mp mirror logo

राष्ट्रपति चुनाव में नहीं डाल पाएंगे वोट, इस्तीफे का भी बढ़ा दबाव

भोपाल पेड न्यूज मामले में चुनाव आयोग की ओर से तीन साल के लिए अयोग्य घोषित किए गए जनसंपर्क मंत्री नरोत्तम मिश्रा को दिल्ली हाईकोर्ट से राहत नहीं मिलने के कारण राष्ट्रपति चुनाव में उनके मतदान करने की सारी संभावनाएं लगभग खत्म हो गई हैं। चुनाव आयोग पहले ही उनको संशोधित मतदान सूची में अयोग्य घोषित कर चुका है। दिल्ली हाईकोर्ट के याचिका खारिज किए जाने के बाद अब नरोत्तम पर मंत्री पद से इस्तीफा देने का दबाव भी बढ़ गया है।
दिल्ली हाईकोर्ट के जस्टिस इंदरमीत कौर की स्पेशल कोर्ट के समक्ष सुनवाई के दौरान गुरुवार को नरोत्तम मिश्रा की तरफ से दलील दी गई थी कि निर्वाचन आयोग ने काफी देर से फैसला लिया और उसे फैसला जल्द सुनाना चाहिए था। कहा गया कि 2008 के विधानसभा चुनाव में छपी खबरें उनके द्वारा सर्कुलेट नहीं की गई थीं। वहीं पूर्व विधायक राजेंद्र भारती की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने कहा था कि निर्वाचन आयोग को जांच तेजी से करना चाहिए, लेकिन इसके लिए कोई समय सीमा तय नहीं है।
लंबा समय बीत जाने का ये मतलब नहीं कि भ्रष्ट आचरण माफ किया जा सकता है। पेड न्यूज का फैसला निर्वाचन आयोग की ओर से गठित विशेषज्ञ समिति ने किया था। नरोत्तम का आरोप था कि चुनाव आयोग ने अधिकार क्षेत्र के बाहर जाकर फैसला सुनाते हुए उन्हें चुनाव लडऩे के अयोग्य घोषित कर दिया। उन्होंने कोर्ट से आग्रह किया था राष्ट्रपति चुनाव को देखते हुए जल्द से जल्द मामले की सुनवाई की जाए।
इस्तीफे का बढ़ा दबाव
अब दिल्ली हाईकोर्ट द्वारा याचिका खारिज किए जाने के साथ ही नरोत्तम पर मंत्री पद से इस्तीफा देने का दबाव बढ़ गया है। विपक्ष उनके इस्तीफे पर अड़ा है। नेताप्रतिपक्ष ने तो यहां तक चेतावनी दी है कि अयोग्य व्यक्ति को सदन में प्रवेश नहीं दिया जाना चाहिए। यदि वे मंत्री के तौर पर आए तो वह सब कुछ होगा जो अभी तक नहीं हुआ।
किसने क्या कहा
हाईकोर्ट के आदेश का अध्ययन करने के बाद ही कुछ कहा जा सकेगा। कोर्ट का आदेश यदि स्पष्ट नहीं होगा तो कानून के जानकारों और संविधान विशेषज्ञों की सलाह ली जाएगी।
– डॉ. सीतासरन शर्मा, अध्यक्ष मप्र विधानसभा
चुनाव आयोग नरोत्तम को अयोग्य घोषित कर चुका है। अब हाईकोर्ट ने भी उनकी याचिका खारिज कर दी, एेसे में उन्हें मंत्री बने रहने का अधिकार नहीं है। वे सदन में भी नहीं बैठ सकते।
– श्रीनिवास तिवारी, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष
नरोत्तम अब न सदन में बैठ सकते हैं और न ही मंत्री बन सकते हैं, क्योंकि वे अयोग्य घोषित हो चुके हैं। मुख्यमंत्री मौन तोड़ें और उनसे तत्काल इस्तीफा लें।
– अजय सिंह, नेता प्रतिपक्ष मप्र विधानसभा
दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर हम विधि विशेषज्ञों से राय ले रहे हैं। हमें ऐसा महसूस होता है कि मिश्रा इस मामले में कहीं दोषी नहीं है इसलिए न्याय प्राप्ति के लिए और क्या-क्या विकल्प हो सकते हैं। उस पर विचार जारी है।
नंदकुमार सिंह चौहानभाजपा प्रदेशाध्यक्ष
मैं हाईकोर्ट का सम्मान करता हूं। दिल्ली हाईकोर्ट की डबल बैंच में अपील करुंगा। यहां से राहत न मिली तो सुप्रीमकोर्ट का दरवाजा खटखटाउंगा।
— नरोत्तम मिश्रा, संसदीय कार्यमंत्री
संविधान के प्रावधानों के तहत राज्यपाल, मुख्यमंत्री एवं विधानसभा अध्यक्ष को उन्हें तत्काल मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर देना चाहिए। पेड न्यूज वाले मामले में यह यह दूसरा फैसला है जिससे चुनाव आयोग की सर्वोच्चता और सर्वमान्यता स्वीकार्य हुई है।
-राजेन्द्र भारती, याचिकाकर्ता एवं पूर्व विधायक
कब क्या हुआ
– 23 जून को चुनाव आयोग ने नरोत्तम मिश्रा को पेड न्यूज का दोषी मानते हुए तीन साल के लिए चुनाव लडऩे से अयोग्य घोषित किया।
– 27 जुलाई को नरोत्तम ग्वालियर हाईकोर्ट बैंच में याचिका दाखिल की। प्रतिद्वंद्वी राजेन्द्र भारती ने कैबिएट लगाई।
– 8 जुलाई को ग्वालियर हाईकोर्ट ने केस जबलपुर हाईकोर्ट स्थानांतरित किया।
– 12 जुलाई को सुप्रीमकोर्ट ने दिल्ली हाईकोर्ट में नरोत्तम की याचिका की सुनवाई के निर्देश दिए।
– 13 जुलाई को चुनाव आयोग ने राष्ट्रपति चुनाव की मतदाता सूची, नरोत्तम को वोट के अधिकार से वंचित किया।
– 14 जुलाई को दिल्ली हाईकोर्ट ने याचिका खारिज कर दी।
सीएम के साथ नंदकुमार व सुहास की चर्चा…
दिल्ली हाईकोर्ट का फैसला आते ही शाम 4 बजे प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान और संगठन महामंत्री सुहास भगत सीएम हाउस रवाना हो गए। वहां एससीएसटी योजनाओं से प्रदेश की पिछड़ी आबादी को जोडऩे वाले पार्टी के अभियान की समीक्षा बैठक में मंत्री नरोत्तम मिश्रा के मुद्दे पर भी चर्चा हुई। सीएम के साथ प्रदेशाध्यक्ष और संगठन महामंत्री ने इस केस की कानूनी बारीकियों पर चर्चा की। सीएम ने प्रदेश संगठन को हरसंभव डैमेज कंट्रोल के लिए कहा। प्रवक्ताओं की टीम को विधि विभाग के जानकारों की राय लेकर मिश्रा के समर्थन में बयान देने को कहा गया है। सीएम को केंद्रीय नेतृत्व को भेजी गई जानकारियों और फीडबैक से भी अवगत कराया गया। बैठक समाप्त होने के बाद प्रदेशाध्यक्ष दिल्ली रवाना हो गए।

"जिलों की ख़बरें" से अन्य खबरें

भाजपा के ‘शाह’ का भोपाल में शाही स्वागत , हुई फूलों की बारिश,

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष अमित शाह तीन दिवसीय यात्रा पर शुक्रवार सुबह भोपाल पहुंचे। इस दौरान कई जगहों पर ढोल-नगाड़ों और फूलों की बारिश कर कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया। युवाओं के जोश और उत्साह का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता था कि 20 मिनट का सफर शाह के काफिले ने लगभग डेढ़ घंटे में पूरा किया।

Read More

अमित शाह खुद तय करेंगे मुद्दे, तीन दिन की बैठकों का कोई एजेंडा नहीं

भोपाल। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और उनकी टीम मप्र की सत्ता और संगठन को कसौटी पर कसेगी। पार्टी के छोटे से छोटे कार्यक्रम से लेकर सत्ता की नीतियों की समीक्षा खुद अमित शाह करेंगे। भाजपा के इतिहास में पहली बार कोई राष्ट्रीय अध्यक्ष तीन दिन के प्रवास पर मप्र आ रहा है। खास बात यह है कि इस प्रवास में होने वाली बैठकों के लिए मप्र के संगठन के पास कोई एजेंडा नहीं है। दरअसल, राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह खुद बैठक के मुद्दे तय करेंगे।

Read More

भाजपा ने दो निकाय गंवाए, कांग्रेस को छह का फायदा

भोपाल। विधानसभा चुनाव के पहले सत्ता का सेमीफाइनल माने जा रहे नगरीय निकाय के चुनाव भाजपा और कांग्रेस के लिए संतोष का सबब रहे। भाजपा ने जहां 25 सीटों पर जीत का परचम लहराया, वहीं कांग्रेस ने वापसी करते हुए 15 जगह पर जीत हासिल की। निर्दलियों के खाते में सिर्फ तीन निकाय रहे। 2012 में हुए चुनाव में भाजपा ने 27, कांग्रेस ने 9, बसपा ने 1 और निर्दलियों ने 6 स्थानों पर जीत हासिल की थी। इस हिसाब से देखा जाए तो फायदे में कांग्रेस ही रही है। ये स्थिति भी तब है जब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कई सभाएं और रोड शो किए।

Read More

अमित शाह रात 9 बजे पहुंचेंगे भोपाल, शिव’राज’ का तैयार होगा रिपोर्ट कार्ड

भोपाल . भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह वर्ष 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में मोदी के नेतृत्व में भाजपा की जीत सुनिश्चित करने के मकसद से देश के सभी राज्यों में कुल 110 दिनों के अपने विस्तृत प्रवास कार्यक्रम के तहत भाजपा अध्यक्ष अमित शाह अपने तीन दिवसीय दौरे पर गुरुवार रात भोपाल आएंगे.

Read More

मध्य प्रदेश नगर निकाय चुनाव 2017: BJP ने जीतीं आधे से ज्यादा सीटें, कांग्रेस दूसरे नंबर पर

मध्य प्रदेश में 43 नगरीय निकाय और पंचायत प्रतिनिधियों के चुनाव की मतगणना बुधवार को भारी सुरक्षा इंतजाम के बीच जारी है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार 25 स्थानों पर आगे हैं, जबकि कांग्रेस के उम्मीदवार 15 स्थानों पर आगे हैं। राज्य निर्वाचन आयोग के कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक, नगरीय निकायों के चुनाव की मतगणना का काम अंतिम चरण में है। 

Read More

श्रीकृष्ण जन्मोत्सव पर भी GST का असर, 55 हजार की बनेगी पोशाक

ग्वालियर। भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव के रूप में मनाई जाने वाली श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर भी इस बार जीएसटी का असर देखने को मिल रहा है। सबसे बड़ा असर तो भगवान श्रीकृष्ण की पोशाक पर दिख रहा है।

शहर में 20 रुपए से लेकर 2 हजार रुपए तक की पोशाक मिल रही है, जबकि इससे अधिक कीमत की पोशाक लोग मथुरा से बनवा रहे हैं। 2 हजार रुपए से अधिक कीमत की अधिकांश पोशाक मंदिरों के लिए बनवाई जा रही है।

Read More

जबलपुर में आग से 30 गैस सिलेंडर फटे, दहशत में गुजरी पूरी रात

जबलपुर। शहर के शारदा चौक इलाके में देर रात का कैटरिंग सर्विस के गोदाम में भीषण आग लग गई, जिससे वहां रखे 30 सिलेंडर एक-एक कर फटने लगे। सिलेंडरों की फटने की तेज आवाज से क्षेत्र में दहशत फैल गई। सूचना मिलने के बाद दकमल की गाड़ि‍यां मौकै पर पहुंची और आग पर काबू पाने का प्रयास शुरू किया। इस दौरान इलाके में बिजली लाइन को बंद कर ब्लैक आउट कर दिया गया।

Read More

प्रदेश के 44 नगरीय निकायों में चुनाव के लिए मतदान जारी

भोपाल। मध्यप्रदेश में 44 नगरीय निकाय में चुनाव के लिए शुक्रवार सुबह से मतदान जारी है। जिसमें 8 लाख 51 हजार से ज्यादा मतदाता वोटिंग करेंगे। चुनाव में अध्यक्ष पद के लिए 206 और पार्षद के लिए 2 हजार 133 उम्मीदवार मैदान में हैं। सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस बल को तैनात किया गया है। केंद्रों में वॉटरप्रूफ टेंट भी लगवाए गए हैं।

Read More

MP भाजपा विधि, झुग्‍गी-झाेपड़ी, चिकित्‍सा प्रकोष्ठ की कार्यसमिति एवं जिला संयोजक घोषित

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के विधि प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक संतोष शर्मा ने प्रदेश कार्यसमिति एवं जिला संयोजकों की घोषणा कर दी है।

विधि प्रकोष्ठ – सह संयोजक एवं कार्यालय प्रभारी श्री नितिन पंडित भोपाल, सह संयोजक श्री कपिल त्यागी विदिशा, श्री शशांक शुक्ला जबलपुर, श्री बनवारीलाल यादव इंदौर, श्री महेन्द्र जैन उज्जैन, श्री राजेन्द्र पटैरिया सागर, श्री दीपक खोत ग्वालियर, सह संयोजक एवं महिला प्रमुख कुं कविता सोनी देवास, कार्यकारिणी सदस्य श्री सुरेन्द्र पाण्डे कटनी, श्री आर.के. अवस्थी दतिया, श्री रमाकांत शर्मा इंदौर, श्री जी.आर. घोरे मुलताई, बैतूल, श्री रमेश फुडंडे बालाघाट, श्री सुनील शर्मा रायसेन, श्री दीपनारायण अमरपाटन, श्री अशोक कुमार तिवारी रीवा, श्री वरूण देव शर्मा ग्वालियर, श्री विवेक शर्मा जबलपुर, सह कार्यालय प्रभारी श्री श्रवण भटनागर भोपाल, श्री अभिजीत सक्सेना भोपाल की घोषणा की है।

Read More

MP के शराब कारोबारियों का इस तरह का है रैकेट, गिरोह के मास्टरमाइंड को पकड़ा

इंदौर.ट्रेजरी चालानों में हेराफेरी कर करोड़ों के राजस्व की चोरी करने वाले प्रदेश के पहले और बड़े जालसाज गिरोह खुलासा हुआ है। आबकारी विभाग ने एक ऐसे जालसाज को पकड़ा, जिसने शहर के नौ शराब ठेकेदारों को फायदा पहुंचाने के लिए उनके द्वारा विभाग में जमा करवाए जाने वाले चालानों में गड़बड़ी कर करीब 25 करोड़ से ज्यादा के राजस्व की चोरी की है।

Read More