mp mirror logo

कलेक्टर व नगर निगम आयुक्त ने देखीं प्रस्तावित एवं निर्माणाधीन आवासीय योजनायें

ग्वालियर शहर को मलिन बस्ती व झुग्गी मुक्त बनाने के लिये प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत समेकित कार्ययोजना बनाकर झुग्गीवासियों को आवास मुहैया कराए जायेंगे। इस कार्ययोजना को नगर निगम, ग्वालियर विकास प्राधिकरण, हाउसिंग बोर्ड व साडा मिलकर मूर्त रूप देंगे। समेकित आवासीय कार्ययोजना पर अमल के सिलिसिले में कलेक्टर श्री राहुल जैन एवं नगर निगम आयुक्त श्री विनोद शर्मा ने बुधवार को शहर भ्रमण कर निर्माणाधीन और प्रस्तावित विभिन्न आवासीय परियोजनाओं का जायजा लिया। साथ ही शहर के अन्य विकास कार्य भी देखे। 
   इस अवसर पर जीडीए के सीईओ श्री सुरेश कुमार शर्मा, स्मार्ट सिटी की सीईओ श्रीमती बिदिशा मुखर्जी, साडा सीईओ श्री तरूण भटनागर, एसडीएम श्री महिप तेजस्वी तथा हाउसिंग बोर्ड के उपायुक्त सहित अन्य संबंधित अधिकारी उनके साथ थे। 
   कलेक्टर श्री राहुल जैन ने इस अवसर पर राजस्व व नगर निगम के अधिकारियों को निर्देश दिये कि शहर की सभी झुग्गी व मलिन बस्तियों को नक्शे पर दर्शायें। साथ ही यह भी प्रदर्शित करें कि इन बस्तियों के समीप कहाँ पर आवासीय परियोजनायें धरातल पर लाई जा सकती हैं। उन्होंने कहा कि यदि झुग्गी बस्तियाँ व्यवसायिक महत्व की न हों तो उसी स्थान पर ही आवासीय योजना प्रस्तावित की जा सकती है। श्री जैन ने कहा कि वर्ष-2022 तक प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सभी को आवास मुहैया कराने के लक्ष्य की पूर्ति के लिये नगर निगम, हाउसिंग बोर्ड, साडा व जीडीए अलग-अलग लक्ष्य दिए जायेंगे। 
   मालूम हो वर्ष 2022 तक शहर में कम आय वर्ग के लोगों के लिये प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 64 हजार आवास बनाए जायेंगे। शहर विकास से जुड़ीं सभी एजेन्सियां मिलकर इन आवासों को मूर्त रूप देंगीं। कलेक्टर ने कहा कि हर वित्तीय वर्ष के लिये अलग-अलग लक्ष्य निर्धारित किए जायेंगे। 
   लगभग चार घंटे तक भ्रमण कर कलेक्टर ने नगर निगम, जीडीए, हाउसिंग बोर्ड व साडा की निर्माणाधीन आवासीय योजनायें देखीं। साथ ही आवास निर्माण के लिये प्रस्तावित स्थलों का भी जायजा लिया। इनमें महलगाँव पहाड़ी पर नगर निगम द्वारा  राजीव आवास योजना के तहत निर्माणाधीन आवास, सिंधियानगर आवासीय योजना व शर्मा फार्म के क्षेत्र में कम आयु वर्ग के हितग्राहियों के लिये निर्माणाधीन आवास शामिल हैं। इसके अलावा साडा के अंतर्गत निर्माणाधीन बरा आवासीय योजना और बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन सड़क के समीप सिरोल व मेहरा गाँव के मौजों में प्रस्तावित आवासीय योजना शामिल है। भ्रमण के दौरान कलेक्टर ने आईटी पार्क, एसटीपी पार्क व स्वेज फॉर्म क्षेत्र में प्रस्तावित विकास कार्यों का भी स्थल निरीक्षण किया। 
सरकारी जमीन पर आवासीय कॉलोनी काटने वालों से वसूलें अर्थदण्ड  
पुलिस कार्रवाई भी की जाए
    कलेक्टर श्री राहुल जैन ने सचिव तेंदुलकर मार्ग चौराहे से शुरू हांकर हाईवे को जोड़ने वाले मार्ग (बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन मार्ग) पर सिरोल व मेहरा गाँव मौजे में सरकारी जमीन पर अतिक्रमण पाए जाने पर नाराजगी जाहिर की। उन्होंने इस जमीन से अतिक्रमण हटाने के लिये त्वरित कार्रवाई करने के निर्देश राजस्व एवं नगर निगम के अधिकारियों को दिए। साथ ही कहा कि जिन लोगों ने सरकारी जमीन पर अवैध रूप से आवासीय कॉलोनी काटने की जुर्रत की है, उनकी निजी जमीन कुर्क कर सरकार के प्रावधानों के तहत जमीन की कीमत के अनुपात में 20 प्रतिशत अर्थदण्ड वसूलें। साथ ही दोषियों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई भी की जाए। श्री जैन ने सरकारी जमीन पर अवैध रूप से जमा किए गए निर्माण मटेरियल को भी जब्त करने की हिदायत दी। कलेक्टर ने सिरोल मौजे की जमीन को विभिन्न शासकीय दफ्तरों के लिये आरक्षित करने के निर्देश भी दिए। इनमें संयुक्त संचालक स्कूल शिक्षा व जिला शिक्षा अधिकारी के कार्यालय शामिल हैं। मेहरा गाँव मौजे में निर्माणाधीन आरटीओ ऑफिस के नीचे स्थित सरकारी जमीन नगर निगम को आवासीय योजना के लिये आवंटित करने के निर्देश भी उन्होंने दिए। श्री जैन ने सरकारी जमीन पर अतिक्रमण के प्रति उदासीन रहे पटवारियों के खिलाफ कार्रवाई करने को भी कहा है। 
खास बातें एवं निर्देश
    महलगाँव पहाड़ी पर पूर्ण हो चुके 680 आवासों में चयनित हितग्राहियों को 15 अगस्त तक शिफ्ट करायें।
    एकीकृत मलिन बस्ती कार्यक्रम के तहत सिंधियानगर में निर्मित आवासीय योजना के मकानों में पेयजल व सीवर की समस्या तत्परता से हल करें।
    ट्रांसपोर्टनगर में लगभग 9 करोड़ रूपए की लागत से बनेंगी मुख्य सड़क।
    ट्रांसपोर्ट नगर में जिन दुकानदारों ने लीज रेंट जमा नहीं किया है, उनसे करें वसूली। लीज समाप्त करने की कार्रवाई भी की जाए। कारोबारियों पर लगभग 7 करोड़ रूपए का लीज रेंट बकाया।
    गृह निर्माण मण्डल झाँसी बाइपास हाईवे पर बनायेगा नया ट्रांसपोर्ट नगर।
    पडा़व पर निर्माणाधीन आरओबी का शेष काम तेजी से पूर्ण कराने के निर्देश।

"जिलों से" से अन्य खबरें

एमपी: धर्मांतरण के आरोप में 30 पादरी हिरासत में, थाने पहुंचे ईसाई धर्मगुरुओं की जलाई कार

मध्यप्रदेश के सतना शहर के एक गांव में कैरोल गा रहे 30 से ज्यादा पादरियों और सेमिनरीज को पुलिस ने गुरुवार को हिरासत में ले लिया है।

Read More

इंदौर में टी-20 का जबरदस्त रोमांच : दो घंटे में बिक गए गैलरी के साढ़े पांच हजार टिकट

इंदौर. भारत-श्रीलंका के बीच २२ दिसंबर को होने वाले अंतरराष्ट्रीय टी-२० मुकाबले के टिकटों की ऑनलाइन बिक्री गुरुवार सुबह ६ बजे शुरू हुई। पेटीएम और इनसाइडर वेबसाइट पर बिक्री शुरू होने के महज दो घंटे में ही ईस्ट और वेस्ट गैलरी के करीब ५५०० टिकट बिक गए, जबकि पैवेलियन के महंगे टिकट देर रात तक वेबसाइट पर मौजूद थे।

Read More

आदिवासी मत्स्य उद्योग सहकारी समिति के 40 मत्स्य पालक परिवार हुए आत्मनिर्भर

आदिवासियों में मत्सयपालन की परम्परा प्राचीन काल से ही रही है। आदिवासी परिवार अपने पौष्टिक आहार एवं उत्सव के लिए छोटे-छोटे तालाबों में मत्स्य पालन करते रहे हैं। पुष्पराजगढ जनपद पंचायत के ग्राम पोडकी में जल संसाधन विभाग द्वारा पूर्व के वर्षो में सिंचाई हेतु जोहिला जलाशय का निर्माण कराया गया था। प्रारंभ में इस जलाशय का प्रारंभ में सिंचाई कार्य हेतु उपयोग किया जाता था। जब मत्स्यपालन विभाग के अधिकारियों ने ग्राम के कृषकों को खेती के साथ मत्स्यपालन कर अधिक लाभ कमाने की जानकारी लोगों को दी तो वे तैयार हो गये। 

Read More

प्रगतिशील कृषक भी खुश है भावांतर योजना में मिल रहे लाभ से (सफलता की कहानी)

बड़वानी जिले के ग्राम बगूद रहवासी प्रगतिशील किसान श्री सालिगराम जाट, भावान्तर योजना में मक्का विक्रय पश्चात मिल रही भावान्तर की राशि से प्रसन्न है। उनका कहना है कि मुख्यमंत्री ने इस योजना को लागू कर छोटे-मझले किसानों के उत्पाद पर मिलने वाले लाभ को युक्तियुक्तकरण कर जो दाम दिलवा रहे है, उससे सभी किसान खुश है।

Read More

लगता है कि किसी प्ले स्कूल में आ गए (सफलता की कहानी)

हरदा जिले के खिरकिया तहसील मुख्यालय के एनआरसी सेंटर को देखें तो आपको लगेगा कि किसी प्ले स्कूल में आ गए हों। दीवारों पर जंगली जानवरों का चित्रण। साफ-सुथरे बेड, बच्चे खिलौना गाड़ियों में घूमते हुए। यह खूबसूरत सा एनआरसी सेंटर पिछले नौ सालों से बच्चों के सुपोषण के लिए कार्य कर रहा है। यहाँ एक बार में 20 बच्चों के पोषण की व्यवस्था है। वातावरण हाइजनिक है। यहाँ माँ और बच्चों के रहने-खाने की व्यवस्था है। 

Read More

अभ्यर्थियों को परीक्षा केन्द्र पर मूल प्रवेश पत्र के साथ मूलफोटो पहचान पत्र लाना अनिवार्य रहेगा

कलेक्टर श्री राजेश जैन ने पटवारी भर्ती परीक्षा पूरी गंभीरता एवं सजगता के साथ सम्पन्न कराने के आब्जर्वरों को निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ने इस आशय के निर्देश यहॉं कलेक्ट्रेट में सम्पन्न हुई आब्जर्वरों की बैठक में दिए। यह बैठक पटवारी भर्ती परीक्षा के आयोजन के सिलसिले में आयोजित की गई थी। बैठक में अपर कलेक्टर श्री नियाज अहमदखान, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री सत्येन्द्र सिंह तोमर, संयुक्त कलेक्टर श्री भूपेन्द्र गोयल समेत विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं आब्जर्वर उपस्थित थे। 

Read More

सैनिक का पार्थिव शरीर पहुंचा देवास, गांव में सभी की आंखें नम

देवास। श्रीनगर में हुए एक हादसे में गोली लगने से सैनिक निलेश धाकड़ (26) की मौत हो गई थी। गुरुवार सुबह उनकी पार्थिव देह देवास पहुंची। धाकड़ पांच साल पहले सेना में भर्ती हुए थे। वर्तमान में उनकी पोस्टिंग श्रीनगर में थी। सोनकच्छ तहसील में स्थि‍त उनके गृहग्राम घिचलाय में निलेश धाकड़ को सैनिक सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी जाएगी। गांव के रास्ते में जगह-जगह अंतिम विदाई देने के‍ लिए 50 से अधिक मंच बनाए गए हैं।

Read More

बजरंग इलेवन और केजीएन इलेवन के बीच हुआ रोमांचक मैच

विराट क्रिकेट क्लब शहडोल के तत्वावधान में आज संभागीय मुख्यालय शहडोल के टेक्निक स्कूल ग्राउण्ड में क्वार्टर फायनल क्रिकेट मैच आयोजित हुआ। क्वार्टर फायनल बजरंग इलेवन और केजीएन इलेवन के बीच खेला गया। क्वार्टर फायनल मैच में बजरंग इलेवन की टीम ने पहले बैटिंग करते हुये 150 रन बनाये वहीं लक्ष्य का पीछा करते हुये केजीएन इलेवन की टीम ने 145 रन बनाये। 

Read More

कृषि विज्ञान केन्द्र बड़वानी द्वारा ’’विश्व मृदा दिवस’’ आयोजित किया गया

कृषि विज्ञान केन्द्र बडवानी द्वारा मंगलवार को केन्द्र के सभागार में ’’विश्व मृदा दिवस’’ का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ. डी. के. जैन, प्रभारी वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं प्रमुख ने की साथ ही कार्यक्रम में श्री एन, बी. वर्मा उप परियोजना संचालक (आत्मा), श्री दीपक कुमार बेनल सहायक संचालक (कृषि), श्री कछावा जी एम. पी. एग्रो, डॉ. एस. के. बड़ोदिया एवं झंझाड़ सिहं अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। जिले के प्रगतिशील कृषकों एवं कृषक महिलाओं की भी कार्यक्रम में सक्रिय भागीदारी रही।

Read More

राज्य सेवा के अधिकारियों ने ग्रामीण भ्रमण में देखी व्यवस्थाऐं

प्रशासनिक अकादमिक भोपाल से जिले में राज्य सेवा के प्रशिक्षु अधिकारियों को भेजने की व्यवस्था सुनिश्चित की। इन अधिकारियों ने विगत दिनो ग्राम बिलाव एवं पिथनपुरा भ्रमण के दौरान शासन की योजनाओं की मैदानी हकीकत जानी। साथ ही किसानों की खेती को फायदे का धंधा बनाने की दिशा में क्षेत्रीय किसानों से चर्चा की। 

Read More