हैं। बालिकाओं के नृत्य को देखने के लिए इस खुले मैदान में स्कूली बच्चों के अलावा आम लोग भी खड़े दिखाई दे रहे हैं।

यूथ खालसा ने किया सप्रे का सम्मान
फोटो: गुना-5
गुना। मामूली बात पर सिक्ख समुदाय के व्यक्ति पर गोली चलाने वाले युवकों की तत्काल गिरफ्तारी पर यूथ खालसा के सदस्यों ने कैंट थाना प्रभारी आशीष सप्रे का सम्मान किया है। बताना लाजमी होगा कि गत 3 जनवरी की शाम तकरीबन साढ़े 7 बजे कैंट गुरुद्वारा के ज्ञानी जी पर कुछ युवकों ने फायर कर दिया था। घटना के तत्काल बाद ही पुलिस हरकत में आ गई और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस की तत्परता की प्रशंसा करते हुए यूथ खालसा के सदस्य सुखजीत सिंह, सुरिंदर कपूर, सोनू मंगवार, जतिन, जसपाल, प्रिंस, लक्की, टीटू सरदार आदि ने कैंट थाने पहुंचकर थाना प्रभारी आशीष सप्रे का सम्मान किया।

उत्कृष्ट कार्य के लिए सुर्येन्द्र सम्मानित
गुना। गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान लाल परेड मैदान पर प्रभारी मंत्री ने आरक्षक सूर्येन्द्र मिश्रा को सम्मानित किया। सुर्येन्द्र ने कोतवाली में पदस्थ रहते कई उत्कृष्ट कार्यों को अंजाम दिया है।

 

"जिलों की ख़बरें" से अन्य खबरें

ऐसे हुई थी कांग्रेस के टूटने की शुरूआत, अर्जुनसिंह के साथ नरसिंहराव ने किया था ये विश्वासघात

इंदौर. राजीव गांधी की मौत और 1991 के आम चुनाव के बाद कांग्रेस प्रधानमंत्री पद के लिए नाम तय नहीं कर पा रही थी। वरिष्ठ नेता पीवी नरसिंहराव लोकसभा चुनाव नहीं लड़े और स्वास्थ्य कारणों से हैदराबाद चले गए। एेसे में अर्जुनसिंह ने कांग्रेस नेताओं को नरसिंहाराव को प्रधानमंत्री बनाने के लिए राजी किया। अर्जुनसिंह ने इंदौर के आनंद मोहन माथुर और डॉ. राजेंद्र जैन को दिल्ली बुलाया। 

Read More

राज्य सभा के की एक सीट पर उप निर्वाचन की अधिसूचना जारी

भोपाल। मध्यप्रदेश से राज्यसभा के लिए रिक्त हुए एक स्थान की पूर्ति के लिए उप चुनाव की अधिसूचना आयोग द्वारा आज जारी कर दी गई है. अधिसूचना जारी होने के साथ ही उक्तच एक रिक्त स्थान की पूर्ति के लिए नामांकन की प्रक्रिया आंरभ हो गई.

आयोग द्वारा इस उप निर्वाचन के लिए मध्यथप्रदेश विधान के प्रमुख सचिव अवधेश प्रताप सिंह को रिटर्निंग ऑफिसर एवं अपर सचिव प्रेमनारायण विश्वकर्मा को सहायक रिटर्निंग ऑफिसर नियुक्त किया गया है. विधान सभा भवन, भोपाल स्थित समिति कक्ष क्रमांक-02 (एम 02) को निर्वाचन कार्यालय हेतु अधिकृत किया गया है.

Read More

मध्यप्रदेश में कोविंद के लिए क्रॉस वोटिंग, कांग्रेस और बसपा ने दिए वोट

भोपाल राष्ट्रपति चुनावों में मध्यप्रदेश से बड़ी खबर आ रही है, यहां पर क्रॉस वोटिंग की जानकारी सामने आई है। एनडीए के प्रत्याशी रामनाथ कोविंद को मध्यप्रदेश से 168 की जगह 171 वोट मिले हैं। तय उम्मीद से तीन ज्यादा। माना जा रहा है, इनमें एक वोट कांग्रेस और दो वोट बसपा खेमे से आए हैं।
दरअसल, मध्यप्रदेश विधानसभा में विधायकों की कुल संख्या 230 है। लेकिन एक सीट रिक्त होने और नरोत्तम मिश्रा को वोट डालने का अधिकार नहीं होने के कारण 228 विधायकों ने ही वोट किए। भाजपा विधायकों की संख्या 165 है, जबकि तीन निर्दलीय विधायक भी हैं। कांग्रेस के विधायकों की संख्या 56 है और चार विधायक बसपा के हैं। 

Read More

मध्यप्रदेश प्याज घोटाला : नागरिक आपूर्ति निगम के महाप्रबंधक गिरफ्तार

नई दिल्ली: मध्यप्रदेश में  सरकार की प्याज खरीदी की घोषणा के बाद नागरिक आपूर्ति निगम के अफसर, व्यापारी और दलालों के गठजोड़ ने बड़े पैमाने पर प्याज को अपने स्तर से लाखों रुपये कमीशन लेकर बेच डाला. इस मामले के खुलासे के बाद सरकार की नींद टूटी और उसने आनन-फानन में महाप्रबंधक श्रीकांत सोनी को बुधवार रात निलंबित कर दिया और गुरुवार को भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार भी कर लिया गया. 

Read More

पीएफ ने शुरू की निजी कर्मचारियों को होमलोन दिलाने की मुहिम

भोपाल। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ने अब निजी क्षेत्र के कर्मचारियों को 'होमलोन' दिलाने की मुहिम शुरू की है। इसके लिए पीएफ कमिश्नर एवं अन्य अधिकारियों की 'हुडको' सहित शहर की हाउसिंग समितियों से भी चर्चा हुई है। सदस्यों को मकान की किस्त पीएफ के जरिए भरने का विकल्प भी दिया जा रहा है।

भविष्य निधि संगठन ने पहली बार अपने आवासहीन खाताधारियों को मकान दिलवाने की योजना हाथ में ली है। इसमें प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मिलने वाली सुविधाएं भी जोड़ी जा रही है। इससे ब्याज में 4 फीसदी की राहत मिल सकेगी। 

Read More

मूसाखेड़ी में एलजी मार्केट की दुकानों में लगी भीषण आग, देर रात तक नहीं बुझी

इंदौर. मूसाखेड़ी चौराहे पर रविवार देर रात एक मार्केट में भीषण आग लग गई। लोगों ने धुआं और लपटे देखी तो तुरंत फायर ब्रिगेड को कॉल किया। इधर, घटना देख लोगों की भीड़ जमा हो गई। वहीं दुकान के व्यापारी भी मौके पर पहुंचे। 

Read More

गृह मंत्रालय का राज्यों को आदेश- PM मोदी का स्वागत गुलदस्ते से नहीं एक फूल से करें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वागत में गुलदस्ता भेंट करने पर केंद्रीय गृह मंत्रालय ने एक आदेश जारी किया है. आदेश के मुताबिक, पीएम मोदी का स्वागत फूलों का गुलदस्ता देकर नहीं किया जाएगा. गृह मंत्रालय ने ये आदेश सभी राज्यों को जारी किए हैं.

Read More

राष्ट्रपति चुनाव में नहीं डाल पाएंगे वोट, इस्तीफे का भी बढ़ा दबाव

भोपाल पेड न्यूज मामले में चुनाव आयोग की ओर से तीन साल के लिए अयोग्य घोषित किए गए जनसंपर्क मंत्री नरोत्तम मिश्रा को दिल्ली हाईकोर्ट से राहत नहीं मिलने के कारण राष्ट्रपति चुनाव में उनके मतदान करने की सारी संभावनाएं लगभग खत्म हो गई हैं। चुनाव आयोग पहले ही उनको संशोधित मतदान सूची में अयोग्य घोषित कर चुका है। दिल्ली हाईकोर्ट के याचिका खारिज किए जाने के बाद अब नरोत्तम पर मंत्री पद से इस्तीफा देने का दबाव भी बढ़ गया है।

Read More

मध्यप्रदेश : अब 16 जुलाई तक हो सकेगी अफसर,कर्मचारियों की तूमा बदली

भोपाल। मध्यप्रदेश में अब अधिकारियों और सरकारी कर्मचारियों की एक जगह से दूसरी जगह तूमा बदली अब 16 जूलाई तक हो सकेगी। राज्‍य शासन ने स्‍थानान्‍तरण की अवधि एक बार फिर बढ़ा दी हैं। अब 16 जुलाई तक स्‍थानान्‍तरण किये जा सकेंगे। अब तक यह तिथि 10 जुलाई थी। जो 6 दिन यानि 16 जुलाई 2017 हो गयी है।

Read More

पेड न्यूज केस : सुप्रीम कोर्ट पहुंचे नरोत्तम मिश्रा

भोपाल। चुनाव आयोग द्वारा अयोग्य करार दिए जाने के मामले में मप्र सरकार के मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने सुप्रीम कोर्ट की ओर रुख किया है। गौरतलब है कि मप्र हाईकोर्ट इस संबंध में जल्द सुनवाई की याचिका को यह कह कर टाल दिया था इस संबंध में एक याचिका सुप्रीम कोर्ट में भी लगी हुई है इसलिए दोनों याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ही सुनवाई करेगा।

Read More